"सिद्धगिरि ग्रामजीवन संग्रहालय": अवतरणों में अंतर

छो
बॉट: अंगराग परिवर्तन।
छो (बॉट: अंगराग परिवर्तन।)
गाँव के घरों का घर-आँगन और विभिन्न कार्य करते लोग, लेकिन सब कुछ स्थिर ...ठहरा हुआ फिर भी एकदम सजीव, जीवंत।
 
== परिचय ==
महाराष्ट्र में कोल्हापुर को न सिर्फ दक्षिण की ‘काशी,’ बल्कि महालक्ष्मी मां के आवास के रूप में भी जाना जाता है। यहां के प्राचीन मंदिर देश-विदेश के पर्यटकों के आकर्षण का विषय हैं। कोल्हापुर से केवल दस किलोमीटर की दूरी पर एक छोटा-सा शांत गांव है - कनेरी, जहां पर बना है देश के प्राचीनतम मठों में गिना जाने वाला ‘सिद्धगिरी मठ।’
 
इसके प्रबंधक इसे खुला प्रदर्शन परिसर कहना पसंद करते हैं, जहां की मूर्तियां बारिश, गर्मी आदि को झेलने के बावजूद अपनी चमक बनाए हुई हैं।
 
== बाहरी कड़ियाँ==
*[http://www.bhartiyapaksha.com/?p=12032 समाज की साधना को समर्पित एक मठ] (भारतीय पक्ष)
*[http://www.bhartiyapaksha.com/?p=12018 कोल्हापुर में होगा चौथा भारत विकास संगम] (भारतीय पक्ष)