"अनेकांतवाद" के अवतरणों में अंतर

27 बैट्स् जोड़े गए ,  4 वर्ष पहले
छो
सम्पादन सारांश रहित
छो (सिद्धांत को समझने के लिए हाथी और पांच अंधों की कहानी इस लेख में जरूर होनी चाहिए जो मैंने डाली है।)
छो
{{आधार}}
{{जैन धर्म}}
'''अनेकान्तवाद''' [[जैन धर्म]] के सबसे महत्वपूर्ण और मूलभूत सिद्धान्तों में से एक है। मौटे तौर पर यह विचारों बहुलता का सिद्धान्त है। अनेकावान्त की मान्यता है कि भिन्न-भिन्न कोणों से देखने पर सत्य और वास्तविकता भी अलग-अलग समझ आती है। अतः एक ही दृष्टिकोण से देखने पर पूर्ण सत्य नहीं जाना जा सकता।