"यूरोपीय ज्ञानोदय" के अवतरणों में अंतर

सम्पादन सारांश रहित
[[चित्र:Encyclopedie frontispice full.jpg|right|thumb|200px|''जो कुछ आप जानते हैं उसका प्रसार कीजिये। आप जो नहीं जानते उसकी खोज कीजिये।'' - Encyclopédie के १७७२ के संस्करण में आंकित]]
 
[[यूरोप]] में १६५० के दशक से लेकर १७८० के दशक तक की अवधि को '''प्रबोधन युग''' या '''ज्ञानोदय युग''' (Age of Enlightenment) कहते हैं। इस अवधि में पश्चिमी यूरोप के सांस्कृतिक एवं बौद्धिक वर्ग ने परम्परा से हटकर [[तर्क]], [[विश्लेषण]] तथा वैयक्तिक स्वातंत्र्य पर जोर दिया। ज्ञानोदय ने [[कैथोलिक चर्च]] एवं समाज में गहरी पैठ बना चुकी अन्य संस्थाओं को चुनौती दी।
 
==परिचय==