"सूर्य नमस्कार" के अवतरणों में अंतर

सूर्य नमस्कार में '''बारह''' [[मंत्र]] उचारे जाते हैं। प्रत्येक मंत्र में सूर्य का भिन्न नाम लिया जाता है। हर मंत्र का एक ही सरल अर्थ है- '''सूर्य को (मेरा) नमस्कार है'''। सूर्य नमस्कार के बारह स्थितियों या चरणों में इन बारह मंत्रों का उचारण जाता है।
 
ॐ मित्राय नमः।<br>
ॐ रवये नमः।<br>
ॐ सूर्याय नमः।<br>
ॐ भानवे नमः।<br>
ॐ खगाय नमः।<br>
ॐ पूष्णे नमः।<br>
ॐ हिरण्यगर्भाय नमः।<br>
ॐ मरीचये नमः।<br>
ॐ आदित्याय नमः।<br>
ॐ सवित्रे नमः।<br>
ॐ अर्काय नमः।<br>
ॐ भास्कराय नमः।<br>
 
== आसन ==
24

सम्पादन