मुख्य मेनू खोलें

बदलाव

389 बैट्स् जोड़े गए, 2 वर्ष पहले
छो
बॉट: पुनर्प्रेषण ठीक कर रहा है
|time-begin= 8:46 सुबह
|time-end= 10:28 सुबह
|timezone=[[समन्वित सार्वत्रिक समय|यूटीसी-]]-4
|type= [[वायुयान अपहरण]], [[नरसंहार]], [[आत्मघाती हमला]], [[आतंकवाद]]
|fatalities=लगभग ३००० (१९ अपहर्ताओं को मिलाकर)
}}
{{Campaignbox al-Qaeda attacks}}
'''11 सितंबर के हमले''' (जिन्हें अक्सर '''सितम्बर 11''' या '''9/11''' कहा जाता है) 11 सितम्बर 2001 को [[संयुक्त राज्य|संयुक्त राज्य अमेरिका]] पर [[अल कायदा|अल-क़ायदा]] द्वारा समन्वित [[फ़िदायीनआत्मघाती हमला|आत्मघाती हमलों]] की एक श्रंखला थी।
उस दिन सबेरे, 19 अल कायदा [[आतंकवादी|आतंकवादियोंआतंकवाद]]ियों ने चार वाणिज्यिक यात्री जेट वायुयानों का अपहरण कर लिया।<ref name="Holmes">{{cite book|last=होल्म्स|first=स्टीफन|title=Making sense of suicide missions|year=2006|publisher=ऑक्सफोर्ड विश्वविद्दालय प्रेस|isbn=0199297975|editor=डियेगो गमबेट्टा|chapter=Al Qaeda, September 11, 2001}}</ref><ref name="Keppel2008">{{cite book|last=Keppel|first=Gilles|title=Al Qaeda in its own words|year=2008|publisher=Harvard University Press|isbn=067402804X|coauthors=Milelli, Jean-Pierre and Ghazaleh, Pascale}}</ref> अपहरणकर्ताओं ने जानबूझकर उनमें से दो विमानों को वर्ल्ड ट्रेड सेंटर, [[न्यूयॉर्क नगर|न्यूयॉर्क शहर]] के ट्विन टावर्स के साथ टकरा दिया, जिससे विमानों पर सवार सभी लोग तथा भवनों के अंदर काम करने वाले अन्य अनेक लोग भी मारे गए। दोनों भवन दो घंटे के अंदर ढह गए, पास की इमारतें नष्ट हो गईं और अन्य क्षतिग्रस्त हुईं। अपहरणकर्ताओं ने तीसरे विमान को बस वाशिंगटन डी॰सी॰ के बाहर, आर्लिंगटन, वर्जीनिया में [[पेंटागन]] में टकरा दिया। अपहरणकर्ताओं द्वारा वाशिंगटन डी॰सी॰ की ओर पुनर्निर्देशित किए गए चौथे विमान के कुछ यात्रियों एवं उड़ान चालक दल द्वारा विमान का नियंत्रण फिर से लेने के प्रयास के बाद, विमान ग्रामीण पेंसिल्वेनिया में शैंक्सविले के पास एक खेत में जा टकराया। किसी भी उड़ान से कोई भी जीवित नहीं बचा।
 
इन हमलों में लगभग 3,000 शिकार तथा 19 अपहरणकर्ता मारे गए।<ref name="FOX Responders">{{Cite news|publisher=FOX News|title=9 Years Later, Nearly 900 9/11 Responders Have Died, Survivors Fight for Compensation|date=सितंबर 11, 2010|url=http://www.foxnews.com/politics/2010/09/09/report-responders-died-ground-zero-illnesses/|accessdate=September 12, 2010}}</ref> न्यूयॉर्क राज्य स्वास्थ्य विभाग के अनुसार जून, 2009 तक अग्निशामकों एवं पुलिस कर्मियों सहित, 836 आपातसेवक मारे जा चुके हैं।<ref name="FOX Responders"/> वर्ल्ड ट्रेड सेन्टर पर हुए हमले में मारे गए 2,752 पीड़ितों में से न्यूयॉर्क शहर तथा पोर्ट अथॉरिटी के 343 अग्निशामक और 60 पुलिस अधिकारी थे।<ref>{{Cite news|last=Goldman|first=Henry|publisher=Bloomberg News|title=New York, U.S. Commemorate Sept. 11 Anniversary With Ceremonies, Protests|date=सितंबर 12, 2010|url=http://www.bloomberg.com/news/2010-09-11/new-york-u-s-commemorate-sept-11-anniversary-with-ceremonies-protests.html|accessdate=September 12, 2010}}</ref> पेंटागन पर हुए हमले में 184 लोग मारे गए थे।<ref>{{Cite news|publisher=Associated Press|title=Top military officer honors 9/11 Pentagon victims|date=सितंबर 11, 2010|url=http://www.google.com/hostednews/ap/article/ALeqM5hY5W5b-dPQ2wmj498Dkhe3OkhLcQD9I5ODLG0|accessdate=September 12, 2010}}</ref> हताहतों में 70 देशों के नागरिकों सहित नागरिकों की भारी संख्या थी।<ref name="countries_deaths">{{Cite journal|title=A list of the 77 countries whose citizens died as a result of the attacks on September 11, 2001|publisher=[[Bureau of International Information Programs|U.S. Department of State, Office of International Information Programs]]|url=http://www.interpol.int/public/ICPO/speeches/20020911List77Countries.asp|postscript=<!--None-->}}</ref> इसके अलावा, वहां कम से कम एक द्वित्तीयक मृत्यु हुई थी- चिकित्सा परीक्षक के अनुसार वर्ल्ड ट्रेड सेंटर के ढहने से धूल में प्रकटन के कारण हुए [[श्वसन तंत्र के रोग|फेफड़ों के रोग]] की वजह से एक व्यक्ति की मृत्यु हुई थी।<ref name="DustDeath">{{Cite web|title= Toxic dust adds to WTC death toll|publisher= msnbc.com| date=May 24, 2007|url=http://www.msnbc.msn.com/id/18831750/|accessdate=September 6, 2009}}</ref>
 
संयुक्त राज्य अमेरिका ने आतंक के विरुद्ध युद्ध शुरू करके हमले की प्रतिक्रिया व्यक्त की है: आतंकवाद को आश्रय देने वाले [[तालेबानतालिबान आन्दोलन|तालिबान]] को पदच्युत करने के लिए इसने [[अफ़्गानिस्तानअफ़ग़ानिस्तान|अफगानिस्तान]] पर आक्रमण कर दिया। संयुक्त राज्य अमेरिका ने यूएसए (USA) पैट्रियट एक्ट कानून भी बनाया। कई अन्य देशों ने भी अपने आतंकवाद विरोधी कानूनों को मजबूत बनाया तथा कानून प्रवर्तक क्षमताओं का विस्तार किया। कुछ अमेरिकी शेयर बाजार हमले के बाद सप्ताह के शेष दिनों में बंद रहे तथा फिर से खुलने पर भारी घाटा, खासकर एयरलाइन और बीमा उद्योग में, दर्ज किया। अरबों डॉलर के कार्यालय स्थान के नष्ट होने से लोअर मैनहटन की अर्थव्यवस्था को गंभीर हानि का सामना करना पड़ा।
 
पेंटागन को हुए नुकसान के एक वर्ष के अंदर साफ कर दिया गया और मरम्मत कर दी गई तथा भवन के बगल में पेंटागन स्मारक का निर्माण किया गया। वर्ल्ड ट्रेड सेंटर स्थल पर पुनर्निर्माण की प्रक्रिया शुरू हो गई है। 2006 में, एक नया कार्यालय टॉवर 7 वर्ल्ड ट्रेड सेंटर के स्थल पर पूर्ण हो गया। वर्तमान में नया 1 वर्ल्ड ट्रेड सेंटर स्थल पर निर्माणाधीन है और 2013 में पूर्ण होने पर 1,776 फुट (541मी) ऊंचाई वाली यह उत्तरी अमेरिका में सबसे ऊंची इमारत हो जाएगी। मूल रूप से तीन और टावर 2007 और 2012 के बीच उस स्थल पर बनाए जाने की उम्मीद की गई थी। 8 नवम्बर 2009 को फ्लाइट 93 नेशनल मेमोरियल की परियोजना प्रारंभ का गई थी और प्रथम चरण का निर्माण 11 सितम्बर 2011 को हमलों की दसवीं सालगिरह के लिए तैयार हो जाने का आशा है।<ref>[http://www.google.com/hostednews/ap/article/ALeqM5g6VDpPx3zLxo6gOQ90dfY8Qdl5IgD9BQUD580 ग्राउंड ब्रोकेन फॉर फ्लाईट 93 ममोरीअल इन पा।]{{Dead link|date=जुलाई 2010}}</ref>
[[चित्र:UA93 path.svg|thumb|right|11 सितंबर को दक्षिणी पेंसिल्वेनिया में दुर्घटनाग्रस्त होने के पहले फ्लाइट 93 का पथ.]]
 
