"आनन्‍द केंटिश कुमारस्‍वामी" के अवतरणों में अंतर

आकार में कोई परिवर्तन नहीं ,  5 वर्ष पहले
 
== कृतियाँ ==
[[चित्र:AnandaCoomaraswamy.jpg|right|thumb|300px250px|आनन्द कुमारस्वामी का चित्र (१९०७ में प्रकाशित)]]
1908 में उनकी प्रसिद्ध कृति ‘द एम्स ऑव इंडियन आर्ट’ प्रकाशित हुई और दो वर्ष बाद 'आर्ट ऐंड स्वदेशी'। 1913 में 'आर्ट्स ऐंड क्रैफ्ट्स ऑव इंडिया ऐंड सीलोन' और अगले ही साल [[भगिनी निवेदिता]] के साथ ‘मिथ्स ऑव हिंदूज़ ऐंड बुद्धिस्ट्स’ प्रकाशित हुआ। तदनंतर ‘बुद्ध ऐंड दि गास्पेल ऑव बुद्धिज्म', 'द डांस ऑव शिव’ और [[बोस्टन संग्रहालय]] के विविध कैटलाग प्रकाशित हुए। 1923 में ‘इंट्रोडक्शन टु इंडियन ऐंड इंडोनेशियन आर्ट’ छपी। इसी बीच डॉ॰ कुमारस्वामी ने [[फ्रेंच]] में भी कलासंबंधी तीन पुस्तकें प्रकाशित की जिनके नाम हैं : ‘लेज़ार ए मातिए द लींद ए द सिलान’, ‘पूर कोंप्रांद लार ईन्दू’ और ‘ले मिनियातूर ओरियांताल द ला कलेक्सी ओ गुलूबे’।