"अण्डमान" के अवतरणों में अंतर

आकार में कोई परिवर्तन नहीं ,  5 वर्ष पहले
सम्पादन सारांश रहित
(ой ни вошёл всё теперь вошёл)
=== सेलुलर जेल ===
{{main|सेल्युलर जेल}}
अंग्रेजी सरकार द्वारा भारत के स्वतंत्रता सैनानियों पर किए गए अत्याचारों की मूक गवाह इस जेल की नींव 1897 में रखी गई थी। इस जेल के अंदर 694 कोठरियां हैं। इन कोठरियों को बनाने का उद्देश्य बंदियों के आपसी मेल जोल को रोकना था। आक्टोपस की तरह सात शाखाओं में फैली इस विशाल कारागार के अब केवल तीन अंश बचे हैं। कारागार की दीवारों पर वीर शहीदों के नाम लिखे हैं। यहांयहाँ एक संग्रहालय भी है जहांजहाँ उन अस्त्रों को देखा जा सकता है जिनसे स्वतंत्रता सैनानियों पर अत्याचार किए जाते थे।
 
=== कार्बिन कोव्स बीच ===