मुख्य मेनू खोलें

बदलाव

छो
बॉट: चिप्पियों में माह नाम का लिप्यंतरण किया।
|fatalities=Approximately 3,000 (including 19 hijackers)
|injuries=More than 6,000
|perps=[[al-Qaeda]] led by [[Osama bin Laden]]<ref name="cbc-2004">{{Cite news|title = Bin Laden claims responsibility for 9/11|publisher = CBC News|date= Octoberअक्टूबर 29, 2004|url = http://www.cbc.ca/world/story/2004/10/29/binladen_message041029.html|accessdate = January 11, 2009 |quote=al-Qaeda leader Osama bin Laden appeared in a new message aired on an Arabic TV station Friday night, for the first time claiming direct responsibility for the 2001 attacks against the United States.}}</ref><br /><small>(see also [[Responsibility for the September 11 attacks|Responsibility]] and [[Hijackers in the September 11 attacks|Hijackers]])</small>
}}
{{Campaignbox al-Qaeda attacks}}
 
अमेरिका के बाहर, आतंकवाद पर अमेरिकी वैश्विक युद्ध का दूसरा सबसे बड़ा ऑपरेशन तथा आतंकवाद से सीधे जुड़ा सबसे बड़ा ऑपरेशन, अमेरिका के नेतृत्व वाले गठबंधन द्वारा [[अफ़्गानिस्तान|अफगनिस्तान]] से [[तालेबान आन्दोलन|तालिबान]] शासन को उखाड़ फेंकना था। संयुक्त राज्य अमेरिका अपनी सैन्य तैयारी बढ़ाने वाला अकेला देश नहीं था, अन्य उल्लेखनीय उदाहरण हैं [[फ़िलीपीन्स|फिलीपीन्स]]
और [[इण्डोनेशिया।इंडोनेशिया]], वे देश जिनमें इस्लामी आतंकवाद के साथ उनके अपने अंदरूनी संघर्ष हैं।<ref>{{Cite journal|author = C. S. Kuppuswamy |title = Terrorism in Indonesia : Role of the Religious Organisation |publisher = South Asia Analysis Group |date= Novemberनवम्बर 2, 2005 |url = http://www.saag.org/%5Cpapers16%5Cpaper1596.html |accessdate =July 6, 2007 |archiveurl = http://web.archive.org/web/20070611032357/http://www.saag.org/papers16/paper1596.html <!-- Bot retrieved archive --> |archivedate = June 11, 2007}}</ref><ref>{{Cite book|last=Banlaoi |first=Rommel |contribution=Radical Muslim Terrorism in the Philippines |year=2006 |title=Handbook on Terrorism and Insurgency in Southeast Asia |editor-last=Tan |editor-first=Andrew |place=London |publisher=Edward Elgar Publishing}}</ref>
 
=== घरेलू प्रतिक्रिया ===
 
हमलों के पीड़ितों की सहायता के लिए कई राहत कोष तत्काल स्थापित किए गए, जिनहें हमलों में जीवित बचे लोगों तथा हमलों के शिकारों के परिवारों, जैसे 9/11 का परिवार गठबंधन, को आर्थिक सहायता प्रदान करने का कार्य सौंपा गया। शिकारों की क्षतिपूर्ति की समय सीमा, 11 सितम्बर 2003 तक मारे गए लोगों के परिवारों से 2,833 आवेदन प्राप्त हो चुके थे।<ref>{{Cite news|last = Barrett
|first = Devlin |title = 9/11 Fund Deadline Passes |publisher =CBS News |date= Decemberदिसम्बर 23, 2003 |url = http://www.cbsnews.com/stories/2004/01/16/national/main593715.shtml |accessdate = September 8, 2006}}</ref>
 
{{Listen |pos=left |filename=GWBush Oval Office Address 20010911-1-.ogg |title=Statement by the American President in his Address to the Nation |description=George W. Bush's address to the people of the United States, September 11, 2001, 8:30pm EDT. |format=[[Ogg]]}}
सरकार की निरंतरता और नेताओं की निकासी के लिए आपात योजनाओं को हमलों के लगभग तुरंत बाद कार्यान्वित कर दिया गया था।<ref name="Commission"/> हालांकि कांग्रेस को फरवरी 2002 तक नहीं बताया गया था कि संयुक्त राज्य अमेरिका सरकार की निरंतरता स्थिति के अधीन था।<ref>{{Cite news|title = 'Shadow Government' News To Congress |publisher = CBS News |date= Marchमार्च 2, 2002 |url = http://www.cbsnews.com/stories/2002/03/01/attack/main502530.shtml |accessdate = September 8, 2006}}</ref>
 
