"लाहौर संकल्पना" के अवतरणों में अंतर

160 बैट्स् जोड़े गए ,  5 वर्ष पहले
ग़रज़ [[भारत]] के 11 प्रांतों में से किसी एक राज्य में भी [[मुस्लिम लीग]] को सत्ता प्राप्त न हो सका। इन परिस्थितियों में [[मुस्लिम लीग]] ऐसा लगता था, उपमहाद्वीप के राजनीतिक धारा से अलग होती जा रही है।
 
[[File:Muhammad Zafarullah Khan.jpg|thumb|left|upright|मुहम्मद जफरुल्ला खान, दस्तावेज के लेखक]]
इस दौरान [[अखिल भारतीय कांग्रेस | कांग्रेस]] ने जो पहली बार सत्ता के नशे में कुछ ज्यादा ही सिर शार थी, ऐसे उपाय किए जिनसे मुसलमानों के दिलों में भय और खतरों ने जन्म लेना शुरू कर दिया। जैसे [[अखिल भारतीय कांग्रेस | कांग्रेस]] ने [[हिंदी]] को राष्ट्रभाषा घोषित कर दिया, गाओ क्षय पर पाबंदी लगा दी और [[अखिल भारतीय कांग्रेस | कांग्रेस]] के तिरंगे को राष्ट्रीय ध्वज का दर्जा दिया।
 
164

सम्पादन