11 सितम्बर 2001 को जल्दी सवेरे, [[बोस्टन, मसाचुएट्स|बोस्टन]], नेवार्क और [[डिस्ट्रिक्ट ऑफ कोलंबिया|वॉशिंगटन डी॰सी॰]] (वॉशिंगटन डलेस अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा) से [[सैन फ़्रांसिस्को|सैन फ्रांसिस्को]] तथा लॉस एंजिल्स जा रहे चार वाणिज्यिक विमानों पर उन्नीस अपहरणकर्ताओं ने कब्जे में ले लिया।<ref name="SecCounc">{{Cite web|title=Security Council Condemns, 'In Strongest Terms', Terrorist Attacks on the United States|publisher=संयुक्त राष्ट्र|date=सितंबर 12, 2001| url=http://www.un.org/News/Press/docs/2001/SC7143.doc.htm|accessdate=September 11, 2006|quote=The Security Council today, following what it called yesterday’s "horrifying terrorist attacks" in New York, Washington, D.C., and Pennsylvania, unequivocally condemned those acts, and expressed its deepest sympathy and condolences to the victims and their families and to the people and Government of the United States.}}</ref> प्रातः 8:46 बजे, अमेरिकी एयरलाइंस की फ्लाइट 11 वर्ल्ड ट्रेड सेंटर के नॉर्थ टॉवर से जा टकराई, इसके बाद प्रातः 9:03 बजे यूनाइटेड एयरलाइंस की फ्लाइट 175 साउथ टॉवर से टकराई।<ref>{{Cite web|url=http://www.ntsb.gov/info/Flight_%20Path_%20Study_AA11.pdf |title=Flight Path Study – American Airlines Flight 11 |publisher=National Transportation Safety Board |date=फ़रवरी 19, 2002 |format=PDF}}</ref><ref>{{Cite web|url=http://www.ntsb.gov/info/Flight_%20Path%20_Study_UA175.pdf |title=Flight Path Study – United Airlines Flight 175 |publisher=National Transportation Safety Board |date=फ़रवरी 19, 2002 |format=PDF}}</ref>
 
अपहरणकर्ताओं के एक अन्य समूह ने प्रातः 9:37 बजे अमेरिकन एयरलाइंस फ्लाइट 77 को [[पेंटागन]] में टकरा दिया।<ref>{{Cite web|url=http://www.ntsb.gov/info/Flight_%20Path_%20Study_AA77.pdf |title=Flight Path Study – American Airlines Flight 77 |publisher=National Transportation Safety Board |date=फ़रवरी 19, 2002 |format=PDF}}</ref> एक चौथाई उड़ान, यूनाइटेड एयरलाइंस फ्लाइट 93 विमान पर सवार यात्रियों और अपहरणकर्ताओं के बीच लड़ाई के बाद प्रातः 10:03 बजे, पेंसिल्वेनिया में शैंक्सविले के निकट दुर्घटनाग्रस्त हो गई। माना जाता है कि इसका अंतिम लक्ष्य या तो कैपिटल (संयुक्त राज्य अमेरिका कांग्रेस का बैठक स्थल) या [[व्हाइट हाउस]] था।<ref name="Chap7">{{Cite book|chapter=The Attack Looms |url=http://govinfo.library.unt.edu/911/report/911Report_Ch7.htm |year=2004 |title=9/11 Commission Report |publisher=National Commission on Terrorist Attacks Upon the United States |accessdate=July 2, 2008}}</ref><ref>{{Cite web|url=http://www.ntsb.gov/info/Flight%20_Path_%20Study_UA93.pdf |title=Flight Path Study – United Airlines Flight 93 |publisher=National Transportation Safety Board |date=फ़रवरी 19, 2002 |format=PDF}}</ref>
 
सितम्बर 2002 में वृत्तचित्र निर्माता योसरी फाउदा द्वारा आयोजित एक साक्षात्कार में [[अल जज़ीरा|अल जजीरा]] के पत्रकार खालिद शेख मोहम्मद और रैमजी बिनलशीभ ने कहा कि चौथा अपहृत विमान संयुक्त राज्य अमेरिका कैपिटल जा रहा था न कि व्हाइटहाउस.कैपिटल उन्होंने आगे कहा कि अल कायदा ने शुरू में वर्ल्ड ट्रेड सेंटर और पेंटागन के बजाय परमाणु प्रतिष्ठानों में अपहृत विमानों को उड़ाने की योजना बनाई थी लेकिन स्थिति "नियंत्रण से बाहर हो जाने" के डर से "उस समय के लिए" परमाणु ऊर्जा संयंत्रों पर हमला नहीं करने का फैसला किया गया था।<ref>{{Cite news|title= Al-Qaeda 'plotted nuclear attacks'|publisher = बीबीसी न्यूज़|date = September 8, 2002|url=http://news.bbc.co.uk/2/hi/middle_east/2244146.stm |accessdate =Jan 2010}}</ref>
 
कुछ यात्री केबिन एयरफोन सेवा तथा मोबाइल फोन का उपयोग करके फोन कॉल करने में<ref name="93phone">{{Cite news|url=http://www.post-gazette.com/headlines/20010916phonecallnat3p3.asp |title=The phone line from Flight 93 was still open when a GTE operator heard Todd Beamer say: 'Are you guys ready? Let's roll' |publisher=Pittsburgh Post-Gazette |date=सितंबर 16, 2001 |author=McKinnon, Jim |accessdate=May 18, 2008}}</ref><ref>{{Cite news|url=http://archives.cnn.com/2001/US/09/12/family.reacts/index.html |title=Relatives wait for news as rescuers dig |publisher=CNN |date=सितंबर 13, 2001 |accessdate=May 20, 2008}}</ref> तथा यह विवरण देने में सफल हो गए कि प्रत्येक विमान पर बहुत से अपहरणकर्ता सवार थे, कि जावित्री या हानिकारक रासायनिक छिड़काव के अन्य रूप, जैसे अश्रु गैस या काली मिर्च का छिड़काव किया गया था और कि विमान पर सवार कुछ यात्रियों को चाकू से मारा गया था।<ref name="wilgoren">{{Cite news|url=http://query.nytimes.com/gst/fullpage.html?res=9B03E5DB1038F930A2575AC0A9679C8B63 |title=On Doomed Flight, Passengers Vowed To Perish Fighting |author=Wilgoren, Jodi and Edward Wong |date=सितंबर 13, 2001 |publisher=दि न्यू यॉर्क टाइम्स |accessdate=November 11, 2008}}</ref><ref>{{Cite news|url=http://articles.latimes.com/2006/apr/11/nation/na-moussa11 |title=Moussaoui Jury Hears the Panic From 9/11 |author=Serrano, Richard A. |publisher=Los Angeles Times |date=अप्रैल 11, 2006 |accessdate=October 24, 2008}}</ref><ref>{{Cite news|url=http://www.sfgate.com/cgi-bin/article.cgi?file=/chronicle/archive/2004/01/28/MNGQ04JEEH1.DTL |title=Hijackers used Mace, knives to take over airplanes |publisher=San Francisco Chronicle |date=जनवरी 28, 2004 |author=Goo, Sara Kehaulani, Dan Eggen |accessdate=November 12, 2008}}</ref><ref name="CNN1">{{Cite news|last = Ahlers| first = Mike M.|title = 9/11 panel: Hijackers may have had utility knives|publisher= CBS News |date= January 27, 2004| url=http://www.cnn.com/2004/US/01/27/911.commis.knife/|accessdate = September 7, 2006}}</ref> रिपोर्टों ने संकेत दिया कि दो उड़ानों के दौरान, अपहरणकर्ताओं ने विमान चालकों, उड़ान परिचारकों और कम से कम एक मामले में, एक यात्री की चाकुओं से हत्या कर दी थी।<ref name="911-ch1">{{Cite book|url=http://www.9-11commission.gov/report/911Report_Ch1.pdf|title=9/11 Commission Report|chapter=Chapter 1.1: 'We Have Some Planes': Inside the Four Flights|year=2004|publisher=National Commission on Terrorist Attacks Upon the United States|accessdate=April 22, 2009|format=PDF|pages=4–14}}</ref><ref>{{Cite news|url=http://transcripts.cnn.com/TRANSCRIPTS/0201/06/lklw.00.html |title=Encore Presentation: Barbara Olson Remembered |work=Larry King Live |publisher=CNN |date=जनवरी 6, 2002 |accessdate=November 12, 2008}}</ref> 9/11 आयोगने यह स्थापित किया है कि दो अपहरणकर्ताओं ने हाल ही में लैदरमैन बहुप्रकार्य हस्त उपकरण खरीदे थे।<ref name="commission">{{Cite web| title=National Commission Upon Terrorist Attacks in the United States| url=http://www.9-11commission.gov/archive/hearing7/9-11Commission_Hearing_2004-01-27.htm| publisher=National Commission Upon Terrorist Attacks in the United States| accessdate=January 24, 2008| date=January 27, 2004}}</ref> फ्लाइट 11 के एक उड़ान परिचारक, फ्लाइट 175 के एक यात्री और फ्लाइट 93 के यात्रियों ने बताया कि अपहरणकर्ताओं के पास बम थे, लेकिन एक यात्री ने यह भी कहा कि उसके विचार से बम नकली थे। दुर्घटना स्थलों पर विस्फोटकों के कोई अवशेष नहीं पाए गए थे और 9/11 आयोग का मानना था कि बम शायद नकली थे।<ref name="911-ch1"/>
घटना स्थल पर पहुंच कर लोगों को बचाने और आग को बुझाने का प्रयत्न करने वाले कुल 411 आपातकालीन कार्यकर्ता मारे गये। न्यूयॉर्क सिटी फायर विभाग (एफडीएनवाई (FDNY)) ने 341 अग्निशामक और 2 एफडीएनवाई (FDNY) सहायक चिकित्सक गंवाए।<ref>{{Cite news|author=Denise Grady |coauthors=Andrew C. Revkin |title= Threats and responses: rescuer's health; Lung Ailments May Force 500 Firefighters Off Job |url=http://query.nytimes.com/gst/fullpage.html?res=9C05E1DC1631F933A2575AC0A9649C8B63 |date=सितंबर 10, 2002 |publisher=दि न्यू यॉर्क टाइम्स |accessdate=May 23, 2008}}</ref> न्यूयॉर्क शहर पुलिस विभाग ने 23 अधिकारियों को खो दिया।<ref>{{Cite news|title=Post-9/11 report recommends police, fire response changes |url=http://www.usatoday.com/news/nation/2002-08-19-nypd-nyfd-report_x.htm |date=अगस्त 19, 2002 |agency=Associated Press |publisher=USA Today |accessdate=May 23, 2008}}</ref> पत्तन प्राधिकरण पुलिस विभाग ने 37 अधिकारियों को खो दिया<ref>{{Cite news|title=Police back on day-to-day beat after 9/11 nightmare |url=http://archives.cnn.com/2002/US/07/20/wtc.police/index.html |date=जुलाई 21, 2002 |publisher=CNN |accessdate=May 23, 2008}}</ref> और निजी ईएमएस (EMS) इकाइयों के 8 अतिरिक्त ईएमटी'ज (EMTs) मारे गए थे।<ref>{{Cite web|author=Joshi, Pradnya |url=http://www.newsday.com/news/port-authority-workers-to-be-honored-1.695524 |title=Port Authority workers to be honored |publisher=Newsday |date=सितंबर 8, 2005 |accessdate=May 20, 2008}}</ref><ref name="National EMS Memorial">{{Cite web|title=National EMS Memorial|url=http://nemsms.org/notices01.htm|title=2001 Notices of Line of Duty Death|publisher = National EMS Memorial Service |accessdate=September 11, 2007}}</ref>
 