अमेरिका के अंदर, मातृभूमि सुरक्षा विभाग का सृजन करते हुए, कांग्रेस ने मातृभूमि सुरक्षा अधिनियम 2002 पारित किया और राष्ट्रपति बुश ने उस पर हस्ताक्षर किए, इससे समकालीन इतिहास का अमेरिकी सरकार का सबसे बड़ा पुनर्गठन हुआ। कांग्रेस ने यूएसए पैट्रियट एक्ट भी यह कहते हुए पारित किया, कि इससे आतंकवाद और अन्य अपराधों का पता लगाने तथा मुकदमा चलाने में सहायता मिलेगी।
दुनिया भर में जन माध्यमों और सरकारों द्वारा हमलों की निंदा की गई। दुनिया भर में, राष्ट्रों ने अमेरिका के पक्ष में समर्थन और एकजुटता की पेशकश की।<ref>{{Cite web|last=Hertzberg |first=Hendrik |title=Lost love |publisher=[[The New Yorker]] |url=http://www.newyorker.com/archive/2006/09/11/060911ta_talk_hertzberg |date=सितंबर 11, 2006 |accessdate=May 19, 2008}}</ref> अधिकांश मध्य पूर्वी देशों में नेताओं और अफगानिस्तान ने, हमलों की निंदा की। तत्काल आधिकारिक बयान "अमेरिकी काउबॉय अपने मानवता के प्रति अपराधों के फल काट रहे हैं" के साथ इराक एक उल्लेखनीय अपवाद था।<ref>{{Cite news|title=Attacks draw mixed response in Mideast |url=http://archives.cnn.com/2001/WORLD/europe/09/12/mideast.reaction/index.html |publisher=CNN.com|date=सितंबर 12, 2001|accessdate=March 30, 2007}}</ref>
 
हमलों के बाद [[अफ़्गानिस्तान|अफगानिस्तान]] के दसियों हजारों लोगों ने संयुक्त राज्य अमेरिका द्वारा प्रतिक्रिया के डर से पलायन करने का प्रयास किया। पाकिस्तान जो पहले से ही पिछले अफगान संघर्ष से कई अफगान शरणार्थियों का घर बना हुआ था, ने 17 सितंबर को अफगानिस्तान के साथ अपनी सीमा बंद कर दी. हमलों के लगभग एक महीने बाद, संयुक्त राज्य अमेरिका ने [[अल कायदा]] को शरण देने के लिए [[तालेबान आन्दोलन|तालिबान]] शासन को हटाने में अंतरराष्ट्रीय बलों के एक व्यापक गठबंधन का नेतृत्व किया।<ref>{{Cite news|title=U.S. President Bush's speech to United Nations |publisher=CNN |date= Novemberनवम्बर 10, 2001 |url=http://archives.cnn.com/2001/US/11/10/ret.bush.un.transcript/index.html |accessdate=April 14, 2008}}</ref> [[पाकिस्तान]] के अधिकारी अनिच्छा<ref name="dawn.com">[http://www.dawn.com/wps/wcm/connect/dawn-content-library/dawn/news/pakistan/06-musharraf-bullied-into-supporting-war-on-terror-rs-03 पाकिस्तान|मुशर्रफ आतंक के खिलाफ युद्ध के समर्थन में अभित्रस्त.] डॉन.कॉम (09-12-2009). 16-03-2010 को पुनःप्राप्त.</ref> से तालिबान के खिलाफ युद्ध में संयुक्त राज्य अमेरिका के साथ पंक्तिबद्ध हुए।<ref name="dawn.com"/> पाकिस्तान शासन ने संयुक्त राज्य अमेरिका को तालिबान ठिकानों पर हमले के लिए अपने सैन्य हवाई अड्डे और सैन्य अड्डे उपलब्ध करवाए तथा 600 से अधिक संदिग्ध अल-कायदा सदस्यों को गिरफ्तार किया, जिन्हें उसने अमेरिका को सौप दिया।<ref>{{Cite news|last = Khan |first = Aamer Ahmed |title = Pakistan and the 'key al-Qaeda' man |publisher = BBC |date= Mayमई 4, 2005 |url = http://news.bbc.co.uk/1/hi/world/south_asia/4513281.stm |accessdate = September 8, 2006}}</ref>
 
