"द्वि-आधारी योजक" के अवतरणों में अंतर

1,482 बैट्स् जोड़े गए ,  4 वर्ष पहले
लेख को सुधारा
(→‎top: बोट: सुधारा व सही किया)
(लेख को सुधारा)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
'''बाइनरी ऐडर''' -एक यह बाइनरीडिजिटल सर्किट कोहोता है जोड़नेजो दो बाइनरी नंबरों का कामयोग करता है। .बाइनरी ऐडर दो मूलभूत अंगों से बनता - अर्ध ऐडर (half adder) और पूर्ण ऐडर (full adder)।
 
यह दो प्रकार का होता है।
==मूलभूत अंग==
(1) half adder
===अर्ध ऐडर===
(2) full adder
अर्ध ऐडर एक डिजिटल सर्किट होता है जो दो बिटों का योग करता है। ये दो बिट इनपुट लेता है और दो बिट आउटपुट देता है - एक आउटपुट बिट इनपुट बिटों का योग देता है और दूसरा आउटपुट बिट उनका कैरी देता है। नीचे दिया गया टेबल इनपुट बिटों की हर मुमकिन कॉम्बिनेशन के लिए अपेक्षित आउटपुट बिट दर्शाता है। इस टेबल से यह देखा जा सकता है कि योग आउटपुट बिट वाला कॉलम XOR गेट और कैरी आउटपुट बिट वाला कॉलम एंड गेट के ट्रुथ टेबल जैसा है। इसलिए योग आउटपुट को बनाने के लिए XOR गेट और कैरी आउटपुट को बनाने के लिए एण्ड गेट का प्रयोग किया जाता है। नीचे दिया गया चित्र इन गेटों से बना अर्ध ऐडर दिखता है।
half adder - यह एक या दो bainary circuit को add kerne ka Kam kerta hai।
===पूर्ण ऐडर===
Full adder - yeah do ya do se अधिक binary circuit ko add Kerne ka Kam kerta hai