"सागर शहर" के अवतरणों में अंतर

2 बैट्स् नीकाले गए ,  4 वर्ष पहले
सम्पादन सारांश रहित
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
| जिला = [[सागर]]
| शासक पद = [[जिलाधीश]]
| शासक का नाम = डॉ॰विकास ई.सिंह रमेश कुमारनरवाल
| शासक पद 2 = [[नगर पालिक निगम महापौर]]
| शासक का नाम 2 = श्रीमती अनीता अहिरवार
| ऊँचाई = 594
| जनगणना का वर्ष = 20012011
| जनगणना स्तर =
| जनसंख्या = 20,21,783273357
| घनत्व = 197
| क्षेत्रफल = 10252
| skyline_caption = लाखा बंजारा झील के किनारे बसा सागर शहर
| टिप्पणियाँ = सागर शहर का नाम इस झील के कारण ही सागर पड़ा है
|तहसील = 9 11
}}
'''सागर''', [[मध्य प्रदेश]] का एक महत्‍वपूर्ण शहर है। सागर का इतिहास सन् १६६० से आरंभ होता है, जब ऊदनशाह ने तालाब के किनारे स्थित वर्तमान किले के स्थान पर एक छोटे किले का निर्माण करवा कर उस के पास परकोटा नाम का गांव बसाया था। निहालशाह के वंशज [[ऊदनशाह]] द्वारा बसाया गया वही छोटा सा गांव आज सागर के नाम से जाना जाता है। परकोटा अब शहर के बीचों-बीच स्थित एक मोहल्ला है।
63

सम्पादन