"सौम" के अवतरणों में अंतर

1 बैट् जोड़े गए ,  3 वर्ष पहले
तस्वीर की जगह बदली गयी
(तस्वीर की जगह बदली गयी)
[[File:Fasting.JPG|250px|thumb|right|मस्जिद मे इफ़्तारी करते हुये।]]
'''सौम''' एक अरबी शब्द है। (बहुवचन ''सियाम'') [[रमज़ान]] के पवित्र मास में रखे जाने वाले उपवास ही "सौम" हैं। उर्दू और फ़ारसी भाषा में सौम को "रोज़ा" कहते हैं।
 
* इफ़्तारी : दिन भर न कुछ खाते हैं न पीते हैं। शाम को सूर्यास्तमय के बाद रोज़ा खोल कर खाते हैं जिसे इफ़्तारी कहते हैं।
 
 
[[File:Fasting.JPG|250px|thumb|right|मस्जिद मे इफ़्तारी करते हुये।]]
 
==क़ुर'आन में सौम==