"हंगपन दादा" के अवतरणों में अंतर

88 बैट्स् जोड़े गए ,  3 वर्ष पहले
सम्पादन सारांश रहित
| birth_place = [[बोरदुरिया, तिरप जिला|बोरदुरिया]], [[अरुणाचल प्रदेश]], [[भारत]]
| death_date = {{Death date |2016|05|27|1979|10|02}}
| death_place = Naugamनौगाम, [[Jammuजम्मू andऔर Kashmirकश्मीर]], Indiaभारत
| allegiance = {{flag|भारत}}
| branch = [[राष्ट्रीय राइफल्स]]
| awards = [[अशोक चक्र (पुरस्कार)|अशोक चक्र]]
}}
हवलदार '''हंगपन दादा''' (2 अक्टूबर 1979 - 27 मई 2016) [[भारतीय सेना]] के एक जवान थे जो 2327 मई 2016 को उत्तरी कश्मीर के शमसाबाड़ी में आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ में शहीद हुए।<ref>{{cite web | url=http://m.navbharattimes.indiatimes.com/photomazza/national-international-photogallery/martyred-hangpan-dada-of-assam-regiment-awarded-ashok-chakra/photomazaashow/53695628.cms | title=अशोक चक्र से सम्मानित हुए शहीद हंगपन दादा | publisher=नवभारत टाइम्स | accessdate=17 अगस्त 2016}}</ref> वीरगति प्राप्त करने से पूर्व उन्होंने 4 हथियारबंद आतंकवादियों को मौत के घाट उतारा। इस शौर्य के लिए 15 अगस्त 2016 को उन्हें मरणोपरांत [[अशोक चक्र (पदक)|अशोक चक्र]] से सम्मानित किया गया। अशोक चक्र शांतिकाल में दिया जाने वाला भारत का सर्वोच्च वीरता पुरस्कार है।
==जीवन==
ये [[अरुणाचल प्रदेश]] के बोदुरिया गांव के रहने वाले हैं।<ref name = bhaskar/>
12,522

सम्पादन