"भारत के उप प्रधानमंत्री" के अवतरणों में अंतर

सम्पादन सारांश रहित
{{भारत की राजनीति}}
 
'''भारत के उपप्रधानमंत्री''' का पद, तकनीकी रूप से एक एक [[भारतीय संविधान|संवैधानिक]] पद नहीं है, नाही संविधान में इसका कोई उल्लेख है। परंतु ऐतिहासिक रूप से, अनेक अवसरों पर विभिन्न सरकारों ने अपने किसी एक वरिष्ठ मंत्री को "''उपप्रधानमंत्री''" निर्दिष्ट किया है। इस पद को भरने की कोई संवैधानिक अनिवार्यता नहीं है, नाही यह पद किसी प्रकार की विशेष शक्तियाँ प्रदान करता हैं। आम तौर पर [[भारत के वित्तमंत्री|वित्तमंत्री]] या [[भारत के रक्षामंत्री|रक्षामंत्री]] जैसे वरिष्ठ कैबिनेट मंत्रियों को इस पद पर स्थापित किया जाता है, जिन्हें प्रधानमंत्री के बाद, सबसे वरिष्ठ माना जाता है। अमूमन इस पद का उपयोग, गठबंधन सरकारों में मज़बूती लाने हेतु किया जाता रहा है। इस पद के पहले धारक [[सरदार वल्लभभाई पटेल]] थे, जोकि [[जवाहरलाल नेहरू ]] की कैबिनेट में [[भारत के गृहमंत्री|गृहमंत्री]] थे। कई अवसरों पर ऐसा होता रहा है की प्रधानमंत्री की अनुपस्थिति में उपप्रधानमंत्री संसद या अन्य स्थानों पर उनके स्थान पर सर्कार का प्रतिनिधित्व करते हैं, एवं कैबिनेट की बैठकों की अध्यक्षता कर सकते हैं।
 
भारत के उप प्रधान मंत्रीउपप्रधानमंत्री भारतीय सरकार के मंत्रीमंडल के उपाध्यक्ष होते है।
 
== भारत के उप प्रधान मंत्रीगणोंउपप्रधानमंत्रीगण की सूची ==
 
== भारत के उप प्रधान मंत्रीगणों की सूची ==
{|width=100% border=0
|-
==बाहरी कड़ियाँ==
*[http://g-knowledge.blogspot.com/2011/01/list-of-deputy-prime-ministers-of-india.html?m=1 भारत के उपप्रधानमन्त्रीगण की सूची], ब्लॉग्स्पॉट
 
{{भारत के प्रधानमंत्री}}
 
[[श्रेणी:भारत सरकार]]