"इज़राइल" के अवतरणों में अंतर

16 बैट्स् जोड़े गए ,  3 वर्ष पहले
छो (बॉट: वर्तनी एकरूपता।)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
== विवाद एवं शांति समझोते ==
[[चित्र:Foreign relations of Israel Map.png|right|thumb|300px|इजराइल के अन्तरराष्ट्रीय सम्बन्ध]]
अरब समुदाय तथा मिस्त्र के राष्ट्रपति गमाल अब्देल नसीर ने इजराइल को मान्यता नहीं दी और १९६६ में इजराइल - अरब युद्ध हुआ ! १९६७ में मिस्त्र ने संयुक्त राष्ट्र के अधिकारी दल को सनाई पनिसुलेना (१९५७) को बहार निकल दिया और लाल सागर में इजराइल की आवागमन बंद कर दी ! जून ५,१९६७ को इजराइल ने मिस्त्र, जोर्डन सीरिया तथा इराक के खिलाफ युद्ध घोषित किया और महज ६ दिनों में अपने अरब दुश्मनों को पराजित कर क्षेत्र में अपनी सैनिक प्रभुसत्ता कायम की !की। इस युद्ध के दौरान इजराइल को अपने हे राज्य में उपस्तिथ फलिस्तीनी लोगो का विरोध झेलना पड़ा इसमें प्रमुख था फिलिस्तीन लिबरेशन ओर्गानिज़शन (पी .एल .ओ) जो १९६४ में बनया गया था ! १९६० के अंत से १९७० तक इजराइल पर कई हमले हुए जिसमे १९७२ में इजराइल के प्रतिभागियों पर मुनिच ओलंपिक में हुआ हमला शामिल है !
 
६ अक्टूबर, १९७३ को सिरिया तथा मिस्त्र द्वारा इजराइल पर अचानक हमला किया गया जब इजराइली योम नमक त्यौहार मन रहे थे, जिसके जवाब में सिरिया तथा मिस्त्र को बहुत भरी नुक्सान उठाना पड़ा !
 
१९७६ के दौरान इजराइल के सैनिको ने बड़ी बहादुरी से ९५ बन्धको को छुड़ाया!
 
१९७७ के आम चुनावो में लेबर पार्टी की हार हुयी और इसी के साथ मेनाचिम बेगिन सत्ता में आये तभी अरब नेता अनवर सद्दात ने इस्रैल की यात्रा को जिस से इजराइल-मिस्त्र समझोते (१९७९) की नीव पड़ी !
 
मार्च ११, १९७८ में लेबनान से आये प .एल .ओ के आतंकियों ने ३५ इजराइली नागरिको की हत्या कर दे और ७५ को घायल कर दिया जवाब में इजराइल ने लेबनान पर हमला किया और प॰एल.ओ के सदस्य भाग खड़े हुए .
 
१९८० में इज्रैल ने जेरुसलेम को अपनी राजधानी घोषित किया जिस से अरब समुदाय नाराज़ हो गया
 
जून ७, १९८१ में इज्रैल ने इराक का सोले परमाणु सयंत्र तबाह कर दिया !
 
== संविधान एवं शासन ==
बेनामी उपयोगकर्ता