मुख्य मेनू खोलें

बदलाव

352 बैट्स् जोड़े गए ,  2 वर्ष पहले
ज्ञानसन्दूक भारत का राज्य
{{स्रोतहीन|date=सितंबर 2014}}
{{ज्ञानसन्दूक भारत का प्रान्तराज्य
| राज्य का नाम = केरल <br /> കേരളം, केरळम् <br />
| मानचित्र = IN-KL.svg
| राजधानी = [[तिरुवनन्तपुरम]]
| सबसे बड़ा शहर = [[तिरुवनन्तपुरम]]
| जनसंख्या = 313,83834,619 06,061
| घनत्व = 819860
| क्षेत्रक्षेत्रफल = 38,863
| जिलाएँज़िले = 14
| राजभाषा = [[मलयालम भाषा|मलयालम]]<ref name="भाषा">{{cite web |url=http://nclm.nic.in/shared/linkimages/NCLM50thReport.pdf |title= Report of the Commissioner for linguistic minorities: 50th report (July 2012 to June 2013) |publisher=Commissioner for Linguistic Minorities, Ministry of Minority Affairs, Government of India |format=PDF| accessdate=12 जुलाई 2017}}</ref>
| राजभाषा = [[मलयालम]]
| अतिरिक्त राजभाषा = —<ref name="भाषा"/>
| प्रतिष्ठा = [[1 नवंबर]], [[1956]]
| गठन = 1 नवम्बर 1956
| राज्यपाल = आर[[पी एस गवईसतशिवम]]
| मुख्यमंत्री = वी एस अच्चुतानंदन
| मुख्यमंत्री = [[पिनाराई विजयन]]
| विधानसभा = एक सभा
| संक्षेप = IN-KL
| जालपृष्ठजालस्थल = [http{{URL|https://kerala.gov.in kerala.gov.in]/}}
}}
 
'''केरल''' ([[मलयालम]]: കേരളം, केरळम्) [[भारत]] का एक [[प्रान्त]] है। इसकी राजधानी [[तिरुवनन्तपुरम]] (त्रिवेन्द्रम) है। [[मलयालम]] (മലയാളം, मलयाळम्) यहां की मुख्य भाषा है। [[हिन्दु|हिन्दुओं]] तथा मुसलमानों के अलावा यहां [[ईसाई]] भी बड़ी संख्या में रहते हैं। भारत की दक्षिण-पश्चिमी सीमा पर [[अरब सागर]] और [[सह्याद्रि]] पर्वत श्रृंखलाओं के मध्य एक खूबसूरत भूभाग स्थित है, जिसे केरल के नाम से जाना जाता है। इस राज्य का क्षेत्रफल 38863 वर्ग किलोमीटर है और यहाँ मलयालम भाषा बोली जाती है। अपनी संस्कृति और भाषा-वैशिष्ट्य के कारण पहचाने जाने वाले भारत के दक्षिण में स्थित चार राज्यों में केरल प्रमुख स्थान रखता है। इसके प्रमुख पड़ोसी राज्य तमिलनाडु और कर्नाटक हैं। पुदुच्चेरी (पांडिचेरि) राज्य का मय्यष़ि (माहि) नाम से जाता जाने वाला भूभाग भी केरल राज्य के अन्तर्गत स्थित है। अरब सागर में स्थित केन्द्र शासित प्रदेश लक्षद्वीप का भी भाषा और संस्कृति की दृष्टि से केरल के साथ अटूट संबन्ध है। स्वतंत्रता प्राप्ति से पूर्व केरल में राजाओं की रियासतें थीं। जुलाई 1949 में तिरुवितांकूर और कोच्चिन रियासतों को जोड़कर 'तिरुकोच्चि' राज्य का गठन किया गया। उस समय मलाबार प्रदेश मद्रास राज्य (वर्तमान तमिलनाडु) का एक जिला मात्र था। नवंबर 1956 में तिरुकोच्चि के साथ मलाबार को भी जोड़ा गया और इस तरह वर्तमान केरल की स्थापना हुई। इस प्रकार 'ऐक्य केरलम' के गठन के द्वारा इस भूभाग की जनता की दीर्घकालीन अभिलाषा पूर्ण हुई।
<nowiki>* केरल में शिशुओं की मृत्यु दर भारत के राज्यों में सबसे कम है और स्त्रियों की संख्या पुरुषों से अधिक है (2001 की जनगणना के आधार पर)।
1,092

सम्पादन