कनाडा, चीन, ब्रिटेन, फ्रांस, रूस, जर्मनी, भारत और [[पाकिस्तान]] सहित कई देशों ने आतंकवाद विरोधी विधेयक पेश किए और अल कायदा से संबंधों के संदिग्ध व्यापारिक और निजी बैंक खातों पर रोक लगा दी गई।<ref>{{Cite web|last=Hamilton |first=Stuart |title=September 11, the Internet, and the effects on information provision in Libraries |work=68th IFLA Council and Conference |date=अगस्त 24, 2002 |url=http://www.ifla.org/IV/ifla68/papers/156-079e.pdf |format=PDF |accessdate=September 8, 2006}}</ref><ref>{{Cite web|url=http://www.g8.fr/evian/english/navigation/g8_documents/archives_from_previous_summits/kananaskis_summit_-_2002/g8_counter-terrorism_cooperation_since_september_11th_backgrounder.html |title=G8 counter-terrorism cooperation since September 11 backgrounder |accessdate=September 14, 2006 |publisher=Site Internet du Sommet du G8 d'Evian}}</ref> इटली, [[मलेशिया]], [[इण्डोनेशिया।इंडोनेशिया]] और [[फ़िलीपीन्स|फिलीपींस]] सहित अनेक देशों की कानून प्रवर्तन तथा खुफिया एजेंसियों ने दुनिया भर में उग्रवादियों के ठिकाने तोड़ने के घोषित उद्देश्य के लिए, संदिग्ध आतंकवादियों को गिरफ्तार कर लिया था।<ref>{{Cite web|last = Walsh |first = Courtney C |title = Italian police explore Al Qaeda links in cyanide plot |publisher = Christian Science Monitor |date= Marchमार्च 7, 2002 |url = http://www.csmonitor.com/2002/0307/p07s02-woeu.html |accessdate =September 8, 2006}}</ref><ref>{{Cite news|title = SE Asia unites to smash militant cells |publisher = CNN |date= Mayमई 8, 2002 |url=http://edition.cnn.com/2002/WORLD/asiapcf/southeast/05/07/seasia.terror.pact/ |accessdate = September 8, 2006}}</ref>
 
इसने अमेरिका में कुछ विवाद पैदा कर दिए, जैसे बिल ऑफ राइट्स डिफेंस कमिटी जैसे आलोचकों का तर्क है कि संघीय निगरानी पर पारंपरिक प्रतिबंध (जैसे सार्वजनिक बैठकों की कोइनटेलप्रो (COINTELPRO) द्वारा निगरानी) यूएसए पैट्रिअट एक्ट द्वारा तार-तार हो गया है।<ref>{{Cite web|last = Talanian |first = Nancy |title = A Guide to Provisions of the USA Patriot Act and Federal Executive Orders that threaten civil liberties |publisher = Bill of Rights Defense Committee |year= 2002 |url = http://www.bordc.org/resources/repeal.pdf |format = PDF |accessdate = September 8, 2006}}</ref> अमेरिकन सिविल लिबर्टीज यूनियन और लिबर्टी जैसे संगठनों ने तर्क दिया कि कुछ नागरिक अधिकार संरक्षण भी अवरुद्ध हो रहे थे।<ref>{{Cite web|url=http://action.aclu.org/reformthepatriotact/primer.html |title=Reform the Patriot Act – Do not Expand It! |publisher=[[American Civil Liberties Union]] |accessdate=September 14, 2006 |archiveurl = http://web.archive.org/web/20060911092607/http://action.aclu.org/reformthepatriotact/primer.html <!-- Bot retrieved archive --> |archivedate = September 11, 2006}}</ref><ref>{{Cite web|url=http://www.liberty-human-rights.org.uk/issues/2-terrorism/index.shtml |title=Liberty – Protecting Civil Liberties Promoting Human Rights : Terrorism |publisher=[[Liberty (pressure group)|Liberty]] |accessdate=September 14, 2006}}</ref>
ट्विन टॉवर्स और 7 डब्लूटीसी (7 WTC) के ढहने की एक संघीय तकनीकी भवन एवं अग्नि सुरक्षा जांच, संयुक्त राज्य अमेरिका के वाणिज्य विभाग के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ स्टैंडर्ड्स एंड टेक्नोलोजी (एनआईएसटी (NIST)) द्वारा की गई। इस जांच के लक्ष्य थे, यह निर्धारित करना कि इमारत क्यों ढही, चोटों और मृत्यु की सीमा, वर्ल्ड ट्रेड सेंटर के डिजाइन और प्रबंधन में अपनाई गई प्रक्रिया।<ref name="NISTInvest">{{Cite web|title=NIST’s World Trade Center Investigation |url=http://www.nist.gov/public_affairs/factsheet/nist_investigation_911.htm |work=National Institute of Standards and Technology |publisher=U.S. Department of Commerce |date=December 14, 2007 |accessdate=May 3, 2008}}</ref> 1 डब्ल्यूटीसी (1 WTC) और 2 डब्ल्यूटीसी (2 WTC) के ढहने की जांच अक्टूबर 2005 में संपन्न हुई थी और के 7 डब्ल्यूटीसी (7 WTC) के ढहने की जांच अगस्त 2008 में संपन्न हुई.<ref>{{Cite web|url=http://wtc.nist.gov/reports_october05.htm |title=Final Reports of the Federal Building and Fire Investigation of the World Trade Center Disaster |date=जून 8, 2006 |accessdate=April 30, 2008 |work=[[National Institute of Standards and Technology]] |publisher=[[United States Department of Commerce]]}}</ref><ref name="NISTTheory">{{Cite web|url=http://www.nist.gov/public_affairs/releases/wtc082108.html |title=NIST WTC 7 Investigation Finds Building Fires Caused Collapse |date=अगस्त 21, 2008 |accessdate=August 22, 2008 |work=[[National Institute of Standards and Technology]] |publisher=[[United States Department of Commerce]]}}</ref>
 
