"बी॰ एस॰ येदयुरप्पा" के अवतरणों में अंतर

छो
बॉट: लिप्यंतरण।
छो (बॉट: दिनांक लिप्यंतरण और अल्पविराम का अनावश्यक प्रयोग हटाया।)
छो (बॉट: लिप्यंतरण।)
| source = http://kla.kar.nic.in/cm.htm
}}
'''डॉ॰ बूकानाकेरे सिद्धलिंगप्पा येदियुरप्पा''', ([[कन्नड़ भाषा|कन्नड़]]: ಬೊಕನಕೆರೆ ಸಿದ್ಧಲಿಂಗಪ್ಪ ಯಡಿಯೂರಪ್ಪ), (जन्म: 27 फ़रवरी 1943<ref name="legis">{{cite web|url=http://legislativebodiesinindia.gov.in/States/kanataka/oppositionleader.htm|work=Online webpage of the Legislative Bodies of India|publisher=Government of India|title=Dr.B. S. Yediyurappa|accessdate=2007-11-12}}</ref>) एक भारतीय राजनेता और [[भारत]] के राज्य [[कर्नाटक]] के पच्चीसवें मुख्यमंत्री है, जिन्होंने 30 मई 2008 शपथ ग्रहण किया। येदियुरप्पा [[कर्नाटक]] राज्य की [[विधानसभा]] में [[शिकारीपुर]] [[विधानसभा क्षेत्र]] से [[भाजपा]] के प्रतिनिधि हैं। वे [[कर्नाटक विधानसभा चुनाव 2008]] में जीत के बाद कर्नाटक के मुख्यमंत्री बने। वे साल 2007 में [[जनता दल (यूनाईटेड)|जदयू]] के साथ गठबंधन टूटने से पहले भी थोड़े समय के लिए कर्नाटक के मुख्यमंत्री रहे। वे किसी भी दक्षिण भारतीय राज्य में भाजपा के पहले मुख्यमंत्री हैं।<ref name="first">{{cite web|url=http://www.hindu.com/thehindu/holnus/001200711121314.htm|work=Online Edition of The Hinduहिन्दू dated 2007-11-12|title=Yeddyurappa's journey from farming to chief ministership|accessdate=2007-11-12}}</ref>
 
== निजी जीवन ==
येदियुरप्पा का जन्म 27 फ़रवरी 1943 को भारत के कर्नाटक राज्य के मांड्या जिले के बुक्कनकेरे में हुआ था।<ref name="born">{{cite web|url=http://www.hinduonnet.com/holnus/001200711100301.htm|title=Yeddyurappa to become BJP's first CM in South|accessdate=2007-11-12}}</ref><ref name="bio">{{cite web|url=http://kla.kar.nic.in/cm.htm|work=Online webpage of the Karnataka Legislature|title=B. S. Yediyurappa|accessdate=2007-11-12}}</ref>। उनके पिता का नाम सिद्धलिंगप्पा और माता का नाम पुट्टतायम्मा था। येदियुरप्पा हिंदू धर्म के लिंगायत समुदाय के हैं। कर्नाटक के तुमकुर जिले में येदियुर स्थान पर संत सिद्धलिंगेश्वर द्वारा बनाए गए शैव मंदिर के नाम पर उनका नाम रखा गया था।<ref name="nom">{{cite web|url=http://www.indianexpress.com/sunday/story/237869.html|work=Online Edition of The Indian Express, dated 2007-11-11|title=Many yatras later, finally there|author=Pradeep Kaushal|accessdate=2007-11-12}}</ref> जब येदियुरप्पा चार साल के थे तब ही इनकी माता की मौत हो गई।<ref name="first"/> उन्होंने कला से स्नातक किया है। 1965 में वे समाज कल्याण विभाग के प्रथम श्रेणी के किरानी चुए गए। लेकिन वे शिकारीपुर चले गए जहां उन्होंने वीरभद्र शास्त्री चावल मील में किरानी की नौकरी कर ली। 1967 में उन्होंने वीरभद्र शास्त्री की पुत्री मैत्रादेवी से शादी कर ली। बाद के दिनों में उन्होंने शिमोगा में हार्डवेयर की दुकान खोली। येदियुरप्पा के दो पुत्र, बी वाई राघवेंद्र और विजयेंद्र एवं दो पुत्री हैं, जिनके नाम, अरूणादेवी, पद्मावती और उमादेवी हैं।<ref name="family">''Bookanakere ecstatic for its victorious son'', Page 6, [[Times of India]], ''[[Bangalore]] Edition'', dated 2007-11-12</ref> 2004 में एक दुर्घटना में उनकी पत्नी चल बसी.<ref name="bereav">{{cite web|url=http://www.hindu.com/2004/10/17/stories/2004101704860400.htm|title=Yediyurappa bereaved|work=Online Edition of The Hinduहिन्दू, dated 2004-10-17|accessdate=2007-11-12}}</ref><ref name="name">{{cite web|url=http://www.telegraphindia.com/1071030/asp/nation/story_8489023.asp|work=Online Edition of The Telegraph, dated 2007-10-30|title=Parade done, over to Raj Bhavan, Path cleared for BJP reins|accessdate=2007-11-12}}</ref>
 
== सन्दर्भ ==