"अंतराअणुक बल": अवतरणों में अंतर

7 बाइट्स हटाए गए ,  5 वर्ष पहले
छो
बॉट: वर्तनी एकरूपता।
No edit summary
छो (बॉट: वर्तनी एकरूपता।)
{{आधार}}
पड़ोसी [[कण|कणों]] ([[परमाणु]], [[अणु]] या [[ऑयन]]) के बीच लगने वाले [[बल|बलों]] (आकर्षण या प्रतिकर्षण) को '''अंतराअणुक बल''' (Intermolecular forces) कहते हैं जबकि एक ही अणु के परमाणुओं के बीच लगने वाले बल को '''अन्तःअणुक बल''' (Intra-molecular force) कहते हैं। अन्तःअणुक बल की तुलना में अंतराअणुक बल काफी कमजोर होते हैं। उदाहरण के लिये, दो परमाणुओं के बीच इलेक्ट्रान शेयर करने वाला [[सहसंयोजी आबंध]] (covalent bond) दो पड़ोसी अणुओं के मध्य लगने वाले बल से बहुत अधिक होता है।
 
कुछ अंतराअणुक बल नीचे दिये गये हैं (बल के बढ़्ते हुए क्रम में):
 
* लन्दन डिस्पर्शन बल : (with binding energy between 0.05-40 kJ / mol)
* डेबी (Debye) का बल : (with binding energy between 2-10 kJ / mol)
* आयन-प्रेरित द्विध्रुव अन्तःक्रिया : (with binding energy between 3-15 kJ / mol)
* [[वान डर वाल्स बल]] : द्विध्रुव-द्विध्रुव अन्तःक्रिया (with binding energy between 5-25 kJ / mol)
* [[हाइड्रोजन आबन्ध]] : (with binding energy of between 10-40 kJ / mol)
* [[हैलोजन आबन्ध]] (with binding energy between 5-180 kJ / mol)
* ऑयन-विलायक अन्तःक्रिया : (with binding energy between 40-600 kJ / mol)
 
{{रासायनिक आबंध}}