101वीं-105वीं मंजिल पर स्थित एक निवेश बैंक कैंटर फिजराल्ड एल॰पी॰ ने किसी अन्य नियोक्ता की अपेक्षा काफी अधिक, 658 कर्मचारी गंवाए।<ref>{{Cite news|url=http://news.bbc.co.uk/2/hi/americas/5282060.stm?lsf |title=Cantor rebuilds after 9/11 losses |publisher=BBC |date=सितंबर 4, 2006 |accessdate=May 20, 2008}}</ref> कैंटर के बिलकुल नीचे 93-101 मंजिल पर (फ्लाइट 11 की टक्कर का स्थल) स्थित मार्श इंक. ने 355 कर्मचारी गंवाए और एओन कॉर्पोरेशन के 175 कर्मचारी मारे गए।<ref>{{Cite news|url=http://www.investmentnews.com/apps/pbcs.dll/article?AID=/20070911/REG/70911011 |title=Industry honors fallen on 9/11 anniversary |publisher=InvestmentNews |author= Siegel, Aaron |date=सितंबर 11, 2007 |accessdate=May 20, 2008}}</ref> न्यूयॉर्क के बाद, [[नया जर्सी|न्यू जर्सी]] सर्वाधिक प्रभावित राज्य रहा जिसके शहर, होबोकेन ने सबसे ज्यादा मौतें झेलीं.<ref name="beveridge">{{Cite web|url=http://www.gothamgazette.com/demographics/91102.shtml |title=9/11/01-02: A Demographic Portrait Of The Victims In 10048 |publisher=Gotham Gazette |author=Beveridge, Andrew |accessdate=May 20, 2008}}</ref>
 
हमले के सप्ताहों बाद, मृतकों की संख्या 6,000 से अधिक होने का अनुमान था, लेकिन यह संख्या वास्तविक पुष्ट मौतों की दोगुनी से अधिक निकली।<ref>{{Cite news|url=http://edition.cnn.com/2001/US/09/29/gen.america.under.attack/index.html |title=Source: Hijacking suspects linked to Afghanistan |publisher=CNN |date=सितंबर 30, 2001 |accessdate=June 8, 2008}}</ref> यह शहर वर्ल्ड ट्रेड सेंटर के लगभग 1,600 पीड़ितों के अवशेषों की ही पहचान करने में समर्थ हो सका है। चिकित्सा परीक्षक कार्यालय ने भी "लगभग 10,000 अज्ञात हड्डियों और ऊतकों के टुकड़े एकत्र किए हैं जिनका मृतकों की सूची से मिलान नहीं हो सका है।<ref name="CBS2">{{Cite news| title=Ground Zero Forensic Work Ends| publisher=CBS News| date=February 23, 2005| url=http://www.cbsnews.com/stories/2005/02/23/national/main675839.shtml| accessdate=May 20, 2008}}</ref> हड्डी के टुकड़े अभी 2006 में भी पाए गए जब मजदूर क्षतिग्रस्त ड्यूश बैंक की इमारत को ध्वस्त करने की तैयारी कर रहे थे। यह ऑपरेशन 2007 में पूरा हुआ। 2 अप्रैल 2010 को नृविज्ञान एवं पुरातात्विक विशेषज्ञों के एक दल ने स्टेटन आइलैंड पर फ्रेश किल्स लैंडफिल में मानव अवशेषों, मानव निर्मित कलाकृतियों तथा निजी वस्तुओं को खोजना आरंभ किया। यह आपरेशन जून 2010 में पूर्ण हो गया जिसमें 72 मानव अवशेष पाए गए, इसके साथ ही पाए गए कुल मानव अवशेष 1845 हो गए हैं। 2,753 पीड़ितों में से 1,629<ref>उड़ान 11 के 87 पीड़ितों को ({{Cite news| url=http://www.cnn.com/SPECIALS/2001/memorial/lists/by-location/page93.html |title=American Airlines Flight 11 | work=CNN}}), उड़ान 175 के 60 पीड़ितों ({{Cite news| url=http://www.cnn.com/SPECIALS/2001/memorial/lists/by-location/page100.html |title=United Airlines Flight 175 | work=CNN}}) और टावरों के 2606 पीड़ितों को ({{Cite news| url=http://edition.cnn.com/2009/CRIME/11/13/khalid.sheikh.mohammed/index.html| title=Accused 9/11 plotter Khalid Sheikh Mohammed faces New York trial | work=CNN | date=November 13, 2009}}) यदि हम जोड़ें तो हमें कुल 2753 पीड़ित लोग प्राप्त होंगे.</ref> की शिनाख्त हो पाई है। अतिरिक्त पीड़ितों की पहचान के लिए [[डीऑक्सीराइबोन्यूक्लिकडीऑक्सीराइबो न्यूक्लिक अम्ल|डीएनए (DNA)]] प्रोफाइलिंग की कोशिश जारी है।<ref>[http://www.newsday.com/news/new-york/more-remains-found-at-wtc-site-1.2045994 डब्ल्यूटीसी (WTC) साइट न्यूज़डे पर अधिक अवशेष पाए गए 22 जून 2010]</ref>
 
=== क्षति ===
{{See also|Responsibility for the September 11 attacks|Hijackers in the September 11 attacks|Trials related to the September 11 attacks|20th hijacker}}
 
हमले के कुछ ही घंटों के अंदर, एफबीआई (FBI) संदिग्ध विमान चालकों तथा अपहरणकर्ताओं के नाम तथा कई मामलों में निजी विवरण भी निर्धारित करने में सफल हुई.<ref>{{Cite book|title=[[Against All Enemies|Against All Enemies: Inside America's War on Terrorism]] |last=Clarke |first=Richard A. |year=2004 |publisher=[[Simon & Schuster]] |location=New York |isbn=0-743-26823-7 |pages=13–14}}</ref><ref>{{Cite web| title = FBI Announces List of 19 Hijackers|publisher = Federal Bureau of Investigation|date=सितंबर 14, 2001| url=http://www.fbi.gov/pressrel/pressrel01/091401hj.htm| accessdate = September 7, 2006|archiveurl=http://web.archive.org/20010914223046/www.fbi.gov/pressrel/pressrel01/091401hj.htm|archivedate=September 14, 2001}} {{Dead link|date=अक्टूबर 2010|bot=H3llBot}}</ref> [[मिस्र]] का मोहम्मद अत्ता 19 अपहरणकर्ताओं का सरगना और विमान चालकों में से एक था।<ref>{{Cite news|title=The Hamburg connection |url=http://news.bbc.co.uk/1/hi/world/europe/2349195.stm |publisher=बीबीसी न्यूज़ |date=अगस्त 19, 2005 |accessdate=October 3, 2008}}</ref> अत्ता अन्य अपहरणकर्ताओं के साथ हमले में मर गया था, लेकिन उसकी पोर्टलैंड उड़ान से फ्लाइट 11 के साथ संबंध नहीं बना पाने के कारण मिले उसके सामान में से प्रप्त कागजात से सभी 19 अपहरणकर्ताओं की पहचान तथा उनकी योजनाओं, उद्देश्यों तथा पृष्ठभूमियों के बारे में महत्त्वपूर्ण सुरागों की जानकारी मिली.<ref>{{Cite news|author=Dorman, Michael |url=http://www.securityinfowatch.com/Homeland+Security/unraveling-9-11-was-bags |title=Unraveling 9–11 was in the bags |publisher=Security Info Watch |date=अप्रैल 17, 2006 |accessdate=September 8, 2009}}</ref> दोपहर तक, [[नेशनलराष्ट्रीय सेक्यूरिटीसुरक्षा एजेंसी, अमेरिका|राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी]] ने जर्मन खुफिया एजेंसियों की भांति [[ओसामा बिन लादेन]] को भेजे गए एक संदेश को बीच में पकड़ लिया।<ref>{{Cite news|title=Piece by Piece, The Jigsaw of Terror Revealed |url=http://news.independent.co.uk/world/americas/article218611.ece |publisher=[[The Independent]] |date=सितंबर 30, 2001 |accessdate=May 20, 2008|location=London|first=Al-Qa'edah|last=Leaders}}{{Dead link|date=जुलाई 2010}}</ref><ref>{{Cite news|first=John |last=Tagliabue |coauthors=Raymond Bonner |url=http://query.nytimes.com/gst/fullpage.html?res=9A0DE5DA173DF93AA1575AC0A9679C8B63 |title=A Nation challenged: German Intelligence; German Data Led U.S. to Search For More Suicide Hijacker Teams |publisher=दि न्यू यॉर्क टाइम्स |date=सितंबर 29, 2001 |accessdate=May 21, 2008}}</ref>
 
