"मॉरिशियाई रुपया" के अवतरणों में अंतर

आकार में कोई परिवर्तन नहीं ,  4 वर्ष पहले
छो
बॉट: वर्तनी एकरूपता।
छो (बॉट: वर्तनी एकरूपता।)
|issuing_authority_website = {{URL|www.bom.mu}}
}}
'''मॉरिशियाई रुपया''' ([[मुद्रा चिह्न|चिह्न]]: ₨; [[आईएसओ ४२१७|आईएसओ 4217]] कोड: ''MUR'') [[मॉरीशस]] का मुद्रा हैहै। कई अन्य मुद्राओं को भी [[रुपया]] कहा जाता है।
 
== इतिहास ==
रुपया को सन 1876 मे क़ानूनी तौर पर मॉरिशस का मुद्रा बनाया गया था । रुपया को चुना गया क्योंकि रुपया को चुना गया क्योंकि भारतीयों के मॉरिशस में बसने ने कारण भारतीय बड़े पैमाने पर [[भारतीय रुपया|भारतीय रुपए]] देश में मौजूद थे। मॉरिशियाई रुपया को 1877 में भारतीय रुपया, [[पाउण्ड स्टर्लिंग|स्टर्लिंग]] और [[मॉरिशियाई डॉलर]] के बदले में इस्तेमाल में लाया गया, और एक मॉरिशियाई रूपयारुपया एक भारतीय रूपए के बराबर था, या एक मॉरिशियाई डॉलर का आधा। उस समय एक पाउंड 10¼ रुपए के बराबर था। मॉरीशस के मुद्रा को [[सेशेल्स]] में भी 1914 तक परिचालित किया गया, जब [[सेशेल्सी रुपया]] को उसकी जगह स्थापित किया गया। एक सेशेल्सी रूपयारुपया एक मॉरिशियाई रूपए के बराबर था।
 
१९३४ में, [[पाउण्ड स्टर्लिंग|स्टर्लिंग]] से पेग ने भारतीय रुपया से पेग की जगह ले ली, 1 रुपया = 1 शिलिंग 6 पेंस  के दर से (जिस दर पर भारतीय रुपये का भी पेग था<ref name="mru">{{Cite web|url=http://users.erols.com/kurrency/mu.htm|title=Tables of Modern Monetary Systems (Mauritius)|accessdate=2007-03-03|last=Schuler|first=Kurt|publisher=Kurt Schuler}}</ref>). इस दर (जो 13⅓ रुपए = 1 पाउंड के बराबर है) को १९७९ बनाए रखा गया था।.
1987 में, सिक्कों की एक नई शृंखला पेश की गई जिनमें पहली बार ब्रिटिश सम्राट का चित्र नहीं था (मॉरीशस बन नहीं था एक गणराज्य 1992 तक), लेकिन उनकी जगर सर [[शिवसागर रामगुलाम]] का। इन सिक्कों में शामिल थे कॉपर-प्लेटेड-स्टील के 1 और 5 सेंट (5 सेंट का आकार काफ़ी छोटा कर दिया गया), निकल-प्लेटेड-स्टील 20 सेंट और ½ रुपया, और ताम्र-निकल के 1 और 5 रुपए। ताम्र-निकल के 10 रुपए में पेश किए गए 1997 में। वर्तमान में जो सिक्के प्रचलन में हैं, वे हैं 5 सेंट, 20 सेंट, ½ रुपया, 1, 5, 10 और 20 रुपए। 1 रूपए से कम कीमत वाले सिक्कों को "सुपरमार्केट" के छुट्टे पैसे समझे जाते हैं। 1 सेंट का सिक्का सालों से परिचालन में नहीं है, और 1 सेंट वाला अंतिम शृंखला 1987 में पेश की गई थी और अब ये कलेक्टरों के आइटम हैं।
 
2007 में एक द्वि-धातु का 20 रुपया का सिक्का जारी किया गया  बैंक ऑफ मॉरिशस  के 40वीं वर्षगांठ मनाने के लिए और यह सिक्का अब सामान्य प्रचलन में हैहै।
 
== बैंकनोट ==
सबसे पहले बैंकनोट सरकार द्वारा जारी किए गए थे 1876 में, और 5, 10 और 50 रुपए के मूल्य में। 1 रुपये के नोट लाया गया था 1919 में। 1940 में 25 और 50 पैसे और 1 रुपए के आपातकालीन नोट बनाए गए थे। 1954 में, 25 और 1000 रुपए में शुरू किए गए थेथे।
 
 बैंक ऑफ मॉरिशस को सितम्बर 1967 में स्थापित किया गया था देश के केंद्रीय बैंक के रूप में , और उस समय के बाद से सिक्कों और बैंकनोटों को जारी करने के लिए ज़िम्मेदार है।<ref>{{Cite book|last1=Linzmayer|first1=Owen|title=The Banknote Book|chapter=Mauritius|publisher=www.BanknoteNews.com|year=2012|location=San Francisco, CA|url=http://www.banknotebook.com}}</ref> बैंक ने अपने पहले नोट 1967 में जारी किए, जिनमें 5, 10, 25, और 50 रूपए शामिल थे। इन नोटों पर दिनांक नहीं छपा था और उनके ऊपर महारानी एलिज़ाबेथ द्वितीय का चित्र था। आने वाले वर्षों में, कुछ नोटों को गवर्नर और प्रबंध निदेशक के नए हस्ताक्षरों के साथ बदला गया, लेकिन इसके अलावा इनमें और कोई बदलाव नहीं था।