"वाक्यविन्यास" के अवतरणों में अंतर

1 बैट् नीकाले गए ,  7 वर्ष पहले
छो
बॉट: विराम चिह्नों के बाद खाली स्थान का प्रयोग किया।
छो (बॉट: डॉट (.) के स्थान पर पूर्णविराम (।) और लाघव चिह्न प्रयुक्त किये।)
छो (बॉट: विराम चिह्नों के बाद खाली स्थान का प्रयोग किया।)
किसी [[भाषा]] में जिन सिद्धान्तों एवं प्रक्रियाओं के द्वारा [[वाक्य]] बनते हैं, उनके अध्ययन को [[भाषा विज्ञान]] में '''वाक्यविन्यास''', 'वाक्यविज्ञान' या सिन्टैक्स (syntax) कहते हैं। वाक्य के क्रमबद्ध अध्ययन का नाम 'वाक्यविज्ञान' कहते हैं। वाक्य विज्ञान, पदों के पारस्परिक संबंध का अध्ययन है। वाक्य भाषा का सबसे महत्त्वपूर्ण अंग है। मनुष्य अपने विचारों की अभिव्यक्ति वाक्यों के माधयम से ही करता है। अतः वाक्य भाषा की लघुतम पूर्ण इकाई है।
 
== वाक्यविज्ञान का स्वरूप ==