"फ़्लोरेन्स नाइटिंगेल": अवतरणों में अंतर

छो
Prerana pandey (Talk) के संपादनों को हटाकर Sanjeev bot के आखिरी अवतरण को पूर्ववत क...
No edit summary
छो (Prerana pandey (Talk) के संपादनों को हटाकर Sanjeev bot के आखिरी अवतरण को पूर्ववत क...)
{{आज का आलेख}}
[http://govtjobmargdarshan.blogspot.in/2017/05/blog-post_12.html फ़्लोरेन्स नाइटिंगेल]{{आज का आलेख}}
{{Infobox Medical Person
|name = फ़्लोरेन्स नाइटिंगेल
|relations =
}}
'''[http://govtjobmargdarshan.blogspot.in/2017/05/blog-post_12.html फ़्लोरेन्स नाइटिंगेल]''' (अंग्रेज़ी: ''Florence Nightingale'') ([[१२ मई]] [[१८२०]]-[[१३ अगस्त]] [[१९१०]]) को आधुनिक नर्सिग आन्दोलन का जन्मदाता माना जाता है। दया व सेवा की प्रतिमूर्ति फ्लोरेंस नाइटिंगेल "द लेडी विद द लैंप" (दीपक वाली महिला) के नाम से प्रसिद्ध हैं। इनका जन्म एक समृद्ध और उच्चवर्गीय ब्रिटिश परिवार में हुआ था। लेकिन उच्च कुल में जन्मी फ्लोरेंस ने सेवा का मार्ग चुना। [[१८४५]] में परिवार के तमाम विरोधों व क्रोध के पश्चात भी उन्होंने अभावग्रस्त लोगों की सेवा का व्रत लिया। [[दिसंबर]] [[१८४४]] में उन्होंने चिकित्सा सुविधाओं को सुधारने बनाने का कार्यक्रम आरंभ किया था। बाद में [[रोम]] के प्रखर राजनेता सिडनी हर्बर्ट से उनकी मित्रता हुई।
 
[[चित्र:St Margarets FN grave.jpg|thumb|left|सेंट मार्गरेट’स गिरजाघर के प्रांगण में फ़्लोरेंस नाइटेंगेल की कब्र]]