"शरद पूर्णिमा" के अवतरणों में अंतर

16 बैट्स् जोड़े गए ,  6 वर्ष पहले
वर्तनी सुधार
छो (bot: removed unused picture.)
(वर्तनी सुधार)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
|आधिकारिक_नाम = शरद पूर्णिमा व्रत
|अन्य नाम =
|अनुयायी = [[हिन्दू धर्म|हिन्दू]], [[भारतीय]], भारतीयप्रवासी प्रवासी
|उद्देश्य = सर्वकामना पूर्ति
|आरम्भ =
|type =<!--DO NOT CHANGE! THIS CONTROLS COLOUR-->hindu<!--DO NOT CHANGE! THIS CONTROLS COLOUR-->
}}
'''शरद पूर्णिमा''', जिसे [[कोजागरी पूर्णिमा]] या [[रास पूर्णिमा]] भी कहते हैं; [[हिन्दू पंचांग]] के अनुसार [[आश्विन]] मास की [[पूर्णिमा]] को कहते हैं। ज्‍योतिष के अनुसार, पूरे साल में केवल इसी दिन चंद्रमाचन्द्रमा सोलह कलाओं से परिपूर्ण होता है।<ref name="लोक">[http://www.hindilok.com/sharad-purnima-vrat-katha-mp3-download.html शरद पूर्णिमा व्रतकथा ]। हिन्दी लोक।</ref> हिन्दी धर्म में इस दिन कोजागर व्रत माना गया है। इसी को कौमुदी व्रत भी कहते हैं। इसी दिन श्री[[कृष्ण]] ने महारास रचारचाया था। मान्यता है इस रात्रि को चंद्रमाचन्द्रमा की किरणों से अमृत झड़ता है। तभी इस दिन उत्तर भारत में खीर बनाकर रात भर चांदनीचाँदनी में रखने का विधान है।
 
== कथा ==
6,802

सम्पादन