"राॅबर्ट वाॅशोप (ब्रिटिश नौसेना अधिकारी)": अवतरणों में अंतर

No edit summary
१८२२ में राॅबर्ट ने, सर डेविड कार्निज की बेटी, ऐन्ने कार्निज से शादी कर ली और फिर, पहले ईऽस्टर डड्डिंग्टन, [[मिडलोथियन]] में और बाद में मूरहाउस हाॅल, कम्बरलैंड में अपनी गृहस्ती बसा ली। उनकी इकलौती संतान की मृत्यू नाबालीक अवस्था में ही १८४४ में हो गई।
 
१८३४ में ऐडमिरल पैट्रिक कैम्पबेल(जो उनका साला था) ने राॅबर्ट को अपने जहाज़ पर आमंत्रित किया परंतू उन्हों ने इस शर्त पर मना कर दिया की जहाज़ पर वैश्याऔं का प्रवेश वर्जित होगा, उनकी इसी ज़िद के कारण उन्हें सर थाॅमस हार्डी ने अपनी आयुक्ती से [[त्यागपत्र]] सौंपने का लिये कह दिया। कहा जाता है की उन्हों ने सर हाराडी को कहा था की "ऐसा लिखा हुआ हे की तव्यफ़परस्ततवायफ़-परस्त लोगों को जन्नत नहीं मिलेगी"। बाद में उन्हें '''एचएमएस थालिया''' में आयुक्त कर दिया गया(जून १८३४ में) जिसपर उन्हें केप आॅफ़ गुड होप पे तवालद रखा गया था, और बाद में पश्चिमी [[अफ़्रीका]] में(१८३६-३७)।
 
===टाइम बाॅल का आविष्कार===