"ज्यां-पाल सार्त्र" के अवतरणों में अंतर

13 बैट्स् नीकाले गए ,  4 वर्ष पहले
छो
बॉट: वर्तनी एकरूपता।
छो (बॉट: वर्तनी एकरूपता।)
छो (बॉट: वर्तनी एकरूपता।)
{{Infobox philosopher
|birth_name=ज्यां-पाल चार्ल्स अय्मर्द सार्त्र
| region = [[पाश्चात्य दर्शन]]
| era = [[२०वी सदी का दर्शन ]]
| image =Jean-Paul Sartre FP.JPG
| caption = सार्त्र १९५० मे
| name = {{nowrap|Jean-Paul Sartre}}
| other_names =
| birth_date = {{Birth date|df=yes|१९०५|६|२१}}
| birth_place = [[पेरिस]], [[फ्रान्स]]
| death_date = {{death date and age|df=yes|१९८०|४|१५|१९०५|६|२१}}
| death_place = [[पेरिस]], [[फ्रान्स]]
| signature = [[File:Jean-Paul Sartre signature.svg|100px]]
{{जीवनचरित-आधार}}
 
ज्यां-पाल सार्त्र [[अस्तित्ववाद]] के पहले विचारकों में से माने जाते हैं। वह बीसवीं सदी में फ्रान्स के सर्वप्रधान दार्शनिक कहे जा सकते हैं। कई बार उन्हें अस्तित्ववाद के जन्मदाता के रूप में भी देखा जाता है।
 
अपनी पुस्तक "ल नौसी" में सार्त्र एक ऐसे अध्यापक की कथा सुनाते हैं जिसे ये इलहाम होता है कि उसका पर्यावरण जिससे उसे इतना लगाव है वो बस कि़ञ्चित् निर्जीव और तत्वहीन वस्तुओं से निर्मित है। किन्तु उन निर्जीव वस्तुओं से ही उसकी तमाम भावनाएँ जन्म ले चुकी थीं।
 
सार्त्र का निधन अप्रैल १५, १९८० को पेरिस में हआ।