"अक्षय ऊर्जा" के अवतरणों में अंतर

3 बैट्स् नीकाले गए ,  3 वर्ष पहले
== भारत और अक्षय ऊर्जा ==
[[चित्र:Sonnenblume.jpg|अंगूठाकार|[[सूरजमुखी]], नवीकरणीय ऊर्जा का प्रतीक है क्योंकि यह सूर्य के प्रकाश का अत्यधिक उपयोग करता है, इससे [[बायोडीजल]] बनाया जाता है, तथा इसका 'मुख' [[सूरज]] जैसा लगता है।]]
देश का अपारम्परिक ऊर्जा कार्यक्रम विश्व के इस प्रकार के विशालतम कार्यक्रमों में से एक है। इसके अन्तर्गत विभिन्न प्रौद्योगिकी, बायोगैस, समुन्नत [[चूल्हा|चूल्हे]], बायोमासcauबायोमास cepik गैसीफायर, शीघ्र बढ़ने वाली वृक्ष-प्रजातियां, जैवीय पदार्थ का दहन एवं सह-उत्पादन, पवन-चक्कियों द्वारा जल निकासी, वायु टर्बाइनों द्वारा शक्ति का उत्पादन, सौर तापीय व फोटो वोल्टायिक प्रणालियाँ, नागरीय घरेलू तथा औद्योगिक अवजल व कचरे से ऊर्जा उत्पादन, हाइड्रोजन ऊर्जा, समुद्री ऊर्जा, फुएल सेल, विद्युत चालित वाहन (बसें) व परिवहन के लिए वैकल्पिक ऊर्जा स्रोतों पर कार्य हो रहा है।
 
आने वाले कुछ हजार वर्षों में ही हमारे परम्परागत ऊर्जा स्रोत समाप्त हो जायेंगे। जिसे बनाने में प्रकृति ने लाखों वर्ष लगाएं है उसे हम कुछ ही मिनटों में समाप्त कर देते हैं। पर्यावरणीय प्रदूषण, सामाजिक एवं आर्थिक दबाव तथा राजनीतिक उठापटक समस्या को और गंभीर बनाते हैं। अतएव नवीकरणीय ऊर्जा स्रोतों का विकास व प्रयोग तथा इस हेतु दृढ़ इच्छा शक्ति का होना आज की आवश्यकता है।
बेनामी उपयोगकर्ता