Wiki146

Wiki146 4 सितंबर 2008 से सदस्य हैं
3,991 बैट्स् नीकाले गए ,  12 वर्ष पहले
हटाया
(हटाया)
 
{{स्वागत}}--[[सदस्य:Wiki147|वीकी]] १५:३५, २१ सितंबर २००८ (UTC)
 
==चोर समर्थक चोर==
 
चोर प्रबंधक राजीव मासने डीसेम्बर २००७ से डॉ। रवी जैन नामका डमी खाता खोलकर कई सदस्योंको तंग करना शुरु कीया। चोर प्रबंधक राजीव मासने प्रबंधकके टुल्सका मीसयुस कीया। हीन्दीवीकीपीडीया का मुंह काला कीया है।
 
पुरा वीवरण कई जगह तथा चौपाल पर रखा गया था। इस चोर प्रबंधक राजीव मासको प्रबंधक पुर्णीमा वर्मनने पुरा सहयोग दीया । जानबुझकर चोर प्रबंधक राजीव मास को सहयोग देकर सदस्योंका खाता ब्लोक करना तथा वीकीपीडीयाके लेखों को अपनी मरजी मुताबीक सुरक्षीत कीया तथा चोर प्रबंधक राजीव मासके कुकर्म बचाने के लीये कोशीश की।
 
पुरा भंडा खुल जाने के बाद प्रबंधक पुर्णीमा वर्मन तथा अन्य सहयोगीयोंने चोर प्रबंधक राजीव मासको बचानेकी पुरी कोशीस की। हीन्दीवीकीपीडीयाको कलंकीत कीया। अतः चोर समर्थक सब चोर होते है।
 
अब रचनात्मक वीचारोंके लीये उन सब चोरोको सोचना चाहीये क्या करना चाहीये? प्रबंधक राजीव मास, पुर्णीमा वर्मन, मनीश वशीश्थ, मीतुल ओर सुमीत सीहां सबने मीलकर पहले रचनात्मक कारवाइ नहीं की जीसके वजह चोर प्रबंधक राजीव मास को कुकर्म करनेका अधीकार मील गया । अब वे सब कोनसे रचनात्मक कार्य की सलाह दे सकते हैं?--[[सदस्य:Wiki147|वीकी]] १५:३५, २१ सितंबर २००८ (UTC)
 
===चेतावनी===
 
प्रबंधक राजीव मास ओर प्रबंधक पुर्णीमा वर्मन ने कुकर्म करके हीन्दीवीकीपीडीयाका मुंह काला कीया है।--[[सदस्य:Wiki147|वीकी]] १५:३५, २१ सितंबर २००८ (UTC)
 
 
:::: कृपया प्रबंधक राजीव मासका कुकर्म यहां देखीये। इस कुकर्मको प्रबंधक पुर्णीमा वर्मन ने सहयोग दीया है।
 
http://hi.wikipedia.org/w/index.php?title=%E0%A4%B8%E0%A4%A6%E0%A4%B8%E0%A5%8D%E0%A4%AF_%E0%A4%B5%E0%A4%BE%E0%A4%B0%E0%A5%8D%E0%A4%A4%E0%A4%BE:Jain&diff=next&oldid=172723
 
दी गयी लीन्क का पीछला अंतर ओर अगला अंतर बरोबर देखें। राजीव मास ओर पुर्णीमा वर्मन के सभी कुकर्म मालुम हो जायेगा।
970

सम्पादन