"अटलांटिक महासागर" के अवतरणों में अंतर

छो
बॉट: अनावश्यक अल्पविराम (,) हटाया।
छो (Bot: Migrating 175 interwiki links, now provided by Wikidata on d:q97 (translate me))
छो (बॉट: अनावश्यक अल्पविराम (,) हटाया।)
== नितल <!-- की संरचना --> ==
[[चित्र:Atlantic bathymetry.jpg|thumb|left|सागर की गहराइयां दिखाता मानचित्र]]
अन्ध महासागर के नितल के प्रारंभिक अध्ययन में जलपोत चैलेंजर (१८७३-७६) के अन्वेषण अभियान के ही समान अनेक अन्य वैज्ञानिक महासागरीय अन्वेषणों ने योग दिया था। अन्ध महासागरीय विद्युत केबुलों की स्थापना के हेतु आवश्यक जानकारी की प्राप्ति ने इस प्रकार के अध्यायों को विशेष प्रोत्साहन दिया। इसका नितल इस महासागर के एक कूट द्वारा पूर्वी और पश्चिमी द्रोणियों में विभक्त है। इन द्रोणियों में अधिकतम गहराई १६,५०० फीट से भी अधिक है। पूर्वोक्त समुद्रांतर कूट काफी ऊँचा उठा हुआ है और आइसलैंड के समीप से आरंभ होकर ५५°डिग्री दक्षिण [[अक्षांश]] के लगभग स्थित बोवे द्वीप तक फैला है। इस महासागर के उत्तरी भाग में इस कूट को डालफिन कूट और दक्षिण में चैलेंजर कूट कहते हैं। इस कूट का विस्तार लगभग १०,००० फुट की गहराई पर अटूट है और कई स्थानों पर कूट सागर की सतह के भी ऊपर उठा हुआ है। अज़ोर्स, [[सेंट पॉल]], असेंशन, [[ट्रिस्टाँ द कुन्हा]], और बोवे द्वीप इसी कूट पर स्थित है। निम्न कूटों में [[अंध महासागर|दक्षिणी अंध महासागर]] का वालफिश कूट और रियो ग्रैंड कूट, तथा [[अंध महासागर|उत्तरी अंध महासागर]] का वाइविल टामसन कूट उल्लेखनीय हैं। ये तीनों निम्न कूट मुख्य कूट से लंब दिशा में फैले हैं।
 
[[चित्र:Porto Covo pano April 2009-4.jpg|thumb|250px|[[पुर्तगाल]] के पश्चिमी तट से अंध महासागर का दृश्य]]