"बांग्ला भाषा आन्दोलन": अवतरणों में अंतर

छो
बॉट: अंगराग परिवर्तन
No edit summary
छो (बॉट: अंगराग परिवर्तन)
यह आन्दोलन अन्ततः [[बांग्लादेश मुक्ति संग्राम]] में परिणित हो गया। १९७१ में इसी के चलते [[भारत]] और पाकिस्तान में युद्ध हुआ और बांग्लादेश मुक्त हुआ। बांग्लादेश में २१ फरवरी को 'भाषा आन्दोलन दिवस' के रूप में याद किया जाता है तथा इस दिन राष्ट्रीय अवकाश रहता है। इस आन्दोलन तथा इसके शहीदों की स्मृति में ढाका मेडिकल कॉलेज के निकट 'शहीद मिनार' का निर्माण किया गया।
 
== बाहरी कड़ियाँ==
*[http://www.mohallalive.com/2012/02/23/about-mother-tongue-day-in-bangladesh/ मातृभाषा के लिए क्‍या हम आधी रात में जग सकते हैं?]
*[http://www.prabhasakshi.com/ShowArticle.aspx?ArticleId=130320-104847-330010 पहचान के लिए संघर्ष कर रहा है बांग्लादेश]