"जयगोपाल" के अवतरणों में अंतर

769 बैट्स् जोड़े गए ,  4 वर्ष पहले
+references; -{{unref}}
छो (-{{dead end}})
(+references; -{{unref}})
'''जयगोपाल''' [[हिंदुस्तान सोशलिस्ट रिपब्लिकन एसोशिएसन]] (HSRA) के सदस्य थे। इन्होंने साण्डर्स वध में भगत सिंह, राजगुरु आदि का साथ दिया था।<ref>{{पुस्तक सन्दर्भ|last1=Gaur|first1=I. D.|title=Martyr as Bridegroom|date=2008|publisher=Anthem Press|isbn=1843313480|page=16|url=https://books.google.co.in/books?id=PC4C3KcgCv0C&lpg=PA16&dq=jayagopal%20saunders&pg=PA16#v=onepage&q=jayagopal%20saunders&f=false|accessdate=15 मई 2016}}</ref><ref>{{पुस्तक सन्दर्भ|first1=Yashpal|editor1-last=Friend|editor1-first=Corinne|title=Yashpal looks back: selections from an autobiography|publisher=University of California|isbn=0706913507|page=39|url=https://books.google.co.in/books?id=W9e1AAAAIAAJ&q=jayagopal+saunders&dq=jayagopal+saunders&hl=en&sa=X&ved=0ahUKEwjz5eHkpdzMAhUBMJQKHfV_AV4Q6AEIITAB|accessdate=15 मई 2016|language=English}}</ref>
{{स्रोतहीन|date=मई 2016}}
'''जयगोपाल''' [[हिंदुस्तान सोशलिस्ट रिपब्लिकन एसोशिएसन]] (HSRA) के सदस्य थे। इन्होंने साण्डर्स वध में भगत सिंह, राजगुरु आदि का साथ दिया था।
 
दिल्ली असेंबली बम कांड तथा [[लाहौर षड्यंत्र केस]] (साण्डर्स वध केस) की सुनवाई के समय ये अंग्रेजी हुकूमत के दवाव में आ गये, तथा HSRA के क्रान्तिकारियो के खिलाफ सरकारी गवाह बन गये। भगत सिंह को फाँसी दिये जाने के पीछे इनकी गवाही की ही भूमिका थी।
 
==सन्दर्भ==
{{टिप्पणीसूची}}
 
[[श्रेणी:आधुनिक भारत का इतिहास]]