"सिद्धान्त शिरोमणि" के अवतरणों में अंतर

छो
बॉट: अंगराग परिवर्तन।
छो (विराम चिह्न की स्थिति सुधारी।)
छो (बॉट: अंगराग परिवर्तन।)
—(सिद्धान्त शिरोमणि गोलाध्याय-भुवनकोष- १३)
 
== भाष्य ==
स्वयं भास्कराचार्य ने सिद्धान्त शिरोमणि के पद्यात्मक गणित सिद्धान्तों को स्पष्ट करने के लिये ''''वासनाभाष्य''' नामक टीका लिखी है।