रिपोर्ट में निष्कर्ष निकाला गया है कि ट्विन टॉवर्स की [[इस्पात|स्टील]] अवसंरचना की अग्निरोधकता विमानों की आरंभिक टक्कर में उड़ गई थी, यदि ऐसा नहीं हुआ होता तो संभवतः टॉवर्स खड़े रहे होते.<ref name="NISTCollapse">{{Cite book|author=National Construction Safety Team |url=http://wtc.nist.gov/NISTNCSTAR1CollapseofTowers.pdf |title=Final Report on the Collapse of the World Trade Center Towers |work=National Institute of Standards and Technology|publisher=United States Department of Commerce |chapter=Executive Summary |month=September|year=2005| accessdate=May 21, 2008|format=PDF}}</ref> पर्ड्यू विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं द्वारा प्रकाशित एक अध्ययन में पुष्टि की गई है कि, अगर मुख्य स्तंभों पर से उष्मीय रोधन को रगड़ कर साफ कर दिया गया होता और स्तंभ तापमान को लगभग{{convert|700|C|F}} तक बढ़ा दिया गया होता, तो ढहना आरंभ करने के लिए अग्नि ही पर्याप्त होती.<ref>{{Cite journal|last1=Irfanoglu|first1=Ayhan|last2=Hoffmann|first2=Christoph M.|title=An Engineering Perspective of the Collapse of WTC-I|journal=Journal of Performance of Constructed Facilities|volume=22|year=2008|issue=62}}</ref><ref>{{Cite news|title = Purdue creates scientifically based animation of 9/11 attack|last = Tally|first = Steve|publisher = Purdue News Service|url = http://news.uns.purdue.edu/x/2007a/070612HoffmannWTC.html |date= Juneजून 12, 2007|accessdate = August 29, 2008}}</ref>
 
मूल जांच के निदेशक डब्ल्यू जीन कॉर्ली ने टिप्पणी की कि "टावरों ने वास्तव में आश्चर्यजनक रूप से अच्छा प्रदर्शन किया। इमारतें आतंकवादी विमानों के कारण नीचे नहीं गिरीं, यह तो आग थी जो उसके बाद आई। यह सिद्ध हो गया था कि आप एक टावर के कुल स्तंभों में से दो तिहाई बाहर निकाल लो और इमारत फिर भी खड़ी रहेगी।"<ref name="TerrorProof">{{Cite web|title=Building a Terror-Proof Skyscraper: Experts Debate Feasibility, Options |first=Pete |last=Sigmund |url=http://www.constructionequipmentguide.com/story.asp?story=2598&headline=Building%20a%20Terror-Proof%20Skyscraper:%20Experts%20Debate%20Feasibility,%20Options |accessdate=January 24, 2008 |date=सितंबर 25, 2002}}</ref> आग ने छतों के आधार कमजोर कर दिए थे, जिससे छतें झुक गई थीं। झुकी हुई छतों ने बाहरी इस्पात स्तंभों को उस बिंदु की ओर खींचा जहां बाहरी स्तंभ अंदर की तरफ झुके हुए थे। मूल स्तंभों को क्षति के साथ, झुके हुए बाहरी कॉलम इमारत को और अधिक सहारा नहीं दे सके, जिसकी वजह से इमारत ढह गई। इसके अलावा, रिपोर्ट का दावा है कि टावरों की सीढ़ियां पर्याप्त रूप से मजबूत नहीं बनाई गई थी कि टक्कर वाले क्षेत्र से ऊपर के लोगों को बच निकलने का आपातकालीन मार्ग मिल सकता।<ref name="NIST">{{Cite web|title=Translating WTC Recommendations Into Model Building Codes|publisher=National Institute of Standards and Technology|url=http://wtc.nist.gov/NIBS_MMC/CodeChangeProposals.htm|accessdate=January 24, 2008|date=अक्टूबर 25, 2007}}</ref> एनआईएसटी (NIST) ने निष्कर्ष निकाला कि 7 डब्लूटीसी (WTC) अनियंत्रित आग के कारण छतों के धरनी तथा शहतीर गर्म हो गए और तदनंतर "इसके कारण महत्त्वपूर्ण टेक स्तंभ नाकाम हो गए और अग्नि-प्रेरित गिरने की क्रमिक प्रक्रिया से पूरी इमारत जमीन पर आ गई"।<ref name="NISTTheory"/><ref name="NISTTheory"/>