"मैलकम मार्शल" के अवतरणों में अंतर

5,089 बैट्स् जोड़े गए ,  3 वर्ष पहले
विस्तार एव सुधार
(ज्ञानसंदूक जोड़ा)
(विस्तार एव सुधार)
| source = http://www.cricketarchive.com/Archive/Players/1/1571/1571.html CricketArchive}}
 
'''मैलकम मार्शल''' (18 अप्रैल 1958 - 4 नवंबर 1999, {{lang-en|Malcolm Marshall}}) [[ब्रिजटाउन]], बारबाडोस से [[वेस्टइंडीज़ क्रिकेट टीम]] के क्रिकेट खिलाड़ी थे। जिन्हें सबसे अच्छे तेज गेंदबाजों में से एक माना जाता है।<ref>{{cite web|title=Malcolm Marshall|trans_title=मैल्कम मार्शल|url=https://www.theguardian.com/news/1999/nov/06/guardianobituaries.mikeselvey|publisher=[[द गार्डियन]]|accessdate=28 अगस्त 2017|language=अंग्रेज़ी|date=6 नवंबर 1999}}</ref> वह 1970-80 के दशक की अजेय वेस्टइंडीज टीम के [[तेज गेंदबाजी|तेज गेंदबाज]] थे। [[जोएलवह गार्नर]],80 [[एंडीके रॉबर्ट्स]],दशक [[कॉलिनके क्रॉफ्ट]],सबसे [[माइकलसफल होल्डिंग]]गेंदबाज थे और अंतिमउस के वर्षोंअवधि में [[कोर्टनीवेस्टइंडीज वॉल्श]]की औरसफलता [[कर्टलीके एम्ब्रोस]]मुख्य उनके साथ अन्य महत्वपूर्ण गेंदबाजबिंदु थे। मैलकम का [[काउंटी क्रिकेट]] में [[हैम्पशायर काउंटी क्रिकेट क्लब|हैम्पशायर]] की तरफ से भी खेलेतेंसफल थे।क्रिकेट वहकरियर वेस्टरहा। इंडीज के मध्य 80 के दशक में सफलता के मुख्य बिंदु थे। 1982-83 से लेकर 1985-86 की तीन साल की अवधि के लिए वह सबसे अच्छे गेंदबाज थे। उस अवधि में उन्होंने लगातार सात श्रृंखलाओं में 21 या उससे अधिक विकेट लिए, जिसमें से अंतिम पाँच में उनकी [[गेंदबाज़ी औसत]] 20 से कम रही।<ref>{{cite web|first1=माइक|last1=सेलवे|title=The epitome of fast bowling|trans_title=तेज गेंदबाजी का प्रतीक|url=http://www.espncricinfo.com/magazine/content/story/467701.html|accessdate=19 अगस्त 2017|language=अंग्रेजी|date=19 जुलाई 2010|publisher=ईएसपीएन क्रिकइन्फो}}</ref>
 
