"आकाश" के अवतरणों में अंतर

2 बैट्स् जोड़े गए ,  6 वर्ष पहले
छो
बॉट: अंगराग परिवर्तन
छो (कोष्टक से पहले खाली स्थान छोड़ा।)
छो (बॉट: अंगराग परिवर्तन)
* गगन
 
== भारतीय धर्म-दर्शन में आकाश ==
प्राचीन भारतीय धर्म ग्रंथों के अनुसार सृष्टि का निर्माण पांच तत्वों से हुआ माना जाता है जिनमें कि एक आकाश है (बाकी चार हैं-पृथ्वी, वायु, जल, अग्नि)। यदि तुलना की जाए तो भारतीय धर्म-दर्शन में वर्णित आकाश की अवधारणा वर्तमान वैज्ञानिक ज्ञान और शब्दावली के एक अयाम "स्थान" (स्पेस) के निकट प्रतीत होता है। इसका एक उदाहरण [[अष्टावक्र गीता]] का निम्न श्लोक हैं-