27 सितंबर 2001 को, एफबीआई (FBI) ने 19 अपहर्ताओं की तस्वीरें, उनकी संभावित राष्ट्रीयता और उपनामों के साथ जारी कर दी, कई फर्जी नाम और उसके साथ के बारे में जानकारी देशों संभव.<ref>{{Cite web|url=http://www.fbi.gov/pressrel/pressrel01/092701hjpic.htm |title=The FBI releases 19 photographs of individuals believed to be the hijackers of the four airliners that crashed on September 11, 01 |work=[[Federal Bureau of Investigation]] |publisher=[[United States Department of Justice]] |date=सितंबर 27, 2001 |accessdate=May 20, 2008|archiveurl=http://web.archive.org/20011001123059/www.fbi.gov/pressrel/pressrel01/092701hjpic.htm|archivedate=October 1, 2001}}</ref> अपहर्ताओं में से पंद्रह [[सउदी अरब|सऊदी अरब]] से, दो [[संयुक्त अरब अमीरात]] से, एक मिस्र से (अत्ता) और एक [[लेबनान]] से था।<ref>{{Cite news| last=Johnston| first=David| title= Two years later: 9/11 Tactics; Official Says Qaeda Recruited Saudi Hijackers to Strain Ties| url=http://query.nytimes.com/gst/fullpage.html?res=9803E4DD143BF93AA3575AC0A9659C8B63| date=September 9, 2003| publisher=दि न्यू यॉर्क टाइम्स| accessdate=May 19, 2008}}</ref>
=== अल-क़ायदा ===
{{Main|अल कायदा}}
अल-क़ायदा की जड़ें पीछे 1979 में खोजी जा सकती हैं जब [[सोवियत संघ]] ने [[अफ़ग़ानिस्तान में सोवियत युद्ध|अफगानिस्तान पर आक्रमण किया था]]. आक्रमण के तुरंत बाद, [[ओसामा बिन लादेन]] ने अफगानिस्तान की यात्रा की थी, जहां उसने अरब मुजाहिदीन को संगठित करने में मदद की तथा सोवियतों का प्रतिरोध करने के लिए मकतब अल-खिदमत (एमएके (MAK)) संगठन की स्थापना की। संघ सोवियत के साथ युद्ध के दौरान, बिन लादेन और उसके लड़ाकों को धन अमेरिका और सऊदी अरब से प्राप्त हुआ था, अमेरिकी और अधिकांश सऊदी धन [[पाकिस्तान]] की खुफिया सेवा [[इंटर-सर्विसेस इंटेलिजेंस|आईएसआई (ISI)]] के माध्यम से आपूर्ति की गई थी।<ref>{{Cite news|publisher=बीबीसी न्यूज़|title=Al-Qaeda's origins and links|date=जुलाई 20, 2004|url=http://news.bbc.co.uk/2/hi/middle_east/1670089.stm|accessdate=December 7, 2009}}</ref> 1989 में जब सोवियत संघ पीछे हट गया, तो एमएके (MAK) को पूरी मुस्लिम दुनिया में सरकारों के खिलाफ [[जेहाद|जिहाद]] में एक "त्वरित प्रतिक्रिया बल" में परिवर्तित कर दिया गया। अयमान अल-ज़वाहिरी के मार्गदर्शन में ओसामा बिन लादेन अधिक कट्टरपंथी बन गया।<ref name="gunaratna-p23">{{Cite book|author=Gunaratna, Ronan |title=Inside Al Qaeda |year=2002 |publisher=Berkley Books |pages=23–33}}</ref> 1996 में बिन लादेन ने अपना पहला फतवा जारी किया, जिसमें कहा गया था कि अमेरिकी सैनिक सऊदी अरब छोड़ दें.<ref>{{Cite web|url=http://www.pbs.org/newshour/terrorism/international/fatwa_1996.html |title=Bin Laden's fatwā (1996) |publisher=PBS |accessdate=May 20, 2008}}</ref>
 
1998 में एक में जारी किए गए दूसरे फतवे में बिन लादेन ने [[इज़रायलइज़राइल|इसरायल]] के प्रति अमेरिकी विदेश नीति तथा साथ ही खाड़ी युद्ध के बाद से अमेरिकी फौजों की [[सउदी अरब|सऊदी अरब]] में लगातार उपस्थिति के प्रति अपनी आपत्तियां रेखंकित कीं.<ref name="1998FatwaPBS">{{Cite web|url=http://www.pbs.org/newshour/terrorism/international/fatwa_1998.html |title=Al Qaeda's 1998 fatwā |work=[[The NewsHour with Jim Lehrer]] |publisher=[[Public Broadcasting Service]] |accessdate=May 19, 2008}}</ref> कथित शिकायतों के उलटने तक अमेरिकी सेना और नागरिकों के खिलाफ हिंसात्मक कार्यवाही को प्रोत्साहित करने के लिए, यह कह कर कि संपूर्ण इतिहास में [[उलेमाउलमा|उलेमाओं]]ओं ने सर्वसम्मति से माना है कि अगर दुश्मन मुस्लिम देशों को नष्ट करता है तो, जिहाद हर एक का निजी फर्ज है, बिन लादेन ने इस्लामिक ग्रंथों का उपयोग किया।<ref name="1998FatwaPBS"/>
 
=== हमलों की योजना ===
{{Main|९/११ के हमलों की योजना}}
11 सितम्बर की साजिश का विचार खालिद शेख मोहम्मद से आया जिसने यह विचार 1996 में ओसामा बिन लादेन के समक्ष प्रस्तुत किया।<ref>{{Cite news|url=http://news.bbc.co.uk/2/hi/south_asia/3128802.stm |title=Suspect 'reveals 9/11 planning' |publisher=बीबीसी न्यूज़ |date=सितंबर 22, 2003 |accessdate=May 20, 2008}}</ref> इस समय, [[सूडान]] से वापस [[अफ़्गानिस्तानअफ़ग़ानिस्तान|अफगानिस्तान]] स्थानांतरित होकर, बिन लादेन और अल कायदा संक्रमण की अवस्था में थे।<ref name="911-ch5">{{Cite book|author=National Commission on Terrorist Attacks Upon the United States |title=9/11 Commission Report |chapter=Chapter 5 |publisher=Government Printing Office |year=2004 |url=http://www.9-11commission.gov/report/911Report_Ch5.htm |accessdate=May 20, 2008 |isbn=1577363418}}</ref> बिन लादेन के अमेरिका पर हमले के इरादे के साथ, 1998 में अफ्रीकी दूतावास में बम विस्फोट तथा बिन लादेन के 1998 के फतवे से एक नया मोड़ आया।<ref name="911-ch5"/> दिसंबर 1998 में, निदेशक केन्द्रीय खुफिया आतंकवाद प्रतिरोधी केंद्र ने [[विलियम क्लिंटन|राष्ट्रपति बिल क्लिंटन]] को रिपोर्ट दी कि अपने कर्मियों को विमान अपहरण का प्रशिक्षण देने के साथ, अल-कायदा अमेरिका (USA) में हमलों की तैयारी कर रहा था।<ref>{{Cite web
|title = Bin Ladin Preparing to Hijack US Aircraft and Other Attacks
|date = 1998-12-04
{{Main|ओसामा बिन लादेन|ओसामा बिन लादेन के वीडियो संदेश}}
{{Wikinews|Wikileaks obtains 10 years of messages, interviews from Osama bin Laden translated by CIA}}
ओसामा बिन लादेन की संयुक्त राज्य अमेरिका के विरुद्ध [[जिहाद|जेहाद]] की घोषणा तथा 1998 में अमेरिकी नागरिकों की हत्या करने के लिए उसके और अन्य के हस्ताक्षर से जारी फतवे को जांचकर्ताओं द्वारा ऐसे कृत्य करने की उसकी प्रेरणा के रूप में देखा गया।<ref>{{Cite book|author=रोहन गुनारथ्ना|title=Inside Al Qaeda, Global Network of Terror|trans_title=अलकायदा के भीतर - वैश्विक आतंकवाद का जाल|year=2002 |publisher=बर्कले बुक्स|pages=61–62}}</ref>
 
शुरू में बिन लादेन ने इनकार किया, लेकिन बाद में घटनाओं में भागीदारी स्वीकार कर ली।<ref name="cbc-2004"/><ref name="ajNov2004">{{Cite news|archiveurl=http://web.archive.org/web/20070613014620/http://english.aljazeera.net/English/archive/archive?ArchiveId=7403 |archivedate=अप्रैल 10, 2007 |url=http://english.aljazeera.net/English/archive/archive?ArchiveId=7403 |title=Full transcript of bin Ladin's speech|trans_title=बिन लादेन के भाषण की पूरी प्रति|publisher=[[अल जज़ीरा|अल ज़जीरा]] |date=नवम्बर 2, 2004 |accessdate=मई 20, 2008}}</ref> 16 सितंबर 2001 को [[क़तर|कतर]] के [[अल जजीराजज़ीरा|अल-जजीरा]] सेटेलाइट टेलीविजन पर प्रसारित एक वक्तव्य पढ़ते हुए बिन लादेन ने हमलों में उसके शामिल होने से इनकार कियाः "मैं जोर देकर कहता हूं कि मैं ने यह काम नहीं किया है, ऐसा लगता है कि यह काम किन्हीं व्यक्तियों द्वारा अपनी स्वयं की प्रेरणा से किया गया है।"<ref>{{Cite news|title=Pakistan to Demand Taliban Give Up Bin Laden as Iran Seals Afghan Border |url=http://www.foxnews.com/story/0,2933,34440,00.html |publisher=[[फॉक्स न्यूज़]] |date=सितंबर 16, 2001 |accessdate=मई 20, 2008}}</ref> इस इन्कार को अमेरिका और दुनिया भर में समाचार चैनलों पर प्रसारित किया गया।
 
नवंबर 2001 में अमेरिकी सेना ने जलालाबाद, [[अफ़ग़ानिस्तान|अफगानिस्तान]] में एक नष्ट मकान से बरामद एक वीडियो टेप बरामद किया जिसमें ओसामा बिन लादेन खालिद अल-हरबी से बात कर रहा था। टेप में लादेन ने यह माना था कि उसे हमलों का पूर्वज्ञान था।<ref>{{Cite news|title = Bin Laden on tape: Attacks 'benefited Islam greatly'|trans_title=बिन लादेन: हमलों से इस्लाम को बहुत फायदा हुआ।|publisher=सीएनएन| date= दिसम्बर 14, 2001| url = http://archives.cnn.com/2001/US/12/13/ret.bin.laden.videotape/| accessdate = नवम्बर 9, 2007 |quote=Reveling in the details of the fatal attacks, bin Laden brags in Arabic that he knew about them beforehand and says the destruction went beyond his hopes. He says the attacks "benefited Islam greatly"।}}</ref> इस टेप को 13 दिसम्बर 2001 से विभिन्न समाचार नेटवर्क पर प्रसारित किया गया। टेप पर उसकी विकृत छवि के लिए टेप स्थानान्तरण की तकनीक को जिम्मेदार ठहराया गया है।<ref>{{Cite web|author=Haas, Ed |title=Taking the fat out of the fat bin Laden confession video |date=मार्च 7, 2007 |publisher=Muckraker Report |url=http://muckrakerreport.com/id372.html |accessdate=May 1, 2008}}</ref> बिन लादेन को पूर्वज्ञान होने के विस्तृत घटनाक्रम का खुलासा सितम्बर 2002 में एक वृत्तचित्र निर्माता योसरी फाउदा द्वारा खालिद शेख मोहम्मद और रैम्जी बिनालशिभ के साथ आयोजित एक साक्षात्कार में हुआ: अमेरिका में शहादत ऑपरेशन शुरू करने का निर्णय अल-कायदा की सैन्य समिति द्वारा 1999 के आरंभ में लिया गया था;
हमले के लिए तारीख (9/11/01) पर निर्णय लेने के बाद, अत्ता ने 29 अगस्त 2001 को बिनालशिभ को सूचना दी और बिन लादेन को यह सूचना 6 सितम्बर 2001 को दी गई थी।<ref>{{Cite news|title= Al-Qaeda 'plotted nuclear attacks'|trans_title=अल कायदा ने परमाणु हमलों की योजना बनाई।|publisher =बीबीसी समाचार|date = सितम्बर 8, 2002
| url=http://news.bbc.co.uk/2/hi/middle_east/2244146.stm |accessdate =जनवरी 2010}}</ref>
 