== क्रिकेट करियर ==
1978-79 में भारत के खिलाफ अपनी पहली टेस्ट सीरिज में उन्होंने 3 मैच में मात्र 3 विकेट लिये। उसके बाद उन्हें 1980 में ही दोबारा खेलने का मौका मिला। 1982 तक उन्होंने 12 टेस्ट में 31.88 की औसत से 34 विकेट लिए थे। यह आंकड़े साधारण ही थे। उसके बाद [[भारतीय क्रिकेट टीम का वेस्टइंडीज दौरा 1982-83|1983 के भारतीय टीम के वेस्टइंडीज दौरे]] पर उन्होंने 21 विकेट लिये। फिर उसी साल [[वेस्ट इंडीज क्रिकेट टीम का भारत दौरा 1983-84|भारत दौरे]] पर उन्होंने 5 टेस्ट में 33 विकेट लिये। वेस्टइंडीज ने टेस्ट श्रृंखला 3-0 से और वनडे 5-0 से जीती थी। 1983 से 1991 के बीच उन्होंने 69 मैचों में 342 विकेट लिए, जो कि किसी भी गेंदबाज के मुक़ाबले सबसे ज्यादा विकेट है। इस अवधि में वेस्टइंडीज गेंदबाजों द्वारा लिये गए विकटों में से उन्होंने 31.3 फीसदी विकेट लिये। जिन टेस्ट मैचों में टीम को जीत मिली है उसमें सिर्फ [[मुथैया मुरलीधरन]] की औसत ही मैलकम से कम है।<ref>{{cite web|first1=एस|last1=राजेश|title=First among equals|trans_title=समान में सबसे बढ़िया|url=http://www.espncricinfo.com/magazine/content/story/467807.html|accessdate=19 अगस्त 2017|language=अंग्रेजी|date=18 जुलाई 2010|publisher=ईएसपीएन क्रिकइन्फो}}</ref>
मैल्कम ने 1978-79 में भारत के खिलाफ अपनी पहली टेस्ट सीरिज में 3 मैच में मात्र 3 विकेट लिये। उसके बाद उन्हें 1980 में ही दोबारा खेलने का मौका मिला। वेस्टइंडीज टीम में [[जोएल गार्नर]], [[एंडी रॉबर्ट्स]], [[कॉलिन क्रॉफ्ट]], [[माइकल होल्डिंग]] जैसे सफल गेंदबाज मौजूद थे। इस कारण उन्हें अनियमित रूप से खेलने का ही मौका मिलता था। 1982 तक उन्होंने 12 टेस्ट खेलकर 31.88 की औसत से 34 विकेट लिए थे। यह आकड़े साधारण थे। 1982 में उन्होंने 22 मैचों की चैम्पियनशिप में हैम्पशायर के लिए 134 विकेट लिए। उसके बाद उन्हें [[भारतीय क्रिकेट टीम का वेस्टइंडीज दौरा 1982-83|1983 के भारतीय टीम के वेस्टइंडीज दौरे]] पर टीम में चुन लिया गया। उन्होंने इस श्रृंखला में 21 विकेट लिये। फिर अगले [[वेस्ट इंडीज क्रिकेट टीम का भारत दौरा 1983-84|भारत दौरे]] पर उन्होंने 5 टेस्ट में 33 विकेट लिये। वेस्टइंडीज ने टेस्ट श्रृंखला 3-0 से और वनडे 5-0 से जीती थी। फिर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ घरेलू मैदानों पर उन्होंने 21 विकेट लिये। 1984 में इंग्लैंड में 24 विकेट लिये। वहाँ [[हेडिंग्ले स्टेडियम|हेडिंग्ले]] में [[क्षेत्ररक्षण (क्रिकेट)|क्षेत्ररक्षण]] करते हुए उनके बाएँ हाथ का अंगूठा टूट गया था। वह फिर भी बल्लेबाजी करने आए और इतने समय तक टिके रहे कि [[लैरी गोम्स]] ने अपना शतक पूरा कर लिया। फिर गेंदबाजी करके उन्होंने 53 रन देकर 7 विकेट भी लिये। यह उनके सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शनों में से एक गिना जाता है।<ref>{{cite web|title=Obituary: Malcolm Marshall|trans_title=मृत्युलेख: मैल्कम मार्शल|url=http://www.independent.co.uk/arts-entertainment/obituary-malcolm-marshall-1123699.html|publisher=द इंडिपेंडेंट|accessdate=28 अगस्त 2017|language=अंग्रेज़ी|date=6 नवम्बर 1999}}</ref>
 
