"समराङ्गणसूत्रधार" के अवतरणों में अंतर

सम्पादन सारांश रहित
 
==परिचय==
इस ग्रन्थ में ८३ अध्याय हैं जिनमें नगर-योजना, भवन शिल्प, मंदिर शिल्प, [[मूर्तिकला]] तथा [[मुद्रा।मुद्राओं]] सहित [[यंत्र।यंत्रों]] के बारे में (अध्याय ३१, जिसका नाम 'यन्त्रविधान' है) वर्णन है। यंत्रविधान के निम्नलिखित श्लोक
समरांगण सूत्रधार काइसका ३१वाँ अध्याय (यन्त्रविधान) यंत्रविज्ञान के क्षेत्र में एक सीमा बिन्दु है। इस अध्याय में अनेक यंत्रों का वर्णन है। लकड़ी के वायुयान, यांत्रिक दरबान तथा सिपाही, इनमें [[रोबोट]] की एक झलक देख सकते हैं।
 
===विमानविद्या===
यंत्रविधान के निम्नलिखित श्लोक 'विमान' के सम्बन्ध में हैं- <ref>[https://in.groups.yahoo.com/neo/groups/SUMADHWASEVA/conversations/messages/32609 From the book War in Ancient India by V.R. Ramachandra Dikshitar (First Edition 1944)] </ref>
इस ग्रन्थ में ८३ अध्याय हैं जिनमें नगर-योजना, भवन शिल्प, मंदिर शिल्प, [[मूर्तिकला]] तथा [[मुद्रा।मुद्राओं]] सहित [[यंत्र।यंत्रों]] के बारे में (अध्याय ३१, जिसका नाम 'यन्त्रविधान' है) वर्णन है। यंत्रविधान के निम्नलिखित श्लोक
'विमान' के सम्बन्ध में हैं-
: लघुदारुमयं महाविहङ्गं दृढसुश्लिष्टतनुं विधाय तस्य
: उदरे रसयन्त्रमादधीत ज्वलनाधारमधोऽस्य चातिपूर्णम्॥ ९५
: व्योम्नो झगित्याभरणत्वमेति सन्तप्तगर्जद्ररसरागशक्त्या॥ ९८
 
समरांगण सूत्रधार का ३१वाँ अध्याय यंत्रविज्ञान के क्षेत्र में एक सीमा बिन्दु है। इस अध्याय में अनेक यंत्रों का वर्णन है। लकड़ी के वायुयान, यांत्रिक दरबान तथा सिपाही, इनमें [[रोबोट]] की एक झलक देख सकते हैं।
===यांत्रिकी===
समरांगणसूत्रधार के ३१वें अध्याय में यन्त्रों की क्रियाओं का वर्णन निम्न प्रकार है-
| ८३ ||
|}
 
==सन्दर्भ==
{{टिप्पणीसूची}}
 
==इन्हें भी देखें==
*[http://bharatkalyan97.blogspot.in/2013/07/raja-bhojas-samarangana-sutradhara.html Pune’s octogenarian translates 1000-year-old book by Raja Bhoja]
*[http://archive.indianexpress.com/news/pune-s-octogenarian-translates-1000yearold-book-by-raja-bhoja/1146884/ Pune’s octogenarian translates 1000-year-old book by Raja Bhoja]
===समरांगसूत्रधार का पाठ===
*[https://drive.google.com/file/d/0B0m3vntFYeEGVTlkSmhzTkxTSEE/edit समरांगणसूत्रधार]
*[http://peterffreund.com/Vedic_Literature/Vedic%20Literature%20Unicode/Upaveda/Sthapatya%20Veda/samaranganasutradhara.rtf समराङ्गणसूत्रधार] (आरटीएफ)
 
[[श्रेणी:संस्कृत ग्रन्थ]]