"सदस्य:Jayantikawiki/संगीत थियेटर" के अवतरणों में अंतर

[[संगीत]] थियेटर एक प्रपन्न थियेट्रिकल प्रदर्शन है जिस मे संगीत, बोल एव सन्वाद, अभिनय एव [[नृत्य]] भी होता है| एक संगीत की कहानी और भावनात्मक सामग्री- [[हास्य]], [[करुणा]], [[प्रेम]], [[क्रोध]]- [[शब्द]], संगीत, आन्दोलन और [[तकनीकी]] पहलुओं के माध्य्म से सूचित करते है| हालांकि संगीत प्राचीन काल से नाटसकीय प्रस्तुतियों का एक हिस्सा रहा है|
संगीत दुनिया भर में प्रदर्शन कर रहे है| वे इस तरह के [[न्यूयॉर्क]] [[शहर]] या [[लंदन]] में बड़े बजट की ब्रॉडवे या वेस्ट एंड प्रस्तुतियों के रूप में बड़े स्थानों में प्रस्तुत किया जा सकता| संयुक्त राज्य [[अमेरिका]] और [[ब्रिटेन]] के अलावा, वहाँ महाद्वीपीय [[यूरोप]], [[एशिया]], [[आस्ट्रेलिया]], [[कनाडा]] और [[लैटिन अमेरिका]] में जीवंत संगीत थियेटर दृश्य हैं।
 
==स्वर्ण युग (१९४०-१९६०)==
 
१९४० के दशक के पोर्टर, इरविंग बर्लिन , रोजर्स और हार्ट और वेल, ५०० से अधिक रन प्रदर्शन के रूप में अर्थव्यवस्था की तेजी के साथ कुछ से अधिक हिट के साथ शुरू होता है, लेकिन कलात्मक परिवर्तन हवा में था।
46

सम्पादन