"टैंगो चार्ली (2005 फ़िल्म)" के अवतरणों में अंतर

छो
== संगीत ==
== रोचक तथ्य ==
 
{{फिल्म में दिखाए सभी युद्धपरक तकनीकों को जानने के लिए निर्देशक मणि शंकर ने वास्तविक तौर पर उग्रवादी दलों के बीच उनकी गुरिल्ला युद्ध शैली का अध्यन किया ।}}
▪ {{फिल्म 'टैंगो चार्ली' का आसाम सिनेमाघरों में प्रतिबंध - फिल्म में जिस मणिपुर और उग्रवादी बोडो गुट के तथाकथित हिंसा का चित्रण किया गया है, वास्तविकता में ऐसा नहीं है । सत्य यह है की बोडो संगठन का मूल गढ़ आसाम राज्य में है और उत्तर-पूर्वी राज्यों में कहीं उनकी दखलांदजी नहीं है और नाही किसी तरह वे इस प्रकार की बर्बर हिंसा का व्यवहार करते हैं ।}}
 
▪ {{'टैंगो चार्ली' के किरदार ने काफी हद तक प्रभावित किया अभिनेता बाॅबी द्योल को । फिल्म में दर्शाए टैंगो चार्ली उर्फ तरुण चौहान की डायरी और उसके व्याप्त हिंसा एंव प्रतिकूल परिस्थितियों से सामना करने जैसी घटनाओं ने बाॅबी को काफी विचलित और भावुक कर देती थी । जिनको वो प्रत्येक शुटिंग के पश्चात अपनी निजी डायरी में इसका उल्लेख करते थे ।}}
{{फिल्म 'टैंगो चार्ली' का आसाम सिनेमाघरों में प्रतिबंध - फिल्म में जिस मणिपुर और उग्रवादी बोडो गुट के तथाकथित हिंसा का चित्रण किया गया है, वास्तविकता में ऐसा नहीं है । सत्य यह है की बोडो संगठन का मूल गढ़ आसाम राज्य में है और उत्तर-पूर्वी राज्यों में कहीं उनकी दखलांदजी नहीं है और नाही किसी तरह वे इस प्रकार की बर्बर हिंसा का व्यवहार करते हैं ।}}
 
{{'टैंगो चार्ली' के किरदार ने काफी हद तक प्रभावित किया अभिनेता बाॅबी द्योल को । फिल्म में दर्शाए टैंगो चार्ली उर्फ तरुण चौहान की डायरी और उसके व्याप्त हिंसा एंव प्रतिकूल परिस्थितियों से सामना करने जैसी घटनाओं ने बाॅबी को काफी विचलित और भावुक कर देती थी । जिनको वो प्रत्येक शुटिंग के पश्चात अपनी निजी डायरी में इसका उल्लेख करते थे ।}}
 
== परिणाम ==
1,068

सम्पादन