"लद्दाख़ी भाषा" के अवतरणों में अंतर

755 बैट्स् जोड़े गए ,  6 वर्ष पहले
सम्पादन सारांश रहित
|SIL=LBJ
}}
'''लद्दाख़ी''' ([[तिब्बती भाषा]] : ལ་དྭགས་སྐད་, Wylie: La-dwags skad) [[भारत]] के लद्दाख क्षेत्र के [[लेह]] जिले की प्रमुख भाषा है। इसे '''भोटी''' भी कहते हैं। यह तिब्बती परिवार की भाषा है किन्तु मानक तिब्बती तथा लद्दाखी जानने वाले एक दूसरे को नहीं समझ सकते।
'''लद्दाख़ी''' एक भाषा है।
 
लद्दाख़ के गान्चे क्षेत्र में तिब्बती मूल के बलती व लद्दाख़ी लोग रहते हैं। सांस्कृतिक रूप से यह भारत के लद्दाख़ क्षेत्र का भाग है, हालांकि यहाँ के अधिकतर लोग धार्मिक दृष्टि से मुस्लिम हैं। यहाँ अधिकतर बलती भाषा बोली जाती है जो लद्दाख़ी भाषा के क़रीब है और अक्सर तिब्बती भाषा की उपभाषा समझी जाती है।<ref>{{cite book|title = Islam and Tibet: Interactions Along the Musk Routes|author = Anna Akasoy, Charles S. F. Burnett, Ronit Yoeli-Tlalim|page = 353|publisher = Ashgate Publishing, Ltd|year = 2011|ISBN = 978-0-7546-6956-2}}</ref>
==इन्हें भी देखें==
* [[तिब्बती भाषा]]
 
==बाहरी कड़ियाँ==
*[http://hpuniv.nic.in/Journal/Jul_2011_Vidya%20Sagar%20Negi.pdf राष्ट्रीय सन्दर्भ में भोटी भाषा का महत्व]
 
{{आधार}}