"हिन्दी दिवस का इतिहास" के अवतरणों में अंतर

Reverted to revision 3023353 by ज्हाझक्हाक्रुब्हो: अनावश्यक कड़ी व चित्र .
(Reverted to revision 3023353 by ज्हाझक्हाक्रुब्हो: अनावश्यक कड़ी व चित्र .)
[[चित्र:Hindi.svg|अंगूठाकार|हिन्दी]]
[[चित्र:Hindi - the name in Devanagri Script.JPG|अंगूठाकार|हिन्दी ]]
{{हिन्दी दिवस}}
'''हिन्दी दिवस का इतिहास''' और इसे दिवस के रूप में मनाने का कारण बहुत पुराना है। वर्ष 1918 में [[महात्मा गांधी]] ने इसे जनमानस की भाषा कहा था और इसे देश की राष्ट्रभाषा भी बनाने को कहा था। लेकिन आजादी के बाद ऐसा कुछ नहीं हो सका। सत्ता में आसीन लोगों और जाति-भाषा के नाम पर राजनीति करने वालों ने कभी [[हिन्दी]] को राष्ट्रभाषा बनने नहीं दिया।<ref>{{समाचार सन्दर्भ|title=हिन्दी दिवस : हिन्दी है हिन्द की धड़कन|url=http://days.jagranjunction.com/2012/09/14/hindi-diwas-and-its-importance-हिन्दी-दिवस-हिन्दी-है/|accessdate=1 मार्च 2016|publisher=दैनिक जागरण|date=14 सितम्बर 2012}}</ref>
 
==सन्दर्भ==
* [http://www.rkalert.com/hindi-diwas-par-slogans-or-nibndh-naare/ हिन्दी दिवस पर स्लोगन और नारे Hindi Divas Itihas History ] RkAlert.Com द्वारा
{{टिप्पणीसूची}}
 
==बाहरी कड़ियाँ==
* [http://www.rkalert.com/hindi-diwas-par-slogans-or-nibndh-naare/ हिन्दी दिवस पर स्लोगन और नारे Hindi Divas Itihas History ]
[[श्रेणी:हिन्दी दिवस]]