"विशाल-शेखर": अवतरणों में अंतर

आकार में बदलाव नहीं आया ,  8 वर्ष पहले
छो
बॉट से अल्पविराम (,) की स्थिति ठीक की।
छो (सन्दर्भ की स्थिति ठीक की।)
छो (बॉट से अल्पविराम (,) की स्थिति ठीक की।)
}}
 
'''''विशाल-शेखर'' ''' हिन्दी फिल्मों के संगीत निर्देशन की एक जोड़ी है ('''विशाल डडलानी''' और '''शेखर रवजियानी''' ). उनकी जोड़ी ने कई फिल्मों में सफल संगीत निर्देशन किया है जिसमें शामिल है ''[[झंकार बीट्स (2003 फ़िल्म)|झनकार बीट्स]]'' , ''[[ओम शांति ओम (२००७ फ़िल्म)|ओम शांति ओम]]'' , ''तारा रम पम'' , ''सलाम नमस्ते'' , ''[[दस]]'' , ''ब्लफमास्टर'' , ''टशन'' , ''बचना ऐ हसीनों'' , ''[[दोस्ताना (2008)|दोस्ताना]]'' , ''आई हेट लव स्टोरिज'' , ''अंजाना अंजानी'' और ''ब्रेक के बाद'' .
 
इस जोड़ी ने ख्याति तब पाई जब उन्होंने ''[[झंकार बीट्स (2003 फ़िल्म)|झनकार बीट्स]]'' फिल्म के लिए संगीत बनाया, जिसमें शामिल था हिट गाना ''तू आशिकी है'' . उनकी मेहनत तब रंग लाई जब उन्होंने ''झनकार बीट्स'' के लिए फिल्मफेयर आरडी बर्मन अवार्ड फॉर न्यू म्यूज़िक टेलेंट जीता. फिल्म ''मुसाफिर'' का संगीत युवाओं के बीच काफी लोकप्रिय हुआ. उन्होंने भारतीय ध्वनियों के साथ तकनीकी संगीत का अनोखा मेल किया. इस फिल्म के स्कोर में शामिल था सफल गीत ''साकी'' और ''दूर से पास'' . इन संगीत महारथियों की जोड़ी के लिए 2005 का साल काफी अच्छा रहा क्योंकि इस वर्ष इन्होंने तीन हिट फिल्मों के लिए संगीत दिया ''सलाम नमस्ते'' , ''[[दस]]'' और ब्लफमास्टर.
 
विशाल डडलानी मुंबई आधारित इलेक्ट्रॉनिक बैंड पेंटाग्राम के गायक भी हैं और कुछ समय के लिए चैनल V में VJ थे. विशाल अभी भी भारतीय रॉक बैंड पेंटाग्राम का एक हिस्सा हैं.