27 दिसम्बर 2001 को, बिन लादेन का एक दूसरा वीडियो जारी किया गया था। इस वीडियो में वह कहता है कि, "हमारे लोगों को मारने वाले [[इज़रायलइज़राइल|इसरायल]] का समर्थन करने से अमेरिका को रोकने के उद्देश्य से अमेरिका के खिलाफ आतंकवाद प्रशंसा का हकदार है, क्योंकि यह अन्याय की प्रतिक्रिया थी," लेकिन उसने हमलों की जिम्मेदारी स्वीकार करना बंद कर दिया।<ref>{{Cite news|title= Transcript: Bin Laden video excerpts
|publisher=बीबीसी समाचार|date= दिसम्बर 27, 2001| url = http://news.bbc.co.uk/1/hi/world/middle_east/1729882.stm| accessdate = सितम्बर 7, 2006}}</ref>
 
2004 में अमेरिकी राष्ट्रपति पद के चुनाव से कुछ पहले, टेप किए अपने बयान में बिन लादेन ने सार्वजनिक रूप से अमेरिका पर हमले में अल-कायदा की भागीदारी स्वीकार की और इन हमलों के साथ अपना सीधा संपर्क स्वीकार किया। उसने कहा कि हमले किए गए थे, "क्योंकि हम आज़ाद हैं।..और अपने देश के लिए पुनः आजादी हासिल करना चाहते हैं। जिस प्रकार आप हमारी सुरक्षा को कमजोर समझते हैं, उसी प्रकार हम आपकी सुरक्षा को कमजोर समझते हैं।"<ref>{{Cite news|last=माइकल|first=मैगी |url=http://www.signonsandiego.com/news/nation/terror/20041029-1423-binladentape.html |title=Bin Laden, in statement to U.S. people, says he ordered Sept. 11 attacks [अमेरिकी लोगों को अपने सम्बोधन में बिन लादेन ने ९/११ के हमलों की जिम्मेदारी ली।]|agency=[[एसोसिएटेड प्रेस]]|publisher=SignOnSanDiego.com |date=अक्टूबर 29, 2004 |accessdate=मई 2, 2008}}</ref> ओसामा बिन लादेन ने कहा कि उसने जी टूर पर अपने अनुयायियों को [[वर्ल्ड ट्रेड सेंटर]] पर हमला करने के लिए निदेश दिया था।<ref>{{Cite news|title = Al-Jazeera: Bin Laden tape obtained in Pakistan|trans_title=अल ज़जीरा: बिन लादेन का टेप पाकिस्तान में मिला।| publisher =एमएसएनबीसी|date=अक्टूबर 30, 2004|url = http://msnbc.msn.com/id/6363306/| accessdate = सितम्बर 7, 2006}}</ref> इस वीडियो में उसने कहा, "अल्लाह उस पर मेहरबान हो, हम कमांडर जनरल [[मोहम्मद अत्ता]] के साथ सहमत हुए थे कि [[जॉर्ज डब्ल्यूवॉकर बुश|बुश]] और उनके प्रशासन को सूचना मिलने से पहले, सारा ऑपरेशन 20 मिनट के अंदर क्रियान्वित हो जाना चाहिये।"<ref name="ajNov2004"/> सितंबर 2006 में अल जज़ीरा द्वारा प्राप्त एक अन्य वीडियो ओसामा बिन लादेन को रैम्जी बिनालशिभ तथा दो अपहरणकर्ताओं, हम्जा अल-गामदी और वैल अल-शेहरी के साथ हमलों की तैयारी करते हुए दिखाता है।<ref>{{Cite news|url=http://www.cbc.ca/world/story/2006/09/07/al-qaeda-tape.html |title=Bin Laden 9/11 planning video aired [९/११ हमलों की तैयारी करता हुआ बिन लादेन का चलचित्र हुआ प्रसारित]|publisher=[[सीबीसी समाचार]] |date=सितंबर 7, 2006 |archiveurl=http://web.archive.org/web/20071013183902/http://www.cbc.ca/world/story/2006/09/07/al-qaeda-tape.html |archivedate=अक्टूबर 13, 2007 |accessdate=मई 20, 2008}}</ref>
 
=== खालिद शेख मोहम्मद ===
{{Main|खालिद शेख मोहम्मद}}
[[चित्र:Khalid Shaikh Mohammed after capture.jpg|thumb|खालिद शेख मोहम्मद पाकिस्तान में उसके पकड़े जाने के बाद.]]
अरबी टेलीविजन चैनल [[अल जजीरा|अल जज़ीरा]] के पत्रकार योसरी फाउदा ने सूचना दी कि अप्रैल 2002 में, खालिद शेख मोहम्मद ने "पवित्र मंगलवार के ऑपरेशन" में रैम्जी बिनालशिभ के साथ अपनी भागीदारी स्वीकार की थी।<ref>{{Cite news|url=http://www.guardian.co.uk/international/story/0,3604,906911,00.html |title='We left out nuclear targets, for now' |publisher=द गार्डियन |date=मार्च 4, 2003 |accessdate=May 20, 2008|quote=Yosri Fouda of the Arabic television channel al-Jazeera is the only journalist to have interviewed Khalid Sheikh Mohammed, the al-Qaida military commander arrested at the weekend. Here he describes the two-day encounter with him and his fellow organiser of September 11, Ramzi bin al- Shibh: [...] Summoning every thread of experience and courage, I looked Khalid in the eye and asked: ‘Did you do it?’ The reference to September 11 was implicit. Khalid responded with little fanfare: ‘I am the head of the al-Qaida military committee,’ he began, ‘and Ramzi is the coordinator of the Holy Tuesday operation. And yes, we did it.’|location=London}}{{Dead link|date=जुलाई 2010}}</ref><ref>{{Cite news|url=http://www.telegraph.co.uk/news/3685099/Alleged-911-mastermind-wants-to-confess-to-plot.html|title= Alleged 9/11 mastermind wants to confess to plot |publisher=Telegraph |date=अक्टूबर 10, 2008 |accessdate=July 6, 2009|location=London|first1=Tom|last1=Leonard|first2=Alex|last2=Spillius}}</ref><ref name="aljazeera2007"/> 9/11 आयोग की रिपोर्ट ने निर्धारित किया है कि 9/11 हमलों के प्रमुख शिल्पी खालिद शेख मोहम्मद की संयुक्त राज्य अमेरिका के प्रति शत्रुता, "वहां उसके एक छात्र के रूप में अनुभव से नहीं, बल्कि अमेरिका की इसरायल को समर्थन देने वाली विदेश नीति के साथ उसकी उग्र असहमति से" उपजी थी।<ref name="911-ch5">{{Cite book|url=http://www.9-11commission.gov/report/911Report_Ch5.htm |chapter=Chapter 5 |title=9/11 Commission Report |author=National Commission on Terrorist Attacks Upon the United States |year=2004 |isbn=1577363418}}</ref>
 
मोहम्मद अत्ता से उसे प्रेरणा मिली. अत्ता का एक पूर्व सहपाठी, राल्फ बॉडेन्सटीन के अनुसार "इस क्षेत्र में इसरायली राजनीति को अमेरिकी संरक्षण ने उसके दिल पर सर्वाधिक असर डाला था।"<ref>{{cite video |title=Making of the Death Pilots |publisher=MSNBC-TV |date=मार्च 2002}}</ref> मोहम्मद अत्ता के साथ फ्लाइट 11 पर सवार एक अपहरणकर्ता, अब्दुलअजीज अल-उमरी अपनी वीडियो इच्छा में कहा, "जो मुझे सुन रहे हैं तथा वो सब जो मुझे देख रहे हैं, उनके लिए मेरा काम एक पैगाम है, इसी के साथ एक पैगाम है काफिरों के लिए कि हारे हुओ, अरब प्रायद्वीप छोड़ दो और [[फ़िलस्तीनफ़िलिस्तीनी राज्यक्षेत्र|फिलिस्तीन]] में कायर यहूदियों की तरफ मदद का हाथ बढ़ाना बंद कर दो."<ref>{{Cite news|url=http://www.guardian.co.uk/september11/oneyearon/story/0, 789253,00.html |title=Al-Qaida tape finally claims responsibility for attacks |publisher=Guardian |date=सितंबर 10, 2002 |accessdate=May 7, 2007|location=London|first=Brian|last=Whitaker}}</ref>
 
