मुख्य मेनू खोलें

बदलाव

1 बैट् जोड़े गए, 3 वर्ष पहले
 
'''5. साहचर्य परिवर्तन का नियम''' - इस नियम के अनुसार व्यक्ति प्राप्त ज्ञान का उपयोग अन्य परिस्थिति में या सहचारी उद्दीपक वस्तु के प्रति भी करने लगता है। जैसे-कुत्ते के मुह से भोजन सामग्री को देख कर लार टपकरने लगती है। परन्तु कुछ समय के बाद भोजन के बर्तनको ही देख कर लार टपकने लगती है।
 
== सन्दर्भ ==
{{टिप्पणीसूची}}
बेनामी उपयोगकर्ता