गार्नर और होल्डिंग के सन्यास लेने के बाद 1988 तक [[कोर्टनी वॉल्श]] और [[कर्टली एम्ब्रोस]] उनके अन्य महत्वपूर्ण गेंदबाज साथी बन चुके थे। इस कारण उनका कार्य भार उनके पूरे करियर में कम ही था।<ref>{{cite web|first1=माइक|last1=सेलवे|title=The epitome of fast bowling|trans_title=तेज गेंदबाजी का प्रतीक|url=http://www.espncricinfo.com/magazine/content/story/467701.html|accessdate=19 अगस्त 2017|language=अंग्रेजी|date=19 जुलाई 2010|publisher=ईएसपीएन क्रिकइन्फो}}</ref> फिर भी 1983 से 1991 की अवधि में उनके नाम 69 मैचों में 342 विकेट है, जो कि किसी भी गेंदबाज के मुक़ाबले सबसे ज्यादा विकेट है। इस अवधि में वेस्टइंडीज गेंदबाजों द्वारा लिये गए विकटों में से उन्होंने 31.3 फीसदी विकेट लिये। 1982-83 से लेकर 1985-86 की तीन साल की अवधि के लिए वह सबसे अच्छे गेंदबाज थे। उस अवधि में उन्होंने लगातार सात श्रृंखलाओं में 21 या उससे अधिक विकेट लिए, जिसमें से अंतिम पाँच में उनकी [[गेंदबाज़ी औसत]] 20 से कम रही। जिन टेस्ट मैचों में टीम को जीत मिली है उसमें सिर्फ [[मुथैया मुरलीधरन]] की औसत ही मैलकम से कम है।<ref>{{cite web|first1=एस|last1=राजेश|title=First among equals|trans_title=समान में सबसे बढ़िया|url=http://www.espncricinfo.com/magazine/content/story/467807.html|accessdate=19 अगस्त 2017|language=अंग्रेजी|date=18 जुलाई 2010|publisher=ईएसपीएन क्रिकइन्फो}}</ref>
1977/78 से 1995/96 तक उन्होंने 408 [[प्रथम श्रेणी क्रिकेट|प्रथम श्रेणी]] मैच खेलें थे। जिसमें उन्होंने 19.10 की औसत से 1651 विकेट लिये। 1978 से 1991 तक चले अपने अंतर्राष्ट्रीय करियर के 81 टेस्ट मैचों में उन्होंने 20.94 की औसत से 376 विकेट लिये। उन्होंने 136 [[एक दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय]] भी खेलें थे जिसमें उन्होंने 26.96 की औसत से 157 विकेट लिये।<ref>{{cite web|title=मैलकम मार्शल|url=http://www.espncricinfo.com/westindies/content/player/52419.html|publisher=ईएसपीएन क्रिकइन्फो|accessdate=13 अगस्त 2017}}</ref>
 
कुल मिलाकर 1977/78 से 1995/96 तक उन्होंने 408 [[प्रथम श्रेणी क्रिकेट|प्रथम श्रेणी]] मैच खेलें थे। जिसमें उन्होंने 19.10 की औसत से 1651 विकेट लिये। मैलकम [[हैम्पशायर काउंटी क्रिकेट क्लब]] की तरफ से 1979 से 1993 तक खेलतें थे। उन्होंने [[काउंटी चैम्पियनशिप]] में 800 से अधिक विकेट लिये और हैम्पशायर को [[लिस्ट ए क्रिकेट]] की प्रतियोगिता [[बेन्सन और हैजेस कप]] को जीतने में मदद की।<ref>{{cite web|title=Sport: Cricket legend Malcolm Marshall dies|trans_title=खेल: क्रिकेट के दिग्गज मैलकम मार्शल की मौत|url=http://news.bbc.co.uk/1/hi/sport/cricket/505421.stm|publisher=[[बीबीसी]]|accessdate=28 अगस्त 2017|language=अंग्रेज़ी|date=5 नवम्बर 1999}}</ref> 1978 से 1991 तक चले अपने अंतर्राष्ट्रीय करियर के 81 टेस्ट मैचों में उन्होंने 20.94 की औसत से 376 विकेट लिये। 1998 में कोर्टनी वॉल्श ने जब तक इससे ज्यादा विकेट नहीं ले लिये थे। तब तक ये किसी भी वेस्टइंडीज गेंदबाज द्वारा लिये गए सबसे ज्यादा विकेट थे। वह निचले क्रम के कुशल बल्लेबाज थे और उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में 10 अर्ध शतक भी लगाए।<ref>{{cite web|title=Malcolm Marshall|trans_title=मैल्कम मार्शल|url=https://www.britannica.com/biography/Malcolm-Marshall|publisher=[[ब्रिटैनिका विश्वकोष]]|accessdate=28 अगस्त 2017|language=अंग्रेज़ी}}</ref> मैलकम एक दिवसीय क्रिकेट में कम सफल रहे। उन्होंने 136 [[एक दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय]] भी खेलें थे जिसमें उन्होंने 26.96 की औसत से 157 विकेट लिये।<ref>{{cite web|title=मैलकम मार्शल|url=http://www.espncricinfo.com/westindies/content/player/52419.html|publisher=ईएसपीएन क्रिकइन्फो|language=अंग्रेज़ी|accessdate=13 अगस्त 2017}}</ref>
==सन्दर्भ==
{{Reflist}}
 
==इन्हें भी देखें==
* [[क्लाइव लॉयड]], वेस्टइंडीज के 1984 तक कप्तान
* [[विव रिचर्ड्स]], 1984 से 1991 तक कप्तान
 
==सन्दर्भ==
{{Reflist}}
 
[[श्रेणी:1958 में जन्मे लोग]]