"आयरलैण्ड गणराज्य" के अवतरणों में अंतर

छो
बॉट: डॉट (.) के स्थान पर पूर्णविराम (।) और लाघव चिह्न प्रयुक्त किये।
छो (बॉट: अनावश्यक अल्पविराम (,) हटाया।)
छो (बॉट: डॉट (.) के स्थान पर पूर्णविराम (।) और लाघव चिह्न प्रयुक्त किये।)
 
== कृषि एवं उद्योग ==
आयरिश कृषि मुख्यतः वनस्पति पर आधारित उद्योग के रूप विकसित हुई है। भूमि के एक बड़े भाग को पशुओं के चारे और भूसे के लिए दिया गया है। सन १९९८ में आयरलैंड की पूरी भूमि के क्षेत्रफल का केवल १९,५% भाग ही खेती और पशुओं के चारे के लिए उपयोग में लाई जा रही थी। लगभग ६% भूमि पर अनाज जैसे गेहूँ, जौ, मक्का आदि अनाज उगाए गए थे, १,५% भूमि पर हरी फसलों का उत्पादन हो रहा था अर्थात् भूमि का एक बड़ा भाग पशु-पालन में उपयोग हो रहा है। इसका कारण यह है कि पशु-पालन यहाँ की निर्यात-आय का मुख्य स्रोत है। पशुओं का माँस और उनसे बनने वाले डेयरी उत्पादन को यहाँ से अन्य देशों को निर्यात किया जाता है। उत्पादन कीमतों का ६०% गाय के माँस और दुग्ध उत्पादन से ही पूरा होता है। आयरलैंड विश्व में सबसे बड़े बीफ उत्पादक देश कि रूप में विकसित हो रहा है। आयरलैंड में लगभग १३०,००० किसान हैं। सन २००२ के ऑकड़ों के अनुसार १३% किसान ३५ वर्ष से कम उम्र के है, ४६% किसान ३५ और ५५ वर्ष के उम्र के बीच है, २१% किसान ५५ और ६५ वर्ष के उम्र के बीच है और २०% किसान ६५ वर्ष से अधिक उम्र के है। एक समय था जब कृषि भूमि का मालिक होना अमीर होने का प्रतीक था और आय का मुख्य स्रोत भी था। इस सर्वे से यह अनुमान लगाया जा सकता है कि कृषि के प्रति युवाओं का आर्कषण कम होता जा रहा है। वे नौकरी या स्वयं के व्यवसाय में अधिक रूचि ले रहे है। यहाँ का मुख्य रूप से उद्योग कपड़े पर छपाई, दवा और मछली-पालन है। इसके साथ खान-पान की वस्तुओं की पैकिंग और वितरण उद्योग भी है जिसके लिए यहाँ एक एफ.डी.आई.आई.आई।आई। व्यापार संगठन बनाया गया है जिसका इन उद्योगों पर नियन्त्रण रहता है।
== शिक्षा ==
आयरलैंड में शिक्षा प्राइमरी, सेकेण्डरी और हाइयर तीन स्तरों पर निधारित की गयी है। पिछले कुछ वर्षो में उच्च शिक्षा के क्षेत्र में बहुत अधिक विकास हुआ है। सन १९६० में हुए आर्थिक विकास के कारण शिक्षा प्रणाली में सुधार के अनेक परिवर्तन हुए है। यहाँ सभी स्तरों पर शिक्षा निशुल्क है परन्तु यह सुविधा केवल कुछ देशों के विद्यार्थियों के लिए ही है। आयरलैंड में शिक्षा प्राइमरी, सेकेण्डरी और हाइयर तीन स्तरों पर निधारित की गयी है। पिछले कुछ वर्षो में उच्च शिक्षा के क्षेत्र में बहुत अधिक विकास हुआ है। सन १९६० में हुए आर्थिक विकास के कारण शिक्षा प्रणाली में सुधार के अनेक परिवर्तन हुए है। यहाँ सभी स्तरों पर शिक्षा निशुल्क है परन्तु यह सुविधा केवल ई० यू० देशों के विद्यार्थियों के लिए ही है। प्रारंभिक शिक्षा सभी स्कूलों में दी जाती है जिसका उद्देश्य प्रत्येक बच्चे का शारीरिक, बौद्धिक और मानसिक विकास करना है। यह शिक्षा मुख्यतः नेशनल स्कूल, मल्टीडोमिनेशनल स्कूलों में दी जाती हैं। अधिकाश विद्यार्थी सेकेंडरी स्कूल तक की शिक्षा पूरी करते ही हैं। यह शिक्षा मुख्यत, मल्टीस्कूल, कम्प्रीहेंसिव स्कूल, वोकेशनल या वोलेनटरी स्कूलों में पूरी की जाती है। अधिकांश विद्यार्थी १२-१३ वर्ष की उम्र में प्रवेश लेते है और १७-१९ वर्ष की उम्र में वे लीविग सर्टिफिकेट परीक्षा देकर सेकेंडरी शिक्षा समाप्त कर लेते है। आयरलैंड में उच्च शिक्षा के क्षेत्र में अनेक विश्वविद्यालय और संस्थाए है जिनकी गणना विश्व की सबसे अच्छी संस्थाओं में होती है। टॉप यूनिवर्सिटी.काम वेबसाइट २००८ के आँकड़ों के अनुसार यूनिवर्सिटी ऑफ डवलिन ट्रिनिटी कॉलेज को विश्व के सर्वश्रेष्ठ विश्वविद्यालयों में ४९वें स्थान पर, यूनिवर्सिटी कालेज डबलिन को १०८वें स्थान पर, यूनिवर्सिटी कालेज कार्क को २२६ स्थान पर, डबलिन सिटी विश्वविद्यालय को ३०२ स्थान पर और डबलिन यूनिवर्सिटी आफ टेक्नालाजी ३२८ स्थान पर प्रदर्शित किया गया हैं।