"राव जोधा": अवतरणों में अंतर

6 बाइट्स जोड़े गए ,  5 वर्ष पहले
छो
बॉट: सामान्य वर्तनी सुधार, replaced: था | → था।
छो (बॉट: वि.स. -> वि॰सं॰)
छो (बॉट: सामान्य वर्तनी सुधार, replaced: था | → था।)
| place of burial=
|}}
'''राव जोधा''' जी का जन्म [[२८ मार्च]], [[१४१६]], तदनुसार भादवा बदी 8 सं. 1472 में हुआ था |था। इनके पिता [[राव रणमल]] मारवाड़ के शासक थे। इन्हें [[जोधपुर]] शहर की स्थापना के लिए जाना जाता है। इन्होंने ही [[जोधपु्र]] का [[मेहरानगढ़]] दुर्ग बनवाया था राव ब्रह्मभट्ट राव जोधा के वंशज है|
 
== इतिहास ==
वसुन्धरा वीरा रि वधु, वीर तीको ही बिन्द |
 
रण खेती राजपूत रि, वीर न भूले बाल ||
 
वीर साहसी व पराक्रमी राव जोधा ने मारवाड़ राज्य को पुनः विजय करने हेतु निरंतर संघर्ष जरी रखा और अंत में अपने भाईयों के सक्रिए सहयोग से [[मंडोर]], कोसना व चौकड़ी पर विजय ध्वज लहराकर मारवाड़ में पुनः राठौर राज्य वि॰सं॰ 1510 स्थापित कर अपने पैत्रिक राज्य को मेवाड़ से मुक्त कर लिया |इस विजय के बाद राव जोधा व उनके भाईयों ने सोजत, पाली, खैरवा, नाडोल, नारलोई आदि पर हमला कर जीत लिया |