खालिद शेख मोहम्मद 1993 की वर्ल्ड ट्रेड सेंटर बमबारी का भी सलाहकार और वित्तपोषक था। वह हमले में प्रमुख बॉम्बर, रैम्जी यूसुफ का चाचा भी है।
1998 के फतवे में अल-कायदा ने लिखा "सात साल से अधिक समय से इस्लाम की भूमि के पवित्रतम स्थानों, अरब प्रायद्वीप पर, संयुक्त राज्य अमेरिका कब्जा किए हुए है, इसकी दौलत को लूट रहा है, इसके शासकों को हुक्म दे रहा है, इसके लोगों का अपमान कर रहा है, पड़ौसियों को आतंकित कर रहा है और प्रायद्वीप में इसके अड्डों को पड़ौसी मुस्लिम लोगों से लड़ने के लिए हरावल दस्तों में परिवर्तित कर रहा है।<ref name="1998 Al Qaeda fatwā">[http://www.fas.org/irp/world/para/docs/980223-fatwa.htm 1998 अल कायदा फतवा]</ref> 1999 में रहीमुल्ला युसूफजाई के साथ साक्षात्कार में बिन लादेन ने कहा, उन्होंने महसूस किया कि अमेरिकी "[[मक्का (शहर)|मक्का]] के बहुत नजदीक" थे और इसे पूरे मुस्लिम विश्व के लिए उकसाने वाला माना।<ref name="guardian-20010926">{{Cite news|url=http://www.guardian.co.uk/g2/story/0,3604,558075,00.html |title=Face to face with Osama |publisher=द गार्डियन |date=सितंबर 26, 2001|location=London|accessdate=2010-05-13 | first=Rahimullah | last=Yusufzai}}</ref>
 
नवंबर 2002 में अपने "अमेरिका के लिए पत्र" में बिन लादेन ने [[इज़रायलइज़राइल|इसरायल]] को संयुक्त राज्य अमेरिका के समर्थन को एक प्रेरणा बताया: इसरायल का निर्माण और उसकी निरंतरता सबसे बड़े अपराधों में से एक है और आप इन अपराधियों के नेता हैं। और बेशक इसरायल के लिए अमेरिकी समर्थन की मात्रा को समझाने या साबित करने की कोई जरूरत नहीं है। इसरायल का निर्माण एक अपराध है जिसे मिटा देना चाहिए। प्रत्येक और हर व्यक्ति जिसके हाथ इस अपराध में योगदान करके प्रदूषित हुए हैं, उसे इसकी कीमत चुकानी होगी और भारी कीमत चुकानी होगी।"<ref>[http://www.guardian.co.uk/world/2002/nov/24/theobserver बिन लादेन के "लेटर टू अमेरिका" के पूर्ण पाठ]</ref> 2004 और 2010 में, बिन लादेन ने फिर से 11 सितंबर के हमलों और संयुक्त राज्य अमेरिका द्वारा इसरायल के समर्थन के बीच संबंध को दोहराया।<ref>बिन लादेन का 2004 का आक्रमण पर टेप किया हुआ प्रसारण जिसमें वह आक्रमण के मकसद को स्पष्ट करता है और कहता है, "जिन घटनाओं ने सीधे मेरी आत्मा को प्रभावित किया वे 1982 में शुरू हुईं जब अमेरिका ने इसरायल को लेबनान पर आक्रमण करने की अनुमति दी और अमेरिका के छठे बेड़े ने उसमें उनकी मदद की। यह बमबारी शुरू हुई और बहुत से मारे गए और घायल हुए और अन्य को आतंकित तथा विस्थापित किया गया।"(अल जज़ीरा से उद्धरित [http://english.aljazeera.net/archive/2004/11/200849163336457223.html ऑनलाइन यहां])</ref><ref>बिन लादेन का जनवरी 2010 से टेप किया हुआ प्रसारण, जहां उसने कहा, "आप के [संयुक्त राज्य अमेरिका़] खिलाफ हमारे हमले तब तक जारी रहेंगे जब तक इसरायल को अमेरिकी समर्थन जारी रहता है। नाइजीरियाई नायक उमर फारूक अब्दुलमुतल्लब द्वारा आपको भेजा संदेश, 11 सितम्बर के नायकों द्वारा दिए गए हमारे पिछले संदेश का पुष्टिकरण है।" (से उद्धृत "बिन लादेन: अमेरिका पर हमले तब तक जारी रहेंगे जब तक वह इसराइल का समर्थन करता है" Haaretz.com में, [http://www.haaretz.com/news/bin-laden-attacks-on-u-s-to-go-on-as-long-as-it-supports-israel-1.265770 ऑनलाइन यहां]).</ref><ref>1998 का अल कायदा का फतवा भी देखें: "[संयुक्त राज्य अमेरिका का] लक्ष्य भी यहूदियों के तुच्छ राज्य की सेवा करना है और उसके द्वारा यरूशलम पर कब्जे तथा वहां मुस्लिमों की हत्या से ध्यान हटाना है। इस का सबसे अच्छा सबूत है सबसे मजबूत पड़ोसी अरब राज्य, इराक को नष्ट करने की इनकी उत्सुकता और इराक, सऊदी अरब, मिस्र और सूडान जैसे इस क्षेत्र के सभी देशों के कागजी राज्यों में टुकड़े करने के उनके प्रयास और उनके बिखराव और कमजोरी के माध्यम से इजरायल के अस्तित्व और प्रायद्वीप के क्रूर धर्मयुद्ध द्वारा कब्जे की निरंतरता की गारंटी." [http://www.pbs.org/newshour/terrorism/international/fatwa_1998.html 1998 फतवा का पाठ] पीबीएस (PBS) द्वारा अनुवाद</ref> मियरशीमर और वॉल्ट सहित कई विश्लेषक भी संयुक्त राज्य अमेरिका के द्वारा इसरायल के समर्थन को हमलों के लिए प्रेरणा मानते हैं।<ref name="guardian-20010926"/><ref>
* {{Cite book
|title=[[The Israel Lobby and U.S. Foreign Policy]]
वरिष्ठ नीति कर्मचारी स्टीफन कैम्बोन द्वारा लिखे गए नोट के अनुसार, 11 सितम्बर दोपहर में 2:40 बजे, रक्षा सचिव डोनाल्ड रम्सफेल्ड इराकी भागीदारी के सबूत ढूंढने के लिए अपने सहयोगियों को तेजी से आदेश जारी कर रहे थे। "उत्तम जानकारी जल्दी. फैसला करो क्या एस.एच. (S.H.) पर वार के लिए पर्याप्त है" - मतलब है सद्दाम हुसैन - "एक ही समय में. सिर्फ यूबीएल (UBL) नहीं" (ओसामा बिन लादेन), कैम्बोन के नोट्स में रम्सफेल्ड को कहते हुए उद्धृत किया गया है। "तेज चलने की जरूरत है - नजदीकी छोटे लक्ष्य रखो - बड़े पैमाने पर जाओ - सब समेट लो. बातें संबंधित हों या नहीं."<ref name="IraqSuspect">{{Cite news|first=Joel |last=Roberts |title=Plans For Iraq Attack Began On 9/11 |date=सितंबर 4, 2002 |publisher=CBS News |url =http://www.cbsnews.com/stories/2002/09/04/september11/main520830.shtml |accessdate = October 7, 2009}}</ref><ref>{{Cite news|first=Julian |last=Borger |title=Blogger bares Rumsfeld's post 9/11 orders |date=फ़रवरी 24, 2006 |publisher=Guardian News and Media Limited |url =http://www.guardian.co.uk/world/2006/feb/24/freedomofinformation.september11 |accessdate = October 7, 2009|location=London}}</ref>
 
[[नाटो|नाटो (NATO)]] परिषद ने घोषणा की कि संयुक्त राज्य अमेरिका पर हमले सभी नाटो देशों पर हमले माने गए थे और, इसलिए, नाटो (NATO) चार्टर के अनुच्छेद 5 के अनुरूप है।<ref>{{Cite web|title = Statement by the North Atlantic Council |publisher = NATO |date=सितंबर 15, 2001 |url = http://www.nato.int/docu/pr/2001/p01-124e.htm |accessdate = September 8, 2006 |quote="Article 5: The Parties agree that an armed attack against one or more of them in Europe or North America shall be considered an attack against them all and consequently they agree that, if such an armed attack occurs, each of them, in exercise of the right of individual or collective self-defence recognised by Article 51 of the Charter of the संयुक्त राष्ट्र, will assist the Party or Parties so attacked by taking forthwith, individually and in concert with the other Parties, such action as it deems necessary, including the use of armed force, to restore and maintain the security of the North Atlantic area. / Any such armed attack and all measures taken as a result thereof shall immediately be reported to the Security Council. Such measures shall be terminated when the Security Council has taken the measures necessary to restore and maintain international peace and security."}}</ref> ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री [[जाह्नजॉन हावर्ड|जॉन हॉवर्ड]] जो हमले के समय अमेरिका के अधिकृत दौरे पर थे, ने ऑस्ट्रेलिया वापस पहुंच कर एनजस (ANZUS) संधि का अनुच्छेद चतुर्थ लागू कर दिया। हमलों के तत्काल बाद में, ओसामा बिन लादेन तथा अल कायदा को न्याय की दहलीज़ तक लाने और अन्य आतंकवादी नेटवर्क को पनपने से रोकने के स्पष्ट लक्ष्य के साथ बुश प्रशासन ने आतंक के विरुद्ध युद्ध घोषित कर दिया। इन लक्ष्यों को, आतंकवादियों को शरण देने और वैश्विक निगरानी और खुफिया साझेदारी में वृद्धि करने वाले देशों के खिलाफ आर्थिक और सैन्य प्रतिबंध जैसे माध्यमों से पूरा किया जाएगा।
 
अमेरिका के बाहर, आतंकवाद पर अमेरिकी वैश्विक युद्ध का दूसरा सबसे बड़ा ऑपरेशन तथा आतंकवाद से सीधे जुड़ा सबसे बड़ा ऑपरेशन, अमेरिका के नेतृत्व वाले गठबंधन द्वारा [[अफ़्गानिस्तानअफ़ग़ानिस्तान|अफगनिस्तान]] से [[तालेबानतालिबान आन्दोलन|तालिबान]] शासन को उखाड़ फेंकना था। संयुक्त राज्य अमेरिका अपनी सैन्य तैयारी बढ़ाने वाला अकेला देश नहीं था, अन्य उल्लेखनीय उदाहरण हैं [[फ़िलीपीन्स|फिलीपीन्स]] और [[इंडोनेशिया|इण्डोनेशिया]], वे देश जिनमें इस्लामी आतंकवाद के साथ उनके अपने अंदरूनी संघर्ष हैं।<ref>{{Cite journal|author = C. S. Kuppuswamy |title = Terrorism in Indonesia : Role of the Religious Organisation |publisher = South Asia Analysis Group |date= नवम्बर 2, 2005 |url = http://www.saag.org/%5Cpapers16%5Cpaper1596.html |accessdate =July 6, 2007 |archiveurl = http://web.archive.org/web/20070611032357/http://www.saag.org/papers16/paper1596.html <!-- Bot retrieved archive --> |archivedate = June 11, 2007}}</ref><ref>{{Cite book|last=Banlaoi |first=Rommel |contribution=Radical Muslim Terrorism in the Philippines |year=2006 |title=Handbook on Terrorism and Insurgency in Southeast Asia |editor-last=Tan |editor-first=Andrew |place=London |publisher=Edward Elgar Publishing}}</ref>
 
=== घरेलू प्रतिक्रिया ===
|first = Devlin |title = 9/11 Fund Deadline Passes |publisher =CBS News |date= दिसम्बर 23, 2003 |url = http://www.cbsnews.com/stories/2004/01/16/national/main593715.shtml |accessdate = September 8, 2006}}</ref>
 
{{Listen |pos=left |filename=GWBush Oval Office Address 20010911-1-.ogg |title=अमेरिकी राष्ट्रपति [[जॉर्ज वॉकर बुश|जॉर्ज डब्ल्यू बुश]] का ११ सितम्बर २००१ के आतंकवादी हमलों के बाद राष्ट्र के नाम संदेश |description=अमेरिकी राष्ट्रपति [[जॉर्ज वॉकर बुश|जॉर्ज डब्ल्यू बुश]] का ११ सितम्बर २००१ के आतंकवादी हमलों के बाद राष्ट्र के नाम संदेश |format=[[Ogg]]}}
सरकार की निरंतरता और नेताओं की निकासी के लिए आपात योजनाओं को हमलों के लगभग तुरंत बाद कार्यान्वित कर दिया गया था।<ref name="Commission"/> हालांकि कांग्रेस को फरवरी 2002 तक नहीं बताया गया था कि संयुक्त राज्य अमेरिका सरकार की निरंतरता स्थिति के अधीन था।<ref>{{Cite news|title = 'Shadow Government' News To Congress |publisher = CBS News |date= मार्च 2, 2002 |url = http://www.cbsnews.com/stories/2002/03/01/attack/main502530.shtml |accessdate = September 8, 2006}}</ref>
 
अमेरिका के अंदर, मातृभूमि सुरक्षा विभाग का सृजन करते हुए, कांग्रेस ने मातृभूमि सुरक्षा अधिनियम 2002 पारित किया और राष्ट्रपति बुश ने उस पर हस्ताक्षर किए, इससे समकालीन इतिहास का अमेरिकी सरकार का सबसे बड़ा पुनर्गठन हुआ। कांग्रेस ने यूएसए पैट्रियट एक्ट भी यह कहते हुए पारित किया, कि इससे आतंकवाद और अन्य अपराधों का पता लगाने तथा मुकदमा चलाने में सहायता मिलेगी।
 
नागरिक स्वतंत्रता समूहों ने पैट्रियट अधिनियम की आलोचना करते हुए कहा है कि इससे [[पुलिस|कानून प्रवर्तन]] करने के लिए नागरिकों की गोपनीयता का अतिक्रमण होगा और कानून-प्रवर्तन तथा घरेलू सूचना संग्रहण में न्यायिक निरीक्षण समाप्त हो जाएगा।<ref name="ACLUAdv">{{cite press release |url=http://www.aclu.org/safefree/patriot/16745prs20030903.html |title=Uncle Sam Asks: "What The Hell Is Going On Here?" in New ACLU Print and Radio Advertisements |publisher=[[American Civil Liberties Union]] |date=सितंबर 3, 2003 |accessdate=May 20, 2008}}</ref><ref>{{Cite news|last=Eggen |first=Dan |title=Key Part of Patriot Act Ruled Unconstitutional |url=http://www.washingtonpost.com/wp-dyn/articles/A59626-2004Sep29.html |publisher=Washington Post |date=सितंबर 30, 2004 |accessdate=May 18, 2008}}</ref><ref>{{Cite news|url=http://www.cnn.com/2007/US/law/09/26/patriot.act/index.html |title= Federal judge rules 2 Patriot Act provisions unconstitutional |accessdate=May 19, 2008 |date=सितंबर 26, 2007 |publisher=CNN}}</ref> बुश प्रशासन ने अमेरिका और विदेश के लोगों के बीच टेलीफोन तथा ई-मेल संचार को बिना वारंट के छुप कर सुनने के की [[नेशनलराष्ट्रीय सेक्यूरिटीसुरक्षा एजेंसी, अमेरिका|राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी]] की गुप्त कार्यवाही आरंभ करने के लिए 9/11 को एक कारण के रूप में लागू कर दिया है।<ref>{{Cite news|last = VandeHei |first = Jim |coauthors = Dan Eggen |title = Cheney Cites Justifications For Domestic Eavesdropping |publisher = Washington Post |date= January 5, 2006 |url = http://www.washingtonpost.com/wp-dyn/content/article/2006/01/04/AR2006010400973.html |accessdate = September 8, 2006}}</ref>
 
==== नफरत सम्बन्धी अपराध ====
दुनिया भर में जन माध्यमों और सरकारों द्वारा हमलों की निंदा की गई। दुनिया भर में, राष्ट्रों ने अमेरिका के पक्ष में समर्थन और एकजुटता की पेशकश की।<ref>{{Cite web|last=Hertzberg |first=Hendrik |title=Lost love |publisher=[[The New Yorker]] |url=http://www.newyorker.com/archive/2006/09/11/060911ta_talk_hertzberg |date=सितंबर 11, 2006 |accessdate=May 19, 2008}}</ref> अधिकांश मध्य पूर्वी देशों में नेताओं और अफगानिस्तान ने, हमलों की निंदा की। तत्काल आधिकारिक बयान "अमेरिकी काउबॉय अपने मानवता के प्रति अपराधों के फल काट रहे हैं" के साथ इराक एक उल्लेखनीय अपवाद था।<ref>{{Cite news|title=Attacks draw mixed response in Mideast |url=http://archives.cnn.com/2001/WORLD/europe/09/12/mideast.reaction/index.html |publisher=CNN.com|date=सितंबर 12, 2001|accessdate=March 30, 2007}}</ref>
 
हमलों के बाद [[अफ़्गानिस्तानअफ़ग़ानिस्तान|अफगानिस्तान]] के दसियों हजारों लोगों ने संयुक्त राज्य अमेरिका द्वारा प्रतिक्रिया के डर से पलायन करने का प्रयास किया। पाकिस्तान जो पहले से ही पिछले अफगान संघर्ष से कई अफगान शरणार्थियों का घर बना हुआ था, ने 17 सितंबर को अफगानिस्तान के साथ अपनी सीमा बंद कर दी. हमलों के लगभग एक महीने बाद, संयुक्त राज्य अमेरिका ने [[अल कायदा]] को शरण देने के लिए [[तालेबानतालिबान आन्दोलन|तालिबान]] शासन को हटाने में अंतरराष्ट्रीय बलों के एक व्यापक गठबंधन का नेतृत्व किया।<ref>{{Cite news|title=U.S. President Bush's speech to संयुक्त राष्ट्र |publisher=CNN |date= नवम्बर 10, 2001 |url=http://archives.cnn.com/2001/US/11/10/ret.bush.un.transcript/index.html |accessdate=April 14, 2008}}</ref> [[पाकिस्तान]] के अधिकारी अनिच्छा<ref name="dawn.com">[http://www.dawn.com/wps/wcm/connect/dawn-content-library/dawn/news/pakistan/06-musharraf-bullied-into-supporting-war-on-terror-rs-03 पाकिस्तान|मुशर्रफ आतंक के खिलाफ युद्ध के समर्थन में अभित्रस्त.] डॉन.कॉम (09-12-2009). 16-03-2010 को पुनःप्राप्त.</ref> से तालिबान के खिलाफ युद्ध में संयुक्त राज्य अमेरिका के साथ पंक्तिबद्ध हुए।<ref name="dawn.com"/> पाकिस्तान शासन ने संयुक्त राज्य अमेरिका को तालिबान ठिकानों पर हमले के लिए अपने सैन्य हवाई अड्डे और सैन्य अड्डे उपलब्ध करवाए तथा 600 से अधिक संदिग्ध अल-कायदा सदस्यों को गिरफ्तार किया, जिन्हें उसने अमेरिका को सौप दिया।<ref>{{Cite news|last = Khan |first = Aamer Ahmed |title = Pakistan and the 'key al-Qaeda' man |publisher = BBC |date= मई 4, 2005 |url = http://news.bbc.co.uk/1/hi/world/south_asia/4513281.stm |accessdate = September 8, 2006}}</ref>
 
कनाडा, चीन, ब्रिटेन, फ्रांस, रूस, जर्मनी, भारत और [[पाकिस्तान]] सहित कई देशों ने आतंकवाद विरोधी विधेयक पेश किए और अल कायदा से संबंधों के संदिग्ध व्यापारिक और निजी बैंक खातों पर रोक लगा दी गई।<ref>{{Cite web|last=Hamilton |first=Stuart |title=September 11, the Internet, and the effects on information provision in Libraries |work=68th IFLA Council and Conference |date=अगस्त 24, 2002 |url=http://www.ifla.org/IV/ifla68/papers/156-079e.pdf |format=PDF |accessdate=September 8, 2006}}</ref><ref>{{Cite web|url=http://www.g8.fr/evian/english/navigation/g8_documents/archives_from_previous_summits/kananaskis_summit_-_2002/g8_counter-terrorism_cooperation_since_september_11th_backgrounder.html |title=G8 counter-terrorism cooperation since September 11 backgrounder |accessdate=September 14, 2006 |publisher=Site Internet du Sommet du G8 d'Evian}}</ref> इटली, [[मलेशिया]], [[इण्डोनेशिया। इंडोनेशिया]] और [[फ़िलीपीन्स|फिलीपींस]] सहित अनेक देशों की कानून प्रवर्तन तथा खुफिया एजेंसियों ने दुनिया भर में उग्रवादियों के ठिकाने तोड़ने के घोषित उद्देश्य के लिए, संदिग्ध आतंकवादियों को गिरफ्तार कर लिया था।<ref>{{Cite web|last = Walsh |first = Courtney C |title = Italian police explore Al Qaeda links in cyanide plot |publisher = Christian Science Monitor |date= मार्च 7, 2002 |url = http://www.csmonitor.com/2002/0307/p07s02-woeu.html |accessdate =September 8, 2006}}</ref><ref>{{Cite news|title = SE Asia unites to smash militant cells |publisher = CNN |date= मई 8, 2002 |url=http://edition.cnn.com/2002/WORLD/asiapcf/southeast/05/07/seasia.terror.pact/ |accessdate = September 8, 2006}}</ref>
इसने अमेरिका में कुछ विवाद पैदा कर दिए, जैसे बिल ऑफ राइट्स डिफेंस कमिटी जैसे आलोचकों का तर्क है कि संघीय निगरानी पर पारंपरिक प्रतिबंध (जैसे सार्वजनिक बैठकों की कोइनटेलप्रो (COINTELPRO) द्वारा निगरानी) यूएसए पैट्रिअट एक्ट द्वारा तार-तार हो गया है।<ref>{{Cite web|last = Talanian |first = Nancy |title = A Guide to Provisions of the USA Patriot Act and Federal Executive Orders that threaten civil liberties |publisher = Bill of Rights Defense Committee |year= 2002 |url = http://www.bordc.org/resources/repeal.pdf |format = PDF |accessdate = September 8, 2006}}</ref> अमेरिकन सिविल लिबर्टीज यूनियन और लिबर्टी जैसे संगठनों ने तर्क दिया कि कुछ नागरिक अधिकार संरक्षण भी अवरुद्ध हो रहे थे।<ref>{{Cite web|url=http://action.aclu.org/reformthepatriotact/primer.html |title=Reform the Patriot Act – Do not Expand It! |publisher=[[American Civil Liberties Union]] |accessdate=September 14, 2006 |archiveurl = http://web.archive.org/web/20060911092607/http://action.aclu.org/reformthepatriotact/primer.html <!-- Bot retrieved archive --> |archivedate = September 11, 2006}}</ref><ref>{{Cite web|url=http://www.liberty-human-rights.org.uk/issues/2-terrorism/index.shtml |title=Liberty – Protecting Civil Liberties Promoting Human Rights : Terrorism |publisher=[[Liberty (pressure group)|Liberty]] |accessdate=September 14, 2006}}</ref>
 
संयुक्त राज्य अमेरिका ने [[क्यूबा]] में ग्वांटानामो बे पर अवैध शत्रु लड़ाकों को रखने के लिए एक निरोध केंद्र स्थापित किया। इन नजरबंदियाँ की वैधता पर अन्यों के साथ यूरोपीय संसद, अमेरिकी राज्यों के संगठन तथा [[एमनेस्टी इण्टरनेशनल|एमनेस्टी इंटरनेशनल]] ने प्रश्न खड़े किए हैं।<ref>{{Cite news|title=Euro MPs urge Guantanamo closure |url=http://news.bbc.co.uk/2/hi/americas/5074216.stm |publisher=बीबीसी न्यूज़ |date=जून 13, 2006 |accessdate=May 20, 2008}}</ref><ref>{{Cite web|last=Mendez |first=Juan E. |author-link=Juan E. Méndez |date=मार्च 13, 2002 |title=Detainees in Guantanamo Bay, Cuba; Request for Precautionary Measures, Inter-Am. C.H.R. |url=http://www1.umn.edu/humanrts/cases/guantanamo-2003.html |publisher=[[University of Minnesota]] |accessdate=April 14, 2008}}</ref><ref>{{Cite web|title=USA: Release or fair trials for all remaining Guantánamo detainees |url=http://www.amnesty.org/en/for-media/press-releases/usa-release-or-fair-trials-all-remaining-guant%C3%A1namo-detainees-20080502 |publisher=Amnesty International |date=मई 2, 2008 |accessdate=May 4, 2008}}</ref>
 
हमलों के तुरंत बाद हुई अंतरराष्ट्रीय घटनाओं और प्रतिक्रियाओं ने नस्लवाद के खिलाफ विश्व सम्मेलन 2001 को प्रभावित किया, जो मतभेदों और अंतरराष्ट्रीय प्रत्यारोपों के साथ तीन दिन पूर्व ही समाप्त हो गया।<ref name="Schechter">{{Cite book|pages=177–182 |title=संयुक्त राष्ट्र Global Conferences |author=Michael G. Schechter |year=2005 |publisher=Routledge |isbn=0415343801}}</ref>
[[चित्र:WTC-Fireman requests 10 more colleagesa.jpg|thumb|एक न्यूयॉर्क शहर अग्निशामक वर्ल्ड ट्रेड सेंटर के मलबे में अपना रास्ता बनाने के लिए 10 और बचाव कार्यकर्ताओं को बुलाता है।]]
 
हमलों का संयुक्त राज्य अमेरिका और विश्व बाजार पर एक महत्त्वपूर्ण आर्थिक प्रभाव हुआ था।<ref>{{Cite web|author=Makinen, Gail |url=http://www.fas.org/irp/crs/RL31617.pdf |title=The Economic Effects of 9/11: A Retrospective Assessment |page=17 |date=सितंबर 27, 2002 |work=Congressional Research Service |publisher=[[Library of Congress]] |accessdate=May 21, 2008|format=PDF}}</ref> न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज (एनवायएसई (NYSE)), अमेरिकी शेयर बाजार (एएमईएक्स (AMEX) और [[नॉस्डेकनैस्डैक|नैसडैक (NASDAQ))]] 11 सितंबर को नहीं खुले थे और 17 सितंबर तक बंद रहे। जब [[शेयर बाज़ार|शेयर बाजार]] फिर से खुले, डाउ जोन्स औद्योगिक औसत (डीजेआईए (DJIA)) शेयर बाजार सूचकांक 684 पाइंट या 7.1% गिर कर 8921 अंक पहुंच गया, जो एक दिन में गिरावट का एक रिकार्ड था।<ref>{{Cite news| title=Markets reopen, plunge| last=Barnhart| first=Bill| url=http://www.chicagotribune.com/business/chi-010917markets,1,2882341.story| publisher=Chicago Tribune| date=September 17, 2001| accessdate=May 3, 2008}}</ref>
 
सप्ताह के अंत तक, डीजेआईए (DJIA) 1,369.7 पाइंट (14.3%) गिर चुका था, जो तब की, इतिहास की एक सप्ताह में सबसे बड़ी गिरादट थी, हालांकि बाद में 2008 में वैश्विक वित्तीय संकट के दौरान इसको भी पार कर गया था।<ref name="MarkDec">{{Cite news|first=Fernandez |last=Bob |title=U.S. Markets Decline Again |work=KRTBN Knight Ridder Tribune Business News |publisher=The Philadelphia Inquirer |date=सितंबर 22, 2001 |accessdate=May 2, 2008}}</ref> अमेरिकी शेयरों ने एक सप्ताह में मूल्य में 14 खरब डॉलर खो दिए।<ref name="MarkDec"/> यह वर्तमान संदर्भ में {{Formatprice|{{Inflation|US|1400000000000|2001|r=-6}}}}डॉलर के बराबर है।{{Inflation-fn|US}}
[[सी आइ ए|सीआईए (CIA)]] के महानिरीक्षक ने सीआईए (CIA) के 9/11-पूर्व के प्रदर्शन की आंतरिक समीक्षा की और आतंकवाद का सामना करने के लिए हर संभव प्रयास नहीं करने पर वरिष्ठ सीआईए (CIA) अधिकारियों की कठोरता से आलोचना की। उन्होंने 9/11 के दो अपहरणकर्ताओं, नवाफ अल-हज्मी और खालिद अल-मिहधार के अमेरिका में प्रवेश करने पर उन्हें न रोक पाने और उनसे संबंधित सूचना एफबीआई (FBI) के साथ साझा करने में असफलता के लिए अधिकारियों की आलोचना की।<ref>{{Cite web|url=http://www.amconmag.com/2005_08_01/article3.html |title=Deep Background |publisher=American Conservative| date=April 1, 2005 |accessdate=March 29, 2007}}</ref>
 
मई 2007 में [[डेमोक्रैटिक पार्टी (संयुक्त राज्य)|डेमोक्रेटिक पार्टी]] और [[रिपब्लिकन पार्टी]] दोनों के सीनेटर्स ने एक विधेयक तैयार किया जो सीआईए की आंतरिक जांच रिपोर्ट खुलेआम प्रस्तुत करेगा। एक समर्थक सीनेटर रॉन वायडन ने कहा "अमेरिका के लोगों को यह जानने का हक है कि 9/11 से पूर्व के उन महत्त्वपूर्ण महीनों में सेंट्रल खुफिया एजेंसी क्या कर रही थी।... मैं इस पर क्रूरता और उग्रता से हमला करने जा रहा हूं जब तक यह जनता के सामने नहीं आ जाता।" रिपोर्ट में 9/11 हमले के पहले और बाद में व्यक्तिगत सीआईए कर्मियों की जिम्मेदारी की जांच की गई है। रिपोर्ट 2005 में पूरी हो गई थी, लेकिन इसकी जानकारी जनता के लिए कभी जारी नहीं की गई।<ref>{{Cite news|first=Katherine |last=Shrader |title=Senators Want CIA to Release 9/11 Report |url=http://www.sfgate.com/cgi-bin/article.cgi?f=/n/a/2007/05/17/national/w131436D49.DTL |work=[[San Francisco Chronicle]] |agency=Associated Press |date=मई 17, 2007 |accessdate=April 14, 2008 |archiveurl = http://web.archive.org/web/20071017005618/http://www.sfgate.com/cgi-bin/article.cgi?f=/n/a/2007/05/17/national/w131436D49.DTL <!-- Bot retrieved archive --> |archivedate = October 17, 2007}}</ref>
 
== पुनर्निर्माण ==
1,181

सम्पादन