"योग" के अवतरणों में अंतर

9 बैट्स् नीकाले गए ,  4 वर्ष पहले
No edit summary
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
</blockquote>
 
पतंजलि, व्यापक रूप से औपचारिक योग दर्शन के संस्थापक मने जाते है।<ref>[43] ^ दार्शनिक प्रणाली के संस्थापक पतांजलिपतंजलि योग को यह रूप दिया, देखें:चटर्जी अंड दत्ता, पी.
 
42</ref> पतंजलि के योग, बुद्धि का नियंत्रण के लिए एक प्रणाली है,[[राज योग]] के रूप में जाना जाता है।<ref>[44] ^ मन के नियंत्रण के लिए एक तंत्र के रूप में "राजा योग" के लिए और एक महत्वपूर्ण कार्य के रूप में पतांजलिपतंजलि के योग सूत्र के साथ संबंध के लिए देखे:
फ्लड (1996), पीपी.
96-98.</ref> पतांजलिपतंजलि उनके दूसरे सूत्र मे "योग" शब्द का परिभाषित करते है,<ref name="yogasutrastext">{{cite web | last = Patañjali| first = | authorlink = Patanjali| coauthors = | title = Yoga Sutras of Patañjali| work = | publisher = Studio 34 Yoga Healing Arts | date = 2001-02-01 | url = http://www.studio34yoga.com/yoga.php#reading| format = [[etext]] | doi = | accessdate = 2008-11-24}}</ref> जो उनके पूरे काम के लिए व्याख्या सूत्र माना जाता है:
<blockquote class="toccolours" style="float:none;padding:10px 15px 10px 15px;display:table">''{{IAST|'''योग: चित्त-वृत्ति निरोध:''' <br /> }}'' <br />- योग सूत्र 1.2</blockquote>
238

सम्पादन