"कोशिका" के अवतरणों में अंतर

आकार में कोई परिवर्तन नहीं ,  4 वर्ष पहले
 
== आविष्कार एवं अनुसंधान का इतिहास ==
* [[रॉबर्ट हूकहुक]] ने 1665 में बोतल की [[कार्क]] की एक पतली परत के अध्ययन के आधार पर मधुमक्खी के छत्ते जैसे कोष्ठ देखे और इन्हें कोशा नाम दिया। यह तथ्य उनकी पुस्तक माइक्रोग्राफिया में छपा। राबर्ट हुक ने कोशा-भित्तियों के आधार पर कोशा शब्द प्रयोग किया।
 
* '''1674''' [[एंटोनी वॉन ल्यूवेन्हॉक]] ने जीवित कोशा का सर्वप्रथम अध्ययन किया।