मुख्य मेनू खोलें

बदलाव

18 बैट्स् जोड़े गए ,  2 वर्ष पहले
; आईसी द्वारा प्रसंस्कृत संकेत के आधार पर-
एकीकृत परिपथों को उनके अन्दर के परिपथ की प्रकृति के आधार पर तीन भागों में बांटा जाता है-
* '''एनालॉग आईसी''' (Analog IC) - जिनका परिपथ किसी एनालॉग प्रकृति के काम के लिये बना होता है। जैसे '''uA741''' ([[आपरेशनल एम्प्लिफायर]]) एक एनालॉग आईसी है।
 
* '''डिजिटल आईसी''' (Digital IC) - जिनका परिपथ आंकिक प्रकृति का होता है। सभी लॉजिक आईसी, माइक्रोप्रोसेसर, डीएसपी आदि डिजिटल आईसी है।
 
* '''मिश्रित संकेत आईसी''' (Mixed signal IC) - इन एकीकृत परिपथों पर एनॉलॉग और डिजिटल दोनो ही परिपथ मौजूद होते हैं। उदाहरण के लिये कुछ माइक्रोकन्ट्रोलरों पर दोनो तरह के परिपथ होते हैं। एडीसी (ADC) तथा डीएसी (DAC) के एकीपरि (एकीकृत परिपथ) इस श्रेणी में आते हैं।
 
; ट्रांजिस्टरों की संख्या के आधार पर-