"वरदराज" के अवतरणों में अंतर

1 बैट् नीकाले गए ,  7 वर्ष पहले
छो
बॉट: विराम चिह्नों के बाद खाली स्थान का प्रयोग किया।
छो (विराम चिह्न की स्थिति सुधारी।)
छो (बॉट: विराम चिह्नों के बाद खाली स्थान का प्रयोग किया।)
'''वरदराज''' [[संस्कृत]] [[व्याकरण]] के महापण्डित थे। वे महापण्डित [[भट्टोजि दीक्षित]] के शिष्य थे। भट्टोजि दीक्षित की [[सिद्धान्तकौमुदी]] पर आधारित उन्होने तीन ग्रन्थ रचे : [[मध्यसिद्धान्तकौमुदी]], [[लघुसिद्धान्तकौमुदी]] तथा [[सारकौमुदी]]।
 
== इन्हें भी देखें ==