"मुसलमान" के अवतरणों में अंतर

आकार में कोई परिवर्तन नहीं ,  5 वर्ष पहले
छो
बॉट से अल्पविराम (,) की स्थिति ठीक की।
(पिछला बदलाव अस्वीकार किया और संजीव कुमार का 2366258 अवतरण पुनर्स्थापित किया)
छो (बॉट से अल्पविराम (,) की स्थिति ठीक की।)
* क़यामत और हिसाब और किताब यानी हयात बाद बाद अल मौत पर विश्वास।
* नमाज़, रोज़ा, ज़कात और उसके (जो नये बूते रखता हो) की फ़र्ज़ियत पर विश्वास।
* फ़रिशतों , पूर्व अम्बिया और पुस्तकों पर विश्वास।
 
उपरोक्त बातों पर विश्वास करने को मुसलमान कहते हैं। उनके अलावा अन्य मतभेद फरोइई और राजनीतिक हैं।