मुख्य मेनू खोलें

बदलाव

आकार में कोई परिवर्तन नहीं, 3 वर्ष पहले
[[Nakkash Ki Devi - Gomti Dham|नक्कश की देवी - गोमती धाम]] को हिण्डौन सिटी का हृदय कहा जाता है। यह हिण्डौन सिटी के मध्य में स्थित है। यह माता दुर्गा के एक रूप नक्कश की देवी का मंदिर है। कहा जाता है कि जब संत श्री गोमती दास जी महाराज यहाँ पर आए थे तो उन्हें रात्रि को कैला माता ने स्वप्न में अपने एक पीपल के नीचे दवे होने की सूचना दी। अगले ही दिन वहाँ खुदाई करने पर माता की दो चमत्कारी मूर्तियां मिली जिन्हें वहीं स्थापित कर माता का मंदिर बनवाया। मंदिर के पीछे की तरफ परम पूज्य ब्रह्मलीन '''श्री श्री 1008 गोमती दास जी महाराज''' का विशालकाय मंदिर उनके शिष्यों द्वारा बनाया गया। जिसमें उनकी समाधि भी स्थित है। यहाँ पर चमत्कारी शिव परिवार, पँचमुखी हनुमानजी की प्रतिमा, राम मंदिर, यमराज जी आदि के मंदिर स्थित हैं। यहाँ पर एक वाटिका स्थित है। इसे गोमती धाम के नाम जाना जाता है। इसके एक तरफ विशालकाय तालाब '''जलसेन''' स्थित है।
 
 
===नरसिंह जी मंदिर===
 
नरसिंह जी मंदिर, [[हिण्डौन]] शहर से लगभग 15 किलोमीटर की दूरी पर, एक [[गुफा]] के रूप में स्थित है। हिन्दू पुराणों के अनुसार [[नरसिंह]], [[भगवान विष्णु]] के अवतार हैं, जो भक्त [[प्रहलाद]] की रक्षा करने के उद्देश्य से अवतरित हुए थे। मान्यता अनुसार, नरसिंह भगवान के दर्शन करने से भूत-प्रेत, काला जादू, आत्माओं जैसी समस्या का निवारण होता है।
 
=== श्री महावीरजी मंदिर ===
बेनामी उपयोगकर्ता