"प्रोपेन": अवतरणों में अंतर

6 बैट्स् जोड़े गए ,  7 वर्ष पहले
छो
बॉट: लाघव चिह्न (॰) का उचित प्रयोग।
छो (सन्दर्भ की स्थिति ठीक की।)
छो (बॉट: लाघव चिह्न (॰) का उचित प्रयोग।)
 
== इतिहास ==
अमेरिकी | ropane पहले [[पेट्रोल]] में एक अस्थिर घटक डॉ.डॉ॰ द्वारा [[वाल्टर ओ Snelling]] [[संयुक्त राज्य अमेरिका के ब्यूरो ऑफ माइन्स के रूप में पहचान की थी खान ब्यूरो] 1910 में. इन लाइटर की अस्थिरता [[हाइड्रोकार्बन]] उन्हें अपरिष्कृत गैसोलीन की उच्च वाष्प के दबाव की वजह से "जंगली" के रूप में जाना जाता है कारण होता है. 31 मार्च को'' [[न्यूयॉर्क टाइम्स]]'' तरलीकृत गैस के साथ डॉ.डॉ॰ Snelling काम पर और कहा कि रिपोर्ट "एक इस्पात बोतल पर्याप्त [] गैस के लिए तीन सप्ताह के लिए एक साधारण घर की रोशनी ले जाएगा."<ref> {{अदालत में तलब समाचार | शीर्षक = इस्पात की बोतल में गैस संयंत्र, डॉ.डॉ॰ Snelling प्रक्रिया तरल रूप में महीने की आपूर्ति देता है. न्यूयॉर्क टाइम्स | दिनांक = 1 अप्रैल, 1912 | पृष्ठ = 9 | accessdate 2007/12/22 =}} </ ref>
 
यह इस समय के दौरान था कि डा. Snelling, फ्रैंक पी. पीटरसन, चेस्टर केर, और आर्थर केर के साथ सहयोग में, प्राकृतिक पेट्रोल के शोधन के दौरान एल.पी. गैसों दव्र बनाना तरीकों से बनाया है. साथ में वे अमेरिकन गसोल कं, प्रोपेन की पहली व्यावसायिक विपणन की स्थापना की. डा. Snelling 1911 द्वारा अपेक्षाकृत शुद्ध प्रोपेन का उत्पादन किया था, और 25 मार्च, 1913 पर उसके प्रसंस्करण और एल.पी. गैसों के उत्पादन की विधि 1,056,845 # पेटेंट जारी किया गया था<ref> {{cite web | शीर्षक = प्रोपेन का इतिहास | url = http: / / www.npga.org/i4a/pages/index.cfm?pageid=634 | = राष्ट्रीय प्रोपेन गैस एसोसिएशन | accessdate 2007/12/22 =}} </ ref> संपीड़न के माध्यम से एल.पी. गैस उत्पादन का एक अलग तरीका था फ्रैंक पीटरसन के द्वारा बनाई गई और 1912 में पेटेंट कराया.