"बलिदान": अवतरणों में अंतर

252 बाइट्स हटाए गए ,  5 वर्ष पहले
फिल्म
(हटाने हेतु चर्चा के लिये नामांकन; देखें चर्चा पृष्ठ। (TW))
(फिल्म)
{{हहेच लेख|कारण=this thing does not belong here this is not '''dictionary''' such pages should be on '''Wiktionary'''}}
{{Infobox film
'''बलिदान''' का अर्थ होता अपना सर्वस्व दान कर देना।
| name = बलिदान
| image =
| image_size =
| caption =
| director = नवल गांधी
| producer = ओरिएंट
| writer = रबीन्द्रनाथ टैगोर (आधारित)
| based on = बिसरजन <small>(नाट्य)</small>
| narrator =
| starring =
| music =
| cinematography = नवल भट्ट
| editing =
| distributor =
| studio = ओरिएंट
| released = 1927
| runtime =
| country = [[भारत]]
| language =
| budget =
| gross =
| preceded_by =
| followed_by =
| website =
}}
'''बलिदान''' एक भारतीय बिना आवाज वाली फिल्म है। जिसका निर्देशन नवल गांधी ने किया है।<ref name=NYT>{{cite web|last1=Crow|first1=Jonathan|title=Balidan|url=http://www.nytimes.com/movies/movie/249810/Balidan/overview|website=nytimes.com/|publisher=The New York Times Company|accessdate=30 April 2015}}</ref> इसकी कहानी रबीन्द्रनाथ टैगोर के नाटक पर आधारित है। इसका निर्माण वर्ष 1927 को किया गया था।<ref name=Gomolo>{{cite web|title=Sacrifice|url=http://www.gomolo.com/sacrifice-movie/19877|website=gomolo.com|publisher=Gomolo|accessdate=30 April 2015}}</ref> इसकी कहानी रबीन्द्रनाथ टैगोर ने 1887 में लिखा था।<ref name=PKNair>{{cite web|last1=Nair|first1=P. K.|title=India's top ten lost films|url=http://filmheritagefoundation.co.in/indias-top-10-lost-films-compiled-by-p-k-nair/|website=filmheritagefoundation.co.in|publisher=Film Heritage Foundation|accessdate=30 April 2015}}</ref><ref name=FilmHeritage>{{cite web|title=Balidan (Sacrifice) 1927|url=http://filmheritagefoundation.co.in/balidan-sacrifice-1927-108-mins/|website=filmheritagefoundation.co.in|publisher=Film Heritage Foundation|accessdate=30 April 2015}}</ref><ref name=citwf>{{cite web|title=Balidan |url=http://www.citwf.com/film28196.htm |website=citwf.com |publisher=Alan Goble |accessdate=30 April 2015 |deadurl=yes |archiveurl=https://web.archive.org/web/20150717084033/http://www.citwf.com/film28196.htm |archivedate=17 July 2015 |df=dmy }}</ref><ref name="RajadhyakshaWillemen2014">{{cite book|author1=Ashish Rajadhyaksha|author2=Paul Willemen|author3=Professor of Critical Studies Paul Willemen|title=Encyclopedia of Indian Cinema|url=https://books.google.com/books?id=SLkABAAAQBAJ&pg=PA250|accessdate=30 April 2015|date=10 July 2014|publisher=Routledge|isbn=978-1-135-94318-9|pages=250–}}</ref>
 
==कलाकार==
प्रयोग के अनुसार बलिदान शब्द के अनेक अर्थ हो जाते हैं। साधारणतः पशुओं का वध करके देवी देवताओं में चढ़ा देने को बलिदान समझा जाता है। किसी सत्कार्य के लिये अपना प्राण दे देना या अपने किसी प्रिय के प्राण ले लेना को भी बलिदान समझा जाता है। किसी अन्य की खुशी के लिये अपनी खुशियों को त्याग देना भी बलिदान का ही एक रूप है।
* मास्टर विथल
* सुलोचना
* जुबेदा
* सुलताना
* जल खंबाता
* जानी बाबू
 
==सन्दर्भ==
== उदाहरण ==
{{Reflist}}
* भगतसिंह ने देश की स्वतन्त्रता के लिये स्वयं का ''बलिदान'' कर दिया।
* 30 जनवरी के दिन को ''बलिदान'' दिवस के रूप में मनाया जाता है।
* इन बकरों के ''बलिदान'' को आप धर्म मानते हैं ?
* देवी देवताओं को प्रसन्न करने के लिये पशुओं का ''बलिदान'' करना उचित नहीं है।
* कौरवों पर पाण्डवों की विजय में अभिमन्यु के ''बलिदान'' का बहुत बड़ा योगदान था।
* कृष्ण बर्बरीक के महान ''बलिदान'' से काफ़ी प्रसन्न हुये।
* परमेश्वर के लिये स्वयं को ''बलिदान'' करें।
* जरूरत पड़ने पर खुशी से अपने को ''बलिदान'' कर देना चाहिये।
* सुना है कि ''बलिदान'' कभी व्यर्थ नहीं जाते।
* सैकडों उदाहरण मिल जायेंगे जहां प्रेमी ने प्रेमिका की खुशी के लिये ''बलिदान''दिये।
 
==बाहरी कड़ियाँ==
== मूल ==
प्राचीन काल में राजा बलि ने वामन को दान में अपना शरीर और प्राण तक दे दिया था राजा बलि के इस दान से ही ''बलिदान'' शब्द की व्युत्पत्ति हुई। (स्रोतः[http://valmikiramayan.agoodplace4all.com/vrbk5.php"विश्वामित्र का आश्रम (राजा बलि की कथा)"])
 
== अन्य अर्थ ==
== संबंधित शब्द ==
=== हिंदी में ===
* न्यौछावर
* शहादत
*
*
*
*
 
=== अन्य भारतीय भाषाओं में निकटतम शब्द ===
 
[[श्रेणी:शब्दार्थ]]