"आना सागर झील" के अवतरणों में अंतर

96 बैट्स् नीकाले गए ,  5 वर्ष पहले
117.196.229.35 (वार्ता) द्वारा किए बदलाव 3089735 को पूर्ववत किया गैर देवनागरी
(117.196.229.35 (वार्ता) द्वारा किए बदलाव 3089735 को पूर्ववत किया गैर देवनागरी)
इस झील का निर्माण [[पृथ्वीराज चौहान]] के पितामह अरुणोराज या आणाजी चौहान ने बारहवीं शताब्दी के मध्य (११३५-११५० ईस्वी) करवाया था। आणाजी द्वारा निर्मित करवाये जाने के कारण ही इस झील का नामकरण ''आणा सागर'' या ''आना सागर'' प्रचलित माना जाता है।
==निर्माण==
झील के लिए जलसंभरण का कार्य स्थानीय आबादी द्वारा करवाया गया था। १६३७ ईस्वी में [[शाहजहाँ]] ने झील के किनारे लगभग १२४० फीट लम्बा कटहरा लगवाया और पाल पर संगमरमर की पाँच बारादरियों का निर्माण करवाया। झील के प्रांगण में स्थित '''दौलत बाग''' का निर्माण [[जहाँगीर]] द्वारा करवाया गया जिसे '''सुभाष उद्यान''' के नाम से भी जाना जाता है। आना सागर का फैलाव लगभग १३ किलोमीटर की परिधि में विस्तृत है।<ref>[https://sites.google.com/site/ajmervisit/ajamera-mem-kya-dekhem/anasagara-jhila आनासागर झील]</ref>iski dusari yeh viheshata hi ki ish baag me nurjanha ki ma aai thi jisane sent ka nirmankiya tha
 
== सन